ईश मिश्र
ईश मिश्र

Emailmishraish@gmail.com
twitter

Ish Mishra Associate Professor Dept. of Political Science Hindu College, University of Delhi Delhi

संवेदनाओं का कब्रिस्तान बन गई है हमारी बुतपरस्त-मुर्दा परस्त अंतरात्मा
इतिहास का पुनर्मिथकीकरण  यानी इतिहास लिखना अब इतिहासकारों का नहीं सरकार का काम है
क्या है राष्ट्रवाद और राष्ट्र-द्रोह  क्यों हत्या का उत्सव मनाते हैं हिंदुत्व मार्का गोरक्षक राष्ट्रभक्त
धर्म कोई शाश्वत विचार नहीं ऐतिहासिक रूप से धर्म शासक वर्ग का प्रभावी औजार रहा है
कोबाड गांधी  और बना लिया कलम को जंग-ए-आजादी का हथियार
मर्दवाद जेंडर न तो जीववैज्ञानिक प्रवृत्ति है न ही कोई शाश्वत विचार
का रे पगला न्यूटनवा भगवानौ से बड़ा है का
जनविहीन जनतंत्र  उदारवादी जनतंत्र से जन वैसे ही गायब है जैसे प्लेटो की रिपब्लिक से पब्लिक
व्यक्तिगत आज़ादी का विरोधी नहीं मार्क्सवाद
chhattisgarh nationality movement and the oppressed