पुष्परंजन
पुष्परंजन

Emaileditor@deshbandhu.co.in
twitter

पुष्परंजन, लेखक वरिष्ठ पत्रकार व स्तंभकार हैं।

संविधान को ही सबसे बड़ा झूठ बताने वाला योगी आदित्यनाथ देशद्रोही क्यों नहीं
वो अवध के आखिरी नवाब थे  भिखारी हो गए दिल्ली में लावारिस मर गए
केजरीवाल की खांसी तो ख़त्म हो गयी अब दिल्ली वाले खांस रहे हैं
बूढ़े हो चुके इस बाघ का नाम है चंचल सिंह जिनके पेशाब से लंका से लेकर काशी के हर कोने तक दिया जलता था
एनजीटी के चंद सदस्यों का कंधा और मोदी सरकार की बंदूक  क्यों और कैसे
राम मंदिर से भी बड़ा है हिंदू राष्ट्र का ब्रह्मास्त्र क्या rss योगी को मोदीका विकल्प गढ़ रहा है
शनि से डरकर हुआ मोदी मंत्रिमंडल का विस्तार
बाबा के आगे बेबस सरकार  ये रिश्ता क्या कहलाता है
क्या दलाई लामा बदल चुके हैं तिब्बत आंदोलन में सीआईए को अब दिलचस्पी क्यों नहीं
मार्गदर्शक मंडल को ‘मूकदर्शक मंडल’ बना रखा है मोदी-शाह की जोड़ी ने