more info
Breaking News
Home / Author Archives: हस्तक्षेप
image_pdfimage_print

Author Archives: हस्तक्षेप

एम एम कलबुर्गी की हत्या अभिव्यक्ति की आजादी पर सीधा हमला – आइपीएफ

आल इंडिया पीपुल्स फ्रंट

एम एम कलबुर्गी के हत्यारों को तत्काल गिरफ्तार किया जाए – प्रो क़मर जहां लखनऊ। जानेमाने प्रगतिशील विद्वान, साहित्य एकेडमी पुरस्कार से सम्मानित, पूर्व कुलपति एवं कन्नड़ लेखक एम एम कलबुर्गी की कर्नाटक के धारवाड़ में उनके धर पर आरएसएस से जुड़े बजरंग दल के लोगों द्वारा की गयी हत्या की आल इण्डिया पीपुल्स फ्रंट (आइपीएफ) की प्रदेश अध्यक्ष एवं ...
Read More »

गैरक़ानूनी और दुर्भाग्यपूर्ण है औरंगज़ेब रोड का नाम बदलकर डा. कलाम के नाम पर रखना

Aurangzeb Road

नई दिल्ली। सोशल डेमोक्रेटिक पार्टी ऑफ इंडिया एसडीपीआई ने औरंगज़ेब रोड का नाम बदलकर डा. कलाम के नाम पर रखे जाने को गल़त और गैरक़ानूनी के साथ दुर्भाग्यपूर्ण भी बताया है। पार्टी के दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष एडवोकट असलम ने कहा कि इस मामले में ना तो किसी इस्लामिक विद्वान से विचार विमर्श किया गया नाही नाम बदलने से पहले किसी ...
Read More »

अखिलेश यादव के नेतृत्व में किसानों पिछड़ों, गरीबों व गांव का भरपूर विकास-गोप

आल मीडिया एंड जर्नलिस्ट एसोसिएशन द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में अम्बेडकर महासभा के सभागार में स्वर्गीय नरेश चन्द्र श्रीवास्तव की 9 वीं पुण्यतिथि पर आयोजित एक महत्वपूर्ण परिचर्चा “ग्रामीण विकास और हम” में श्री गोप

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के ग्रामीण विकास मंत्री अरविन्द सिंह गोप ने कहा है कि मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के नेतृत्व में प्रदेश के किसानों पिछड़ों, गरीबों व गांव का भरपूर विकास किया जा रहा है। आल मीडिया एंड जर्नलिस्ट एसोसिएशन द्वारा आयोजित एक कार्यक्रम में अम्बेडकर महासभा के सभागार में स्वर्गीय नरेश चन्द्र श्रीवास्तव की 9 वीं पुण्यतिथि पर आयोजित एक ...
Read More »

बाराबंकी के थाने में दलित युवक की हत्या सपा की सामंती, आपराधिक राजनीति का नतीजा- रिहाई मंच

Rihai Manch

देवा थाने में दलित युवक की हत्या पर पुलिस पर दर्ज हो मुकदमा हो घटना की उच्चस्तरीय जांच लखनऊ, 31 अगस्त 2015। रिहाई मंच ने बाराबंकी जिले की देवा कोतवाली में बंद दलित युवक सुभाष राजवंशी की मौत को हत्या करार देते हुए आरोपी थाना प्रभारी जेपी यादव सहित ड्यूटी पर मौजूद पुलिस वालों को तत्काल बर्खास्त करते हुए हत्या ...
Read More »

डॉ. एमएम कलबुर्गी की हत्‍या के विरोध में एकजुट हों

MM Kalburgi

”पहले यूआर अनंतमूर्ति थे, अब एमएम कलबुर्गी हैं। हिंदुत्व का मज़ाक उड़ाओ और कुत्ते की मौत मरो। डियर, केएस भगवान अब आपकी बारी है।’’ बजरंग दल के एक प्रमुख नेता भुवित शेट्टी द्वारा किया गया यह ट्वीट है। यह ट्वीट काफी है यह दर्शाने को कि पिछले एक साल में हमें लोकतंत्र के किस अंधे गलियारे में फेंक दिया गया ...
Read More »

राष्ट्रीय संस्कृति का प्रश्न ?

Opinion

संस्कृति का मतलब मोटे तौर पर जीवन शैली से है। राष्ट्र संस्कृति का मतलब राष्ट्र के लोगों का रहन – सहन खान – पान, पहनावा – ओढ़ावा आचार – विचार बोली – भाषा, नाच – गाना, आदत – प्रवृति आदि की तथा सामाजिक पारिवारिक सम्बन्धों अभिव्यक्तियों की समग्र जीवन शैली से है। यह जीवन शैली किसी राष्ट्र के विभिन्न धर्मों, ...
Read More »

औरंगजेब कोई घासी राम कोतवाल नहीं है, वह मुगल सल्तनत का एक प्रमुख सम्राट था

Aurangzeb Road

औरंगजेब के बहाने                 कट्टर हिन्दूवादी बड़े खुश हैं कि दिल्ली की एक सड़क का नाम औरंगजेब रोड से बदल कर ए0पी0जे0 अब्दुल कलाम के नाम पर रख दिया गया है। सबसे पहले मैं ‘‘कट्टर हिन्दूवादी’’ वाक्यांश उद्बोधन पर हिन्दू मित्रों से माफी चाहूँगा। किन्तु क्या करूँ मजबूरी है। हिन्दू धर्म का कट्टरता से कोई लेना देना नहीं था, किन्तु ...
Read More »

फिल्मों में ज़्यादातर बेहतरीन लोरियाँ पुरुष आवाज़ में हैं

फिल्मों में ज़्यादातर बेहतरीन लोरियाँ पुरुष आवाज़ में हैं

दो लोरियाँ इन दस दिनों में चैनलों की पुलिसिया और पुलिस कमिशनर से लेकर एस पी – दरोगा की जिला संवाददाता टाइप भूमिका के अलावा बहुत बढ़िया संगीत भी सुना……… दो पेन ड्राइव में पांच सौ गाने……… चार सौ कैसेट बोर में पड़े हैं ……. सोनी नाम के उस डिब्बे को उनसे कोई लगाव नहीं रह गया है …… पेन ...
Read More »

कनहर परियोजना एवं भू-अधिग्रहण- मिर्ज़ापुर जेल से रोमा की पाती

रोमा मलिक कस्टडी में

उ0प्र0 के जिला सोनभद्र की तहसील दुद्धी में कनहर नदी पर बनाये जा रहे बांध को लेकर आस-पास के ग्रामीण क्षेत्रों में तीव्र आन्दोलन चल रहे हैं। लेकिन इस बांध को बनाने से उपजे सवाल व गांव में अवैध भू-अधिग्रहण को लेकर सरकार द्वारा ग्रामीणों से बातचीत करने के बजाय जो दमन का रास्ता जिला प्रशासन/सरकार द्वारा अपनाया गया है, ...
Read More »

सामंती ताकतों के ’हरम’ में फंसती पंचायतें

News from states

उत्तर प्रदेश में आने वाले कुछ ही दिनों में ग्राम और जिला पंचायत के चुनाव होने वाले हैं। प्रशासनिक मशीनरी जहां निर्वाचन क्षेत्रों के आरक्षण, परिसीमन तथा मतदाता सूची के संशोधन के काम में दिन-रात लगी हुई है वहीं दूसरी ओर, कई प्रत्याशियों द्वारा चुनाव प्रचार पूरी भव्यता से शुरू किया जा चुका है। सोशल मीडिया, एसएमएस, व्यक्तिगत संपर्क के ...
Read More »

मशहूर कन्नड़ विद्वान एम.एम.कलबुर्गी की हत्या, हिंदुत्ववादी आतंकवाद ने ली बलि

MM Kalburgi

नई दिल्ली। कर्नाटक के धारवाड़ में मशहूर कन्नड़ विद्वान और हंपी विश्वविद्यालय के पूर्व कुलपति एम.एम.कलबुर्गी की रविवार को गोली मारकर हत्या कर दी गई। हत्यारे ने दिनदहाड़े उनके घर पर उन्हें गोली मारी। कलबुर्गी 77 साल के थे। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक धारवाड़ के पुलिस आयुक्त रवि प्रसाद ने बताया कि हमलावर ने कलबुर्गी को कल्याण नगर इलाके में ...
Read More »

जिस दिन bitv छोड़ कर सहारा की ओर चला तो ऐसा लग रहा था जैसे किसी मैयत में जा रहा हूँ

Media

हमारे टीवी चैनल पिछले दस दिन सिर्फ टीवी के सामने गुज़रे, बहुत दिन बाद टीवी से इस कदर जुड़ा। …… टीवी न्यूज़ पर पहले ही दिन राधे माँ को नाचते गाते और उस भोंडी सूरत वाली पर हर चैनल को गाल बजाते देखा। … पर बेचारी की किस्मत खराब निकली, क्योंकि एकाएक छा गयी इन्द्राणी मुखर्जी और राधे माँ को ...
Read More »

जनगणना के आंकड़े और सांप्रदायिक खेल

Indian Muslims

जनगणना के आंकड़े और सांप्रदायिक खेल संघ-भाजपा की नरेंद्र मोदी सरकार ने अब जनगणना के आंकड़ों को भी अपने सांप्रदायिक खेल की गोटी बना दिया है। मंगलवार, 25 अगस्त की शाम अचानक जिस तरह से 2011 की जनगणना के धार्मिक समुदायवार आंकड़े जारी किए गए, उसके तरीके और टाइमिंग दोनों से, इन आंकड़ों के सांप्रदायिक इस्तेमाल की आशंकाओं को ही ...
Read More »

सूखे से निपटने कदम उठाए सरकार-माकपा

CPI(M) .

रायपुर। मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी ने छत्तीसगढ़ में भयंकर सूखे की स्थिति पर चिंता व्यक्त करते हुए मांग की है कि मनरेगा में ग्रामीणों को व्यापक पैमाने पर काम दिया जाएं, किसानों द्वारा उत्पादित फसल को 300 रूपये बोनस के साथ न्यूनतम समर्थन मूल्य पर खरीदा जाएं, सभी परिवारों को राशन प्रणाली के जरिये 35 किलो प्रति माह अनाज दिया जाएं ...
Read More »

क्या कहते हैं जनगणना के धार्मिक आंकड़े-फर्जी आतंक पैदा करनेवालों पर नकेल

Subhash Gatade is a well known journalist, left-wing thinker and human rights activist. He has been writing for the popular media and a variety of journals and websites on issues of history and politics, human right violations and state repression, communalism and caste, violence against dalits and minorities, religious sectarianism and neo-liberalism, and a host of other issues that analyse and hold a mirror to South asian society in the past three decades. He is an important chronicler of our times, whose writings are as much a comment on the mainstream media in this region as on the issues he writes about. Subhash Gatade is very well known despite having been published very little in the mainstream media, and is highly respected by scholars and social activists. He writes in both English and Hindi, which makes his role as public intellectual very significant. He edits Sandhan, a Hindi journal, and is author of Pahad Se Uncha Admi, a book on Dasrath Majhi for children, and Nathuram Godse’s Heirs: The Menace of Terrorism in India.Subhash Gatade is a well known journalist, left-wing thinker and human rights activist. He has been writing for the popular media and a variety of journals and websites on issues of history and politics, human right violations and state repression, communalism and caste, violence against dalits and minorities, religious sectarianism and neo-liberalism, and a host of other issues that analyse and hold a mirror to South asian society in the past three decades. He is an important chronicler of our times, whose writings are as much a comment on the mainstream media in this region as on the issues he writes about. Subhash Gatade is very well known despite having been published very little in the mainstream media, and is highly respected by scholars and social activists. He writes in both English and Hindi, which makes his role as public intellectual very significant. He edits Sandhan, a Hindi journal, and is author of Pahad Se Uncha Admi, a book on Dasrath Majhi for children, and Nathuram Godse’s Heirs: The Menace of Terrorism in India.

जनगणना में अल्पसंख्यक -सुभाष गाताडे ‘ लोकप्रिय स्तर पर लोगों के लिए इस हकीकत पर गौर करना या उसे जज्ब़ करना मुश्किल जान पड़ता है जब उन्हें बताया जाता है कि बहुसंख्यक मुस्लिम आबादी वाले इंडोनेशिया की प्रजननक्षमता (कुल प्रजनन क्षमता दर 2.6) की दर बहुसंख्यक हिन्दू आबादी वाले भारत की तुलना में (कुल प्रजनन क्षमता दर 3.2) कम है। ...
Read More »

International Day of the Victims of Enforced Disappearances 30 August

News

“On this international day, I urge all Member States to ratify or accede to the Convention without delay, and I call on the States parties to the Convention to implement it. It is time for an end to all enforced disappearances.” Secretary-General Ban Ki-moon Many victims of enforced disappearances remain in nameless graves. Credit: OHCHR Enforced disappearance has frequently been ...
Read More »

আসুন তাদের লিস্টখানা আরেকবার দেখে নি ফরিদপুরের অরুণ গুহ মজুমদার ভারত থেকে ফিরে সাক্ষাৎকার দিলেন। বললেন- “আমি ন্যায্যমূল্যে বাড়ি বিক্রি করেছি।

Opinion

অবশেষে ফরিদপুরের অরুণ গুহ মজুমদার ভারত থেকে ফিরে সাক্ষাৎকার দিলেন। বললেন- “আমি ন্যায্যমূল্যে বাড়ি বিক্রি করেছি। কেউ আমাকে নির্যাতন করেনি, বরং মুসলিমদের দ্বারা আমি সবর্দা উপকৃত হয়েছি। যারা আমকে পূজি করে অপপ্রচার ও সস্তা গল্প রচনা করছে, নিশ্চয়ই তাদের ভিন্ন কূট উদ্দেশ্য আছে।” ( সূত্র: http://goo.gl/SBY021 ) অরুন গুহ মজুমদারের স্বীকারক্তি হয়ে গেছে। তবে এতদিন যারা বা যাহারা অরুন গুহ ...
Read More »

बलात्कार संस्कृति के धारकों वाहकों की लगायी आग से देश धू-धू जल रहा है।

पलाश विश्वास । लेखक वरिष्ठ पत्रकार, सामाजिक कार्यकर्ता एवं आंदोलनकर्मी हैं । आजीवन संघर्षरत रहना और दुर्बलतम की आवाज बनना ही पलाश विश्वास का परिचय है। हिंदी में पत्रकारिता करते हैं, अंग्रेजी के लोकप्रिय ब्लॉगर हैं। “अमेरिका से सावधान “उपन्यास के लेखक। अमर उजाला समेत कई अखबारों से होते हुए अब जनसत्ता कोलकाता में ठिकाना। पलाश जी हस्तक्षेप के सम्मानित स्तंभकार हैं।

सच मानिये तो अब फिजां त्योहार मनाने की नहीं है। पहले फिजां ठीक कीजिये। गुजरात के एक करोड़ बीस लाख जनसंख्या वाले पाटीदार समाज अपना मुख्यमंत्री, पूर्व मुख्यमंत्री होने के बावजूद आरक्षण चाहिए, तो हिंदू ह्रदय सम्राट के गुजरात पीपीपी माडल से आखिर किस-किसका विकास हुआ, आरक्षण की प्रासंगिकता से बड़ा सवाल यही है कि गुजरात माडल का मुल्क बनाकर ...
Read More »

As per law, name of Aurangzeb Road cannot be changed

Rajindar Sachar Rajindar Sachar is former Chief Justice of the Delhi High Court. He was a member of United Nations Sub-Commission on the Promotion and Protection of Human Rights. He was Chairperson Prime Minister’s High Level Committee On Status of Muslims

New Delhi. Citizens For Democracy has said that as per law, name of Aurangzeb Road cannot be changed. In a joint statement Kuldip Nayar, President of ‘CFD’, Justice Rajindar Sachar (Retd.) Former President PUCL and  N.D. Pancholi Secretary ‘CFD’ said, “Citizens For Democracy, ‘CFD’ in short,  is shocked that the New Delhi Municipal council, NDMC in short, has decided to ...
Read More »

मनरेगा का होगा काम तमाम

Mahatma Gandhi National Rural Employment Gurantee Act, MNREGA

अब यह ‘रघुकुल रीत’ ही बन गई है कि कानून को दरकिनार करो और ‘मन की बात’ करो। जब कोई प्रधानमंत्री ‘मन का राजा’ हो जाता है, तो संसद और संसदीय प्रक्रियाएं किस तरह दरकिनार हो जाती हैं, मनरेगा इसका स्पष्ट उदाहरण है। अब यह ‘रघुकुल रीत’ ही बन गई है कि कानून को दरकिनार करो और ‘मन की बात’ ...
Read More »

काली कमाई से सपा सरकार के मंत्रियों का ‘आज और कल बन-संवर’ रहा है

आल इंडिया पीपुल्स फ्रंट

लोकायुक्त अधिनियम में संशोधन भ्रष्टाचार को बढ़ावा देने के लिए – आइपीएफ समाजवादी सरकार का लोकतांत्रिक-संवैधानिक संस्थाओं और पारदर्शिता में भरोसा नहीं रह गया लखनऊ, 29 अगस्त। आल इण्डिया पीपुल्स फ्रंट (आइपीएफ) ने प्रदेश की अखिलेश सरकार द्वारा लोकायुक्त अधिनियम में संशोधन के जरिए गलत शिकायत पर शिकायतकर्ता के खिलाफ एक लाख रुपए का जुर्माना करने के प्रावधान व चयन ...
Read More »

Beauty & Make Up Tips by Shahnaz Husain

Shahnaz Husain, The author is international repute beauty and hair expert

Beauty & Make Up Tips for Raksha Bandhan   Shahnaz Husain Raksha Bandhan is one of the important festivals, when brothers and sisters celebrate the loving bond between them. Like all festive occasions, girls love to dress up and look their best. It’s a good idea to start following a few beauty tips a few days before, to add a glow ...
Read More »

..............................................