Breaking News
Home / समाचार / देश / गुजरात चुनाव : खुल गया मोदी की रैली का कच्चा चिठ्ठा
Amalendu Upadhyaya hastakshep अमलेन्दु उपाध्याय लेखक वरिष्ठ पत्रकार, राजनैतिक विश्लेषक व टीवी पैनलिस्ट हैं।

गुजरात चुनाव : खुल गया मोदी की रैली का कच्चा चिठ्ठा

गुजरात में असली चुनावी दंगल (GujaratElections2017) देखने को मिल रहा है। कल रात कांग्रेस के उम्मीदवारों की तीसरी लिस्ट आने के बाद जहाँ असंतुष्टों का हंगामा शुरू हो गया वहीँ, पीएम मोदी ने चुनावी प्रचार अभियान (gujrat election 2017) में उतरकर कांग्रेस पर ताबड़तोड़ हमले किये.. डोकलाम से लेकर राफेल तक, विकास से लेकर वंशवाद तक, नर्मदा से लेकर कच्छ तक, जीएसटी से लेकर नोटबंदी तक। मतलब ये कि मोदी जी ने खुद पर, उनकी सरकार पर और बीजेपी पर हो रहे हर हमले का जवाब दिया। ऐसा लग रहा था मानों वो पूरी तैयारी के साथ चुनावी रण में उतरे हैं, लेकिन कांग्रेस को हाफिज सईद से जोड़ने का मुख्य मकसद क्या सांप्रदायिक रंग देने की कोशिश है?

चुनावी पंच

दूसरी तरफ खबर ये भी है कि बीजेपी इस बार चुनाव प्रचार में मौलवियों को उतार रही है, जो उत्तर प्रदेश से आ रहे हैं। सूरत में मुस्लिम कार्यकर्ता पहले से ही उतरे हुए हैं। पहले जिन मुस्लिम वोटर्स को वो छूते तक नहीं थे, इस बार उन पर भी नज़रे हैं।

एक तरफ जहाँ, कांग्रेस में टिकट को लेकर असंतोष है.. वहीँ, वोट काटने के लिए नीतीश कुमार गुट की जदयू लगभग 100 सीटों पर चुनाव लगने जा रही है। शंकर सिंह वाघेला भी ऑल इंडिया हिंदुस्तान कांग्रेस पार्टी के चुनाव चिह्न पर उतर रहे हैं,. जो वोट काटने का ही काम करेंगे। उसी तरह आम आदमी पार्टी भी वोट काटेगी। कांग्रेस के लिए तो हर तरफ से चुनौतियाँ होंगी..उसे अभी हर मोर्चे पर जूझना है।

पूर्व मुख्य मंत्री आनंदी बेन पटेल को बीजेपी की तरफ से टिकट नहीं देना, क्या दर्शाता है? हालाँकि उन्होंने चुनाव न लड़ने की घोषणा की थी..लेकिन क्या सब कुछ ठीक नज़र आता है?

तो, हर हथकंडे अपनाने वाली बीजेपी और मोदी जी के सामने कांग्रेस किस प्रकार डटी  रहती है और गुजरात के मतदाताओं को अपने पक्ष में लाने में कितना सफल होती है, ये आने वाला समय बताएगा.. इन्हीं सारे सवालों पर आइए जानते हैं देशबन्धु ऑनलाइन के संपादक अमलेन्दु उपाध्याय से…. देखें ये वीडियो 

Rajeev Ranjan Srivastava



About हस्तक्षेप

Check Also

Mosquito

विश्व मच्छर दिवस 20 अगस्त : एक शार्क मछली 100 सालो में जितने मनुष्यों को मारती है, मच्छर उससे ज्यादा एक दिन में मारते हैं

विश्व मच्छर दिवस 20 अगस्त World Mosquito Day August 20th मच्छर दुनिया के किसी भी …

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: