देशराजनीतिराज्यों सेलोकसभा चुनाव 2019समाचार

छत्तीसगढ़ में नहीं खुलेगा भाजपा का खाता

छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता (Chhattisgarh Pradesh Congress Committee spokesman) धनंजय सिंह ठाकुर Dhannajay Singh Thakur

छत्तीसगढ़ में 11 लोकसभा सीटों पर कांग्रेस की जीत ऐतिहासिक मतों से होगी…

भाजपा दोबारा सत्ता में आई तो बिक जाएंगे एयर इंडिया, पवन हंस, सहित 35 सरकारी कम्पनियां

रायपुर/21 अप्रैल 2019। छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता (Chhattisgarh Pradesh Congress Committee spokesman) धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा है कि छत्तीसगढ़ में भाजपा का खाता नही खुलेगा। 11 लोकसभा सीटों में कांग्रेस के प्रत्याशियों की ऐतिहासिक जीत होगी। भाजपा के छत्तीसगढ़ प्रभारी अनिल जैन का आज आखिरी प्रेस कॉन्फ्रेंस है, इसके बाद भाजपा के नेताओं को छत्तीसगढ़ आकर झूठ बोलने का मौका नहीं मिलेगा।

श्री ठाकुर ने कहा कि भाजपा सर्वाधिक झूठ बोलने वाली पार्टी है। मोदी-शाह की जोड़ी ने राजनीति की सुचिता को खत्म किया है। जनता भाजपा पर भरोसा नहीं करती है। गिरगिट की तरह रंग बदलने वाले भाजपा नेताओं के बयान का स्तर दिन-ब-दिन गिरा है। राम मंदिर निर्माण धारा 370, 35A भाजपा घोषणा पत्र का हिस्सा ही रहेगा। भाजपा नेता 60 महीने की मोदी सरकार की उपलब्धि बताने में नाकाम रहे हैं। आजादी के बाद जितने भी प्रधानमंत्री हुए हैं उन सब की कोई न कोई उपलब्धि है। मोदी पहले प्रधानमंत्री हैं जिनकी कोई भी उपलब्धि नहीं है।

कांग्रेस नेता ने कहा कि जनता ने जब-जब भाजपा पर भरोसा किया, तब-तब जनता को भाजपा ने धोखा दिया है। कांग्रेस शासनकाल में बने कल कारखानों, सरकारी उपक्रमों को भाजपा सरकारों ने बेचने का काम किया है। पूर्व पीएम अटल बिहारी की सरकार ने बाल्को पेट्रोकेमिकल लिमिटेड विदेश संचार निगम सहित कई ऐसे कंपनियां जो देशहित में काम कर रही थी, उनको मूल लागत से भी कम कीमत में बेच दिया। वहीं 60 महीने की मोदी सरकार ने देश के ऐतिहासिक धरोहर लालकिला सहित पांच बड़े एयरपोर्ट को निजी हाथों में सौंप दिया और आने वाले समय में 35 से अधिक सरकारी कंपनियों को बेचने के लिए नीति तय करके रखी हुई है। जिसमें सरकार ने पहले से ही रणनीतिक बिक्री के लिए लगभग 35-सीपीएसई की पहचान की है। इनमें एयर इंडिया, पवन हंस, बीईएमएल, स्कूटर्स इंडिया, भारत पंप कंप्रेशर्स, और प्रमुख इस्पात कंपनी-‘सेल’ की भद्रावती, सलेम और दुर्गापुर इकाइयां शामिल हैं। जिन अन्य सीपीएसई के एकमुश्त बिक्री के लिए मंजूरी दी गई है, उसमें हिंदुस्तान फ्लोरोकार्बन, हिंदुस्तान न्यूजप्रिंट, एचएलएल लाइफ केयर, सेंट्रल इलेक्ट्रॉनिक्स, ब्रिज एंड रूफ इंडिया, एनएमडीसी का नागरनार इस्पात संयंत्र और सीमेंट कॉर्पोरेशन ऑफ इंडिया और आईटीडीसी की इकाइयां शामिल हैं।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: