राजेंद्र शर्मा
राजेंद्र शर्मा

Emailrajendra1.sharma@gmail.com
twitter

राजेंद्र शर्मा, लेखक वरिष्ठ पत्रकार व हस्तक्षेप के सम्मानित स्तंभकार हैं। वह लोकलहर के संपादक हैं।

फिर चुनाव के लिए मंदिर जाप जनता के बीच काम करता नजर नहीं आ रहा भाजपा का पैंतरा
बुरी तरह घिर गए हैं मोदी-शाह भाजपा और आरएसएस बचाने में जुटे
क्या 2019 में 1996 दोहराया जाएगा
फिर मंदिर राग यानी असत्य का अट्टहास
राम मंदिर  फिर बेतलवा डाल पर 2012 के बाद नींद से जागे भागवत को मंदिर याद आया
सबरीमाला  उच्चतम न्यायालय का फैसला तो बहाना है एलडीएफ का शासन असली निशाना है
भागवत की कक्षा या आरएसएस के मेक-ओवर की कसरत
गांधी को मूर्ति में दफन करने का खेल  हिंदू राष्ट्र के सेनानियों को गांधी ही अपने लक्ष्य के रास्ते की सबसे बड़ी जन-बाधा लगते थे      
आखिर सुप्रीम कोर्ट को संविधान का अंतिम रखवाला यूं ही नहीं कहा जाता
अटल बिहारी वाजपेयी और आरएसएस की मुखौटे की खोज