more info
Breaking News
Home / Author Archives: हस्तक्षेप

Author Archives: हस्तक्षेप

भारतीय समाजवाद के पितामह आचार्य नरेंद्र देव

Acharya Narendra Deva

प्रेम सिंह ‘‘समाजवाद का ध्येय वर्गहीन समाज की स्थापना है। समाजवाद प्रचलित समाज का इस प्रकार का संगठन करना चाहता है कि वर्तमान परस्पर विरोधी स्वार्थ वाले शोषक और शोषित, पीड़क और पीडि़त वर्गों का अंत हो जाए; वह सहयोग के आधार पर संगठित व्यक्तियों का ऐसा समूह बन जाए जिसमें एक सदस्य की उन्नति का अर्थ स्वभावतः दूसरे सदस्य ... Read More »

पत्रकार की खाल में (द) लाल पैदा कर रहा मोदी-राज

Modi- media management

नीरज वर्मा 1975 से 1977 तक देश में आपात-काल था। “दबंग” इंदिरा गांधी ने पत्रकारों को झुकने को कहा था, कुछ रेंगने लगे, कुछ झुके और कुछ टूटने के बावजूद झुकने से इंकार कर बैठे। 2014 का नज़ारा कुछ अलग है। भाजपा और आर.एस.एस.के नरेंद्र नरेंद्र मोदी और उनकी टीम दबंगई की जगह भय और अर्थ के ज़रिये कूटनीतिक रवैया ... Read More »

आचार्य नरेंद्रदेव जयंती पर संगोष्‍ठी 30 को

Acharya Narendra Deva

आचार्य नरेंद्रदेव जयंती पर संगोष्‍ठी विषय : आचार्य नरेंद्रदेव और अहिंसा वक्‍ता : अनिल नौरिया (सीनियर फेलो, नेहरू मेमोरियल म्‍यूजियम एंड लायब्रेरी) अध्‍यक्षता : डॉ प्रेम सिंह स्‍थान : गांधी शांति प्रतिष्‍ठान, दीनदयाल उपाध्‍याय मार्ग, नई दिल्‍ली तारीख : 30 अक्‍तूबर 2014 समय : अपराहन 2 बजे आप सादर आमंत्रित हैं।  सुरेंद्र कुमार सचिव, गांधी शांति प्रतिष्‍ठान Read More »

उतने ही खतरनाक हैं अनाकोंडा जितने अमेजन की बहुराष्ट्रीय ईटेलिंग

हरा

पलाश विश्वास गोमुख में रेगिस्तान देखा तो सुंदरलाल बहुगुणा ने चावल खाना छोड़ दिया कि एशिया में चावल अब होंगे नहीं। वे वयोवृद्ध हैं और घटनाक्रम को हूबहू याद नहीं कर सकते। वे लेकिन हमारे मुद्दों को भूले नहीं हैं। पैंतीस साल बाद उन्होंने हमें पहली नजर से पहचान लिया और सारे नारे उन्हें याद हैं। हम उन परिणामों को ... Read More »

लार टपकाते चेहरों को पहचानते हों, तो नाम सार्वजनिक करें

Modi Diwali Milan

अभिषेक श्रीवास्तव आज मैंने प्रधानजी का दिवाली मंगल मिलन वाला पूरा वीडियो तसल्‍लीबख्‍श देखा। एक नहीं, कई बार देखा। करीब पौन घंटे के वीडियो में कुछ जाने-माने लोग हैं, कुछ पहचाने हुए हैं जिनके नाम नहीं पता और अधिकतर अनजान हैं। दो-एक मित्र भी हैं संयोग से। उन्‍हें शायद न पता हो कि उनकी रेंगती हुई बेचैनी एएनआइ के कैमरों ... Read More »

Modi Sarkar- Politics through Culture

MODI

Ram Puniyani The change in the ruling dispensation (May 2014) has more than one aspect which is likely to affect the very social-cultural-political map of India. Narendra Modi won the last elections with an electoral success, 282 seats for BJP, with 31% of votes polled, which is a landmark for a party. There was a meticulous planning to come to ... Read More »

बेशक प्रत्येक संघी दंगाई नही हो परंतु हरेक दंगे में संघी जरूर होता है

Ideas

प्रत्येक संघी दंगाई नही हो परंतु हरेक दंगे में संघी जरूर होता है। आजाद भारत के इतिहास में 1984 के जिस दंगे को कांग्रेस प्रायोजित कहा गया उन दंगों के चल रहे मुकदमों में भी संघ से जुड़े हुए लगभग 45 लोगों की संलिप्तता इसी तथ्य को सिद्ध करती है।

Read More »

सांप्रदायिकता हमारे समाज में निहित है, जो बस किसी एक चिंगारी की बाट जोहती है

Communalism is a threat to democracy

राजीव यादव चुनाव आए और गए पर सवाल उन विवादास्पद सवालों का है जिनसे ‘हेट स्पीच’ के नाम से हम परिचित होते है। हेट स्पीच से हमारा वास्ता सिर्फ चुनावों में ही नहीं होता पर यह जरूर है कि चुनावों के दरम्यान ही उनका मापन होता है कि वो हेट स्पीच के दायरे में है। हम यहां इस पर कतई ... Read More »

Congress brand of secularism needed to be exposed- Brinda Karat

New Delhi. Barely has this government caught its breath that it has started an unrelenting attack on India’s poor said Brinda Karat, CPI-M’s only woman Polit Bureau member in a special interview with Teesta Setalvad, Communalism Combat. The targeted attack on the previous government’s rural employment scheme, MGNREGA by cutting back on its budgetary outlay and the hasty removal of all ... Read More »

KEJRIWAL ASKS HOW WILL BJP FORM GOVT WITHOUT NUMBERS

केजरीवाल कार्टून

New Delhi. Reacting to President Pranab Mukherjee’s nod to Delhi Lieutenant Governor Najeeb Jung for inviting the single largest party BJP to form a government in the national capital, AAP chief Arvind Kejriwal today hit out at the BJP. He took to twitter to oppose the move and also questioned it by saying that he fails to understand that how ... Read More »

Declare J & K Floods National Disaster-CPI(M)

भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी

New Delhi. October 28, A CPI(M) delegation consisting of Sitaram Yechury, Member of Polit Bureau and Leader of CPI(M) Group in Rajya Sabha and Mohd. Yusuf Tarigami, Member of CPI(M) Central Committee and Secretary of Jammu & Kashmir State Committee and Member of Legislative Assembly of Jammu & Kashmir met the Home Minister of India at 3.55 p.m. on Monday ... Read More »

प्रधानमंत्री की पीठ पर मुकेश अंबानी का हाथ!

प्रधानमंत्री की पीठ पर मुकेश अंबानी का हाथ!

अरुण माहेश्वरी प्रधानमंत्री की पीठ पर मुकेश अंबानी का हाथ। इस चित्र पर सब हैरान हैं। कहने के लिये तो वामपंथी शैली में सरकार के नेताओं को अक्सर पूँजीपतियों का दलाल कहा जाता है। इसके बावजूद, पंडित नेहरू से लेकर मनमोहन सिंह तक, यहाँ तक कि राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने भी कभी ऐसा कोई प्रत्यक्ष प्रमाण नहीं दिया, जिससे यह ... Read More »

Return of Barbarianism- Love Jihad or Khap Yuddh

Love,love jihad,

Vidya Bhushan Rawat The brutal killing of three person of a Dalit family in Ahmednagar district of Maharashtra is a reminder of the power of people who want to govern us through domination.  In democracy they say, it is the choice of the people but in India democracy is conveniently being used as a tool to reinforce the primitive barbaric ... Read More »

फारवर्ड प्रेस पर छापा और दुर्गा महिषासुर प्रसंग-क्या कभी उनकी आहत भावनाओं को न्याय मिलेगा?

फारवर्ड प्रेस

संजीव खुदशाह विगत 9 अक्टूबर 2014 को दिल्ली स्थित फारवर्ड प्रेस के कार्यालय में छापा पड़ा। यह छापा किसी दलित बहुजन पत्रिका के कार्यालय में पड़ने वाला पहला छापा है। इसके पहले भी कुछ पत्रिकाओं में छापे पड़े थे लेकिन ये पत्रिकायें दलित बहुजन विचारधारा से प्रेरित नहीं थी। भारत में अब तक सैकड़ों दलित बहुजन या अंबेडकरवादी पत्रिकाएँ निकलती ... Read More »

त्रिलोकपुरी फसाद- निर्दोषों को न्‍याय दिलाएगी सोशलिस्‍ट पार्टी

त्रिलोकपुरी हिंसा

नई दिल्ली। पूर्वी दिल्‍ली के मेहनतकशों के इलाके त्रिलोकपुरी में पुलिस ने, खास तौर पर मुस्लिम समुदाय के, नागरिकों की बेजा धरपकड़ और पिटाई की है। सोशलिस्‍ट पार्टी ने इसके लिए पुलिस प्रशासन की निंदा की है और उन सभी निर्दोष नागरिकों के साथ सहानुभूति का इजहार किया है जिन्‍हें पुलिस ने हिरासत में रखा है। पार्टी प्रवक्ता डॉ. प्रेम ... Read More »

राजनीति की बलिवेदी पर इतिहास की बलि

Mohan Bhagwat

जाति प्रथा का उदय भारत में -राम पुनियानी भारत में सामाजिक न्याय की राह में जातिप्रथा सबसे बड़ी और सबसे पुरानी बाधा रही है। यह प्रथा अभी भी सामाजिक प्रगति को बाधित कर रही है। जातिप्रथा का उदय कैसे, कब और क्यों हुआ, इस संबंध में कई अलग-अलग सिद्धांत हैं। इसी श्रृंखला में सबसे ताजा प्रयास है जातिप्रथा के लिए ... Read More »

हिम्मत है तो मोदी काला धन विदेशों से वापस लाएं वरना इस्तीफा दें

Digvijay Singh

नई दिल्ली। कांग्रेस महासचिव दिग्विजय सिंह ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को चुनौती दी है कि “अगर आप में हिम्मत है तो काला धन विदेशों से वापस लाएं और   जन धन योजना के तहत सभी के खातों में 3-3 लाख रूपए डालें, अन्यथा इस्तीफा दें।” Post by Digvijaya Singh. Read More »

त्रिलोकपुरी हिंसा- दबे पांव दाख़िल हो रहा है दंगा

त्रिलोकपुरी हिंसा

नई दिल्ली। मयूर विहार से सटा त्रिलोकपुरी दिल्ली की मिली-जुली आबादी वाला इलाका है। सांप्रदायिक तनाव की चपेट में आने से पहले यह इलाका बीते साल विधानसभा चुनाव के वक्त सुर्ख़ियों में आया था जब यहाँ के बाशिदों ने आम आदमी पार्टी के टिकट पर खड़े हुए राजू धिंगान को जीत का सेहरा पहनाया। खेल गाँव में चल रही वोटों की ... Read More »

..............................................