दुनियादेशमनोरंजनराजनीतिसमाचारसामान्य ज्ञान/ जानकारी

10 मई-आज ही फूंका गया था प्रथम स्वतंत्रता संग्राम का बिगुल

India news in Hindi

10 मई-आज ही नेल्सन मंडेला दक्षिण अफ़्रीका के पहले अश्वेत राष्ट्रपति बने

10 मई- मशहूर उर्दू शायर कैफ़ी आज़मी का निधन हुआ था
10 मई- इतिहास के झरोखे में आज का दिन
DBLIVE | 10 May | Taarikh Gawah Hai

10 मई, 1526 में पानीपत की पहली लड़ाई में जीत के बाद बाबर ने तत्कालीन भारत की राजधानी अकबराबाद (आगरा) में प्रवेश किया था। इस युद्ध में लूटे गए धन को बाबर ने अपने सैनिक अधिकारियों, नौकरों और सगे संबंधियों में बांट दिया और इसी बंटवारे में हुमायूं को वह कोहिनूर हीरा प्राप्त हुआ, जिसे ग्वालियर नरेश ‘राजा विक्रमजीत’ से छीना गया था।

10 मई  1857 में मेरठ में भारतीय सैनिकों ने ब्रिटिश हुकूमत के ख़िलाफ़ विद्रोह किया था। मेरठ से विद्रोह शुरू होने के बाद यह दिल्ली, पटना और झांसी तक फैला और इसमें सैनिकों के अलावा रजवाड़े, किसान, तालुकदार, और बुद्धिजीवी वर्ग भी शामिल हुए। ब्रिटिश सरकार को इस विद्रोह को दबाने में एक साल लग गया था।

10 मई 1905 में बांग्ला और हिन्दी फ़िल्मों के प्रसिद्ध गायक, संगीतकार और अभिनेता पंकज मलिक का जन्म हुआ था। फ़िल्मों में योगदान के लिए पंकज को पद्मश्री और दादा साहब फाल्के पुरस्कार से सम्मानित किया गया है।

10 मई 1994 में नेल्सन मंडेला दक्षिण अफ़्रीका के पहले अश्वेत राष्ट्रपति बने थे और पहली बार दक्षिण अफ़्रीका में लोकतांत्रिक तरीक़े से चुनाव भी हुआ था।

10 मई  2002 में मशहूर उर्दू शायर कैफ़ी आज़मी का निधन हुआ था।

कैफ़ी आज़मी ने काग़ज़ के फूल, हकीकत, हिन्दुस्तान की कसम, हंसते जख्म, आख़िरी ख़त और हीर-रांझा जैसी फ़िल्मों में कई सुपरहिट गाने लिखे हैं। इन्हें साहित्य अकादमी और राष्ट्रीय फ़िल्मफेयर पुरस्कार से नवाज़ा गया।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: