तेजस्वी का विरोधियों को जवाब-केवल कवर देखकर किताब की पहचान नहीं होती

बिहार : तेजस्वी ने 4 ट्वीट कर विरोधियों को दिया जवाब
पटना, 21 नवंबर। पहली बार विधायक बने राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के प्रमुख लालू प्रसाद के छोटे बेटे तेजस्वी प्रसाद यादव ने अपने उन विरोधियों को कड़ा जवाब दिया है, जो उनको बिहार का उपमुख्यमंत्री बनाए जाने की यह कहकर आलोचना कर रहे हैं कि तेजस्वी की न उम्र है, न तजुर्बा।

तेजस्वी ने आज ट्वीट कर अपने विरोधियों को जवाब दिया, “केवल कवर देखकर किताब की पहचान नहीं होती।”
तीन और ट्वीट कर उन्होंने विरोधियों को जवाब दिया।
पहला ट्वीट : “किसी को भी किताब की परख कवर पेज से नहीं करनी चाहिए। मीठे शरबत और कड़वी दवाई का असली फायदा वक्त के साथ पता लगता है।”
दूसरा ट्वीट : “मैं ब्रांड बिहार का वैल्यू बढ़ाने और राज्य के विकास में कोई कसर नहीं छोड़ूंगा, ताकि नीतीश कुमार को भी मुझे सहायक बनाने पर गर्व हो।”
तीसरा ट्वीट : “बिहार कैबिनेट में युवाओं के जोश को अनुभवी मुख्यमंत्री द्वारा सही तरीके से उपयोग किया जाएगा, जिससे बिहार की जनता और राज्य का फायदा हो।”
चौथा ट्वीट : “पूर्वाग्रही और स्वार्थी लोग भले ही निंदा करें, लेकिन बिहार की जनता जिसने युवाओं पर भरोसा किया है, उसे इसका लाभ जरूर मिलेगा।”

I will leave no stone unturned for development & to increase the value of Brand Bihar,so that @NitishKumar can be proud of me as his deputy
— Tejashwi Yadav (@yadavtejashwi) November 21, 2015

No one should try judging a book by its cover. Potential, like sweet nectar & bitter medicine takes time to show its real benefit.

— Tejashwi Yadav (@yadavtejashwi) November 21, 2015

 

Rest assured that vigor & liveliness of youth in Bihar Cabinet will be ably guided n utilized by tested CM, for the welfare of ppl of Bihar

— Tejashwi Yadav (@yadavtejashwi) November 21, 2015

Cynic, biased ones with vested interest will always be dismissive but stakeholders-people of Bihar-will reap fruits trust shown in youth
— Tejashwi Yadav (@yadavtejashwi) November 21, 2015

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: