लोग कोस रहे हैं/ यह विकृत मानसिकता वालों का कृत्य है/ मगर मै पूछती हूँ क्या केवल यही सत्य है ??

रेप के मौसम नहीं होते.. उम्र-वुम्र ठिकाने भी नहीं... मंदिर-वंदिर, मस्जिद-वस्जिद, घर-रिश्तेदारी, इराने-वीराने किसी भी कारण ..किसी बहाने ..

Read More
kavita Arora डॉ. कविता अरोरा

देश नशे में है .. अफीम की खेती ही फूलेगी फलेगी…तमाशा ख़त्म हुआ ..चलो बजाओ…ताली…

महीनों से चल रहा मेला उखड़ने लगा.. खर्चे-वर्चे, हिसाब-विसाब, नफ़े-नुक़सान के कुछ क़िस्से कौन सा घाट किसके हिस्से... अब बस यही फ़ैसला होगा... बंदर बाट

Read More
Vidya Bhushan Rawat

देश में आग लगाने का षड़यंत्र : पत्रकार जब चारण हो जाए तो समझ लीजिये देश पर संकट है

अंबेडकरवादी मानवाधिकार कार्यकर्ता (Ambedkarwadi human rights activist) विद्या भूषण रावत (Vidya Bhushan Rawat) का यह आलेख "उत्पीड़न की संस्कृति के विक

Read More
Ravish Kumar

मोदी का 10 एकड़ में छपा इंटरव्यू पर तस्वीर पुरानी, रवीश ने कहा इंटरव्यू जमा नहीं

नई दिल्ली, 17 अप्रैल। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister, Narendra Modi) के एक अंग्रेजी अखबार (English newspaper) में प्रकाशित दो पेज के साक्ष

Read More
Story of Comprehensive Editors Zubani of Harivansh महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय हिंदी विश्वविद्यालय, वर्धा में 'पुरोधा संपादकों की कहानी: हरिवंश की जुबानी' कार्यक्रम में व्याख्यान देते हरिवंश। उनके दाएं हैं राजेश लेहकपुरे, प्रो. कृपाशंकर चौबे, प्रो. गिरीश्वर मिश्र, प्रो. कृष्ण कुमार सिंह और प्रो. अरुण कुमार त्रिपाठी।

हरिवंश बोले हमारा देश गंभीर आर्थिक परेशानियों में है आज के पत्रकार देश की आर्थिक स्थिति के बारे में सही बात लिखने से बचते हैं

वर्धा। महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय हिंदी विश्वविद्यालय, वर्धा (Mahatma Gandhi International Hindi University, Wardha) में 'पुरोधा संपादकों की कहानी:

Read More
Journalist Shiv Inder Singh honored with 'Jagjit Singh Anand Award'

पत्रकार शिव इंदर सिंह ‘जगजीत सिंह आनंद पुरस्कार’ से सम्मानित

चंडीगढ़। पंजाबी के नामवर पत्रकार और पंजाबी की लोकप्रिय वेबसाइट (Popular web site of Punjabi) 'सूही सवेर' (Suhi Saver) के मुख्य संपादक शिव इंदर सिंह (S

Read More
Modi go back

मीडिया…म्यांमार, मोदी सरकार और 56 इंच हवा…

मीडिया के मित्रों और भक्तों ने पिछले कुछ महीनों मे जिस तरह से 56 इंची जुमले को हकीकत मे बदलने का बीड़ा उठाया है, उससे मोदी सरकार को इस तरह की शर्मिंद

Read More
Lalit Surjan ललित सुरजन। लेखक वरिष्ठ पत्रकार, स्तंभकार व साहित्यकार हैं। देशबन्धु के प्रधान संपादक

हम जैसे पत्रकारों के लिए यही उचित है कि चुनाव यदि युद्ध है तो वर्तमान सत्ता के विरुद्ध न लिखें

हम जैसे पत्रकारों के लिए यही उचित है कि चुनाव यदि युद्ध है तो वर्तमान सत्ता के विरुद्ध न लिखें ललित सुरजन आसन्न विधानसभा चुनावों के संदर्भ में अन्यत्र

Read More
kavita Arora डॉ. कविता अरोरा

यूँ तो मुझे ….. खुद छूना था उसे … छू ..भी लेती …. पर क्या करूँ ….

डॉ. कविता अरोरा कल शाम छत पर ... बारिशों के रूके पानी में शफ़क घोल रहीं थी अपने रंग ... कि मैंने कलाई थाम लीं ... फँसा दी साँझ की गुलाबी उँगलियों

Read More
Shesh Narain Singh शेष नारायण सिंह

प्रेस की आज़ादी : क्या योगी और वसुंधरा भी प्रधानमंत्री की नसीहत से सबक लेंगे !

पत्रकारिता के बुनियादी सवालों पर नए विचार की ज़रूरत Need a new idea on journalistic fundamental questions शेष नारायण सिंह प्रधानमंत्री नरेंद

Read More
Palash Biswas पलाश विश्वास पलाश विश्वास। लेखक वरिष्ठ पत्रकार, सामाजिक कार्यकर्ता एवं आंदोलनकर्मी हैं । आजीवन संघर्षरत रहना और दुर्बलतम की आवाज बनना ही पलाश विश्वास का परिचय है। हिंदी में पत्रकारिता करते हैं, अंग्रेजी के लोकप्रिय ब्लॉगर हैं। “अमेरिका से सावधान “उपन्यास के लेखक। अमर उजाला समेत कई अखबारों से होते हुए अब जनसत्ता कोलकाता में ठिकाना

यूपी वालों, चाहो तो देश बचा लो! दंगाबाजों को सत्ता से बाहर धकेलो…

नोटबंदी (Demonetization) के खिलाफ राजनीतिक मोर्चाबंदी (Political barricade) का चेहरा ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) का रहा है। नोटबंदी के खिलाफ शुरू स

Read More
Ravish Kumar

डरा हुआ पत्रकार मरा हुआ नागरिक बनाता है

पटियाला हाउस कोर्ट में मारपीट : मुख्य न्यायाधीश के नाम वरिष्ठ पत्रकार रवीश कुमार का खुला खत पटियाला हाउस कोर्ट जैसी घटना से तय करना मुश्किल हो जाए

Read More
Rajendra Mathur राजेंद्र माथुर,

राजेंद्र माथुर ने हाशिमपुरा की खबर क्यों नहीं छापी ?

राजेंद्र माथुर पंजाब में आतंकवाद के दौरान हिंदुवादी नजरिये से काम कर रहे थे। समयांतर के संपादक पंकज बिष्ट के साथ 10-11 दिनों पहले 26 मार्च को विभूति

Read More