दुनियादेशराज्यों सेसमाचारस्वास्थ्य

सिगरेट से तीन गुना ज्यादा खतरनाक होती है बीड़ी – डॉ अभिषेक यादव

Cigarette is three times more dangerous than bidi Dr. Abhishek Yadav World No Tobacco Day: How To Quit Tobacco For Good? Top 5 Tips

यशोदा सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल एवं पायल फाउंडेशन ने मिलकर मनाया विश्व तम्बाकू निषेध दिवस

गाजियाबाद, 31 मई, 2019. आज शुक्रवार को कौशाम्बी स्थित यशोदा सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल में विश्व तम्बाकू निषेध दिवस के अवसर पर एक जागरूकता व्याख्यान आयोजित किया गया। कार्यक्रम का शुभारम्भ यशोदा सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल, कौशाम्बी, गाजियाबाद की निदेशक श्रीमती उपाड़ना अरोड़ा ने दीप जला कर किया।

कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए श्रीमती उपाड़ना अरोड़ा ने विश्व तम्बाकू निषेध दिवस को मनाने के साथ ही आम लोगों को तम्बाकू की लत छोड़ने पर जोर दिया।

उन्होंने कहा कि लोग कल की बजाय आज ही तम्बाकू एवं सिगरेट छोड़ें और इस तरह के कार्यक्रम तभी सफल हैं जब लोग जागरूक हों और तम्बाकू एवं तम्बाकू से बने पदार्थों को छोड़ने का प्रण लें।

कार्यक्रम में आस पास की कॉलोनियों के 50 से भी ज्यादा लोगों ने भाग लिया । स्वागत भाषण महाप्रबंधक डॉ सुनील डागर ने दिया।

मुख्य वक्ता आनंद साहू, बोर्ड मेंबर, मिनिस्ट्री ऑफ़ फाइनेंस एंड लेबर, भारत सरकार ने कार्यक्रम के आयोजन पर सभी को बधाई दी ।

Cigarette is three times more dangerous than bidi – Dr. Abhishek Yadav

यशोदा सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल, कौशाम्बी, गाजियाबाद के वरिष्ठ कैंसर रोग विशेषज्ञ डॉ. अभिषेक यादव ने तम्बाकू सेवन से बढ़ती हुई बीमारियों एवं उनके आंकड़ों पर चर्चा की।

डॉ. यादव ने कहा कि बीड़ी सिगरेट से 3 गुना ज्यादा खतरनाक होती है, सिगरेट बीड़ी पीते समय उसके धुएं से टार बनता है जो हमारे फेफड़ों को खराब कर देता है।

यशोदा सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल, कौशाम्बी के मैक्सिलोफासिएल सर्जरी एवं डेंटिस्ट्री कंसलटेंट, डॉ. अनमोल अग्रवाल ने तम्बाकू की वजह से होने वाले मुख एवं दन्त कैंसर (Oral and oral cancer caused by tobacco) के बारे में लोगों को अवगत कराया। उन्होंने बताया कि ई सिगरेट से साथ वाले को तो काम नुकसान होता है, पर पीने वाले को सामन्य सिगरेट से भी ज्यादा नुकसान होता है, क्योंकि यह कंसन्ट्रेटेड फॉर्म में होता है।

आरएचपीसीएल के रीजनल मैनेजर नार्थ जोन श्री कमलेश ने भी लोगों को सम्बोधित किया।

गली पाठशाला अकादमी एन द्वारा एक नाट्य रूपांतर (स्किट) “अभी नहीं तो कभी नहीं” का प्रस्तुतीकरण किया गया।

श्रीमती पायल स्वामी, फाउंडर पायल फाउंडेशन ने सभी को धन्यवाद ज्ञापित कर कार्यक्रम का समापन किया।

व्याख्यान में आये सभी लोगों ने प्रण लिया कि वह तम्बाकू एवं उससे बनी किसी भी चीज का प्रयोग नहीं करेंगे और दूसरों को भी ऐसा करने से रोकेंगे, हर एक व्यक्ति ने एक व्यक्ति को तम्बाकू छुड़वाने का प्रण लिया।

Topics – world no tobacco day essay, world no tobacco day activities, world no tobacco day theme, world no tobacco day 2019 theme, world no smoking day 2019, Oral and oral cancer caused by tobacco.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: