Breaking News
Home / समाचार / देश / राहुल ने खोला मोदी का झूठ, बताया कांग्रेस की “न्याय” कैसे करेगी न्याय
Rahul Gandhi
File photo

राहुल ने खोला मोदी का झूठ, बताया कांग्रेस की “न्याय” कैसे करेगी न्याय

Congress President Rahul Gandhi addressed public meeting in Dholpur, Rajasthan, today.

नई दिल्ली, 29 अप्रैल 2019. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने आज राजस्थान के धौलपुर में एक जनसभा में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हर खाते में 15 लाख रुपए देने के झूठ की परतें उतारते हुए बताया कि कांग्रेस की “न्याय” योजना कैसे न्याय करेगी।

पढ़िए धौलपुर (राजस्थान) में राहुल गांधी का पूरा भाषण, जिसकी स्क्रिप्ट अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के संचार विभाग ने जारी की है।

राहुल गांधी ने जनसभा को संबोधित करते हुए कहा

अविनाश पांडे जी, अशोक गहलोत जी, सचिन पायलट जी, संजय कुमार जी, रमेश मीणा जी, भरोसी लाल जाटव जी,  गिर्राज सिंह मलिंगा जी, रोहित वोरा जी, खिलाड़ी राज जी, पीआर मीणा जी, मोहन प्रकाश जी, ओम प्रकाश जी, साकेत जी, स्टेज पर बैठे कांग्रेस पार्टी के हमारे सब नेता, कांग्रेस के प्यारे कार्यकर्तागण, भाईयो और बहनों, प्रेस के हमारे मित्रों, आप सबका यहाँ बहुत-बहुत स्वागत। इतनी गर्मी में आप आए, दूर-दूर से आप आए मेरी बात सुनने, इसके लिए आप सबको दिल से बहुत-बहुत धन्यवाद और खासतौर से जो महिलाएं आई हैं, आपको कष्ट हुआ, आपको भी बहुत-बहुत धन्यवाद और आप आई हैं, तो मैं अपनी बात आपसे ही शुरु करता हूँ।

पिछले पांच सालों में नरेन्द्र मोदी जी ने लाखों करोड़ रुपए हिंदुस्तान के कुछ सबसे अमीर लोगों के बैंक अकाउंट में डाला है। आपको याद होगा कि नोटबंदी की और आपके घर में से आपका पैसा निकाला और नीरव मोदी, मेहुल चौकसी जैसे लोगों को दिया, आप सिर हिला रही हैं, (महिलाओं को सिर हिलाते हुए देखकर कहा) सही बोल रहा हूँ न मैं, सही बोल रहा हूँ। 5 लाख 55 हजार करोड़ रुपए 15 लोगों को नरेन्द्र मोदी जी ने दे दिए।

अब देखिए, पांच महीने पहले मैंने कांग्रेस के इकॉनमिस्ट्स को बुलाया और उनसे मैंने कहा, देखिए नरेन्द्र मोदी जी ने 15 लाख रुपए हर बैंक अकाउंट में डालने का वायदा किया था और हिंदुस्तान के गरीब लोगों ने सपना देखा कि शायद हमारे बैंक अकाउंट में पैसा भी आ सकता है और इसके बाद धोखा देने के लिए नरेन्द्र मोदी जी ने हिंदुस्तान के गरीब लोगों के बैंक अकाउंट खुलवाए, मगर उसमें नरेन्द्र मोदी जी ने उसमें एक रुपया नहीं डाला, उल्टा आपका पैसा, उसमें से भी काटा।

तो पांच महीने पहले मैंने कांग्रेस के लोगों को बुलाया, मैंने कहा, देखिए, मैं एक बात समझना चाहता हूँ, मैं हिंदुस्तान के गरीब लोगों के बैंक अकाउंट में पैसा डालना चाहता हूँ, मगर यह काम मैं हिंदुस्तान की अर्थव्यवस्था को नुकसान हुए बिना करना चाहता हूँ, तो आप पता लगाइए, स्टडी कराइए, दुनिया के सबसे बेहतरीन इकॉनमिस्ट्स से पूछिए, अगर मैं चाहूं, हिंदुस्तान के हर गरीब व्यक्ति के बैंक अकाउंट में पैसा डालना चाहूँ, तो हिंदुस्तान की सरकार कितना पैसा डाल सकती है? मैं जानता हूँ, 15 लाख रुपया नहीं डाला जा सकता, आप मुझे बताओ कितना डाला जा सकता है, एक शर्त है कि अर्थव्यवस्था को नुकसान नहीं होना चाहिए।

वे लोग कुछ दिन पहले मेरे पास वापस आते हैं, कागज पर उन्होंने एक नंबर लिख दिया, चिदम्बरम जी ने कागज पर एक नंबर लिखा, 72 हजार। मैंने उनसे पूछा कि क्या है ये नंबर, 72 हजार? 72 हजार कितने लोगों को? 72 हजार कितने समय में, 5 साल में, 10 साल में, 15 साल में? चिदम्बरम जी कहते हैं, राहुल जी, हमने पूरी स्टडी करा ली है, दुनिया के सबसे बेहतरीन इकॉनमिस्टस से पूछा है, 72 हजार रुपए एक साल के 25 करोड़ लोगों को, 5 करोड़ परिवारों के खाते में।

अब देखिए, माता जी आप देखिए (एक वृद्ध महिला की ओर इशारा करते हुए), नरेन्द्र मोदी जी ने 15 लाख देने का वायदा किया, झूठ, हमने पता लगा लिया, मैं आपको स्टेज से कहता हूँ, 15 लाख नहीं दिया जा सकता, कुछ भी हो जाए, नहीं दिया जा सकता, क्योंकि अगर 15 लाख दिया गया, तो हिंदुस्तान की अर्थव्यवस्था नष्ट हो जाएगी और गरीबों को ही नुकसान होगा। मगर 72 हजार रुपए साल के, 3 लाख 60 हजार रुपए पांच साल में कांग्रेस पार्टी की सरकार 5 करोड़ परिवारों के बैंक अकाउंट में डालने जा रही है।

अब बात करता हूँ, महिलाओं की, जो मैं पहले करना चाह रहा था, अब यहाँ बहुत सारे पुरुष आए हैं, मैं शुरुआत में ही आपसे माफी मांग रहा हूँ, बाद में गुस्सा मत होना, 5 करोड़ परिवारों के बैंक अकाउंट में पैसा जाएगा, मगर महिलाओं के बैंक अकाउंट में पैसा जाएगा, भाईयो, बाद में मुझसे मत कहना, ये क्या कर दिया, मैं इनके बैंक अकाउंट में, 5 करोड़ महिलाओं के बैंक अकाउंट में 5 साल के 3 लाख 60 हजार रुपए डालने जा रहा हूँ। इसके दो कारण हैं, एक मैं हिंदुस्तान के गरीब लोगों को बताना चाहता हूँ, माताओं-बहनों को बताना चाहता हूँ, कि यहाँ पर दो हिंदुस्तान नहीं बनेंगे, एक हिंदुस्तान होगा। अगर नरेन्द्र मोदी जी, नीरव मोदी, मेहुल चौकसी, अनिल अंबानी के खातों में लाखों करोड़ रुपए डाल सकते हैं, तो कांग्रेस पार्टी 25 करोड लोगों, 5 करोड़ परिवारों के बैंक अकाउंट में लाखों करोड़ रुपए डाल सकती है और डालेगी।

अब भाईयो और बहनों, इससे बहुत जबरदस्त फायदा होने वाला है, सिर्फ उन पांच करोड़ परिवारों को ही नहीं, मगर पूरे हिंदुस्तान को।

मैं थोड़ा सा आपको समझाना चाहता हूँ, जैसे ही नरेन्द्र मोदी जी ने नोटबंदी की, जैसे ही उन्होंने आपके घर में से पैसा निकाला, युवाओं की जेब से पैसा निकाला, छोटे दुकानदारों के घरों से पैसा निकाला, वैसे ही हिंदुस्तान की जनता ने माल खरीदना बंद किया, उसके ऊपर नरेन्द्र मोदी जी ने गब्बर सिंह टैक्स लागू किया। जो पहले आपकी जेब में बचा था नोटबंदी से वो भी निकाल लिया। हिंदुस्तान के लोगों ने माल खरीदना बंद किया, पहले आप पैंट, शर्ट, टुथ पेस्ट, आलू के चिप्स, जो भी खरीदते थे, आपने बंद किया। जैसे ही आपने माल खरीदना बंद किया, वैसे ही हिंदुस्तान की फैक्ट्रियों ने माल बनाना बंद किया, दुकानों ने माल बेचना बंद किया, जैसे ही हिंदुस्तान की फैक्ट्रियाँ बंद हुईं, आपको ही झटका लगा, आपके ही बेटों को, आपकी ही बेटियों को फैक्ट्रियों के मालिकों ने कहा कि तुम यहाँ से परे हो जाओ, तुम्हारी कोई जरुरत नहीं है, हम रोजगार नहीं दे सकते क्योंकि फैक्ट्री बंद हो गई, नरेन्द्र मोदी जी ने नोटबंदी की, लोगों ने माल खरीदना बंद किया और आज 45 साल में सबसे ज्यादा बेरोजगारी हिंदुस्तान में हो गई है।

अब जैसे ही हम ‘न्याय’ योजना देंगे, जैसे ही न्याय योजना चालू होगी, जैसे ही पैसा आपके बैंक अकाउंट में आएगा, उसी दिन आप लोग एक बार फिर माल खरीदना शुरु करोगे, कोई शर्ट खरीदेगा, ये जो हमारी बहनें आई हैं, ये साड़ी खरीदेंगी, कोई जूता खरीदेगा, कोई चप्पल खरीदेगा, साबुन, टूथ पेस्ट, आलू के चिप्स जो भी। जैसे ही आप सामान खरीदना शुरु करोगे, वैसे ही दुकानदारों की दुकान चालू हो जाएंगी, जैसे ही दुकान चालू हो जाएंगी, वैसे ही फैक्ट्रियाँ माल बनाना शुरू करेंगी, वैसे ही आपके बच्चों को उन्ही फैक्ट्रियों में और नई फैक्ट्रियों में रोजगार मिलना शुरु हो जाएगा, ये देखिए, कांग्रेस पार्टी का कमाल।

‘न्याय’ योजना सिर्फ गरीबों की मदद नहीं करेगी, ‘न्याय’ योजना हिंदुस्तान की अर्थव्यवस्था को जंप स्टार्ट करेगी, जैसे ट्रैक्टर में, ट्रक में डीजल डाला जाता है, वैसे ही ‘न्याय’ योजना हिंदुस्तान की अर्थव्यवस्था के इंजन में सीधा डीजल है। ‘न्याय’ योजना के एकदम बाद चाबी घूमेगी और झटके से हिंदुस्तान की अर्थव्यवस्था चालू हो जाएगी, आप सबको फायदा मिलेगा, करोड़ों युवाओं को रोजगार मिलेगा। मगर हम वहाँ नहीं रुकने वाले।

भाईयो और बहनों, आपने नीरव मोदी का नाम सुना है, ललित, (जनता ने कहा, मोदी), नीरव (जनता ने कहा, मोदी), मेहुल, (जनता ने कहा, चौकसी), अनिल (जनता ने कहा, अंबानी), अनिल अंबानी, इनके नाम आपने सुने हैं। लाखों करोड़ रुपए इनका कर्जा माफ किया, अनिल अंबानी को राफेल घोटाले में 30 हजार करोड़ रुपए चौकीदार जी ने दिए।

45 साल में सबसे ज्यादा बेरोजगारी और 22 लाख सरकारी नौकरियाँ खाली पड़ी हैं। भाईयो और बहनों, जैसे ही कांग्रेस की सरकार आएगी, मैं स्टेज से कहता हूँ, दो करोड़ युवाओं को रोजगार मैं आपको यहाँ से वायदा नहीं करूँगा, मैंने ‘न्याय’ योजना की बात बोली, लाखों युवाओं को उससे रोजगार मिलेगा, मगर मैं यहाँ से आपको गारंटी करता हूँ, 22 लाख सरकारी नौकरियाँ एक साल के अंदर कांग्रेस पार्टी आपको दे देगी।

मैं दो करोड़ नहीं बोलूँगा, 22 लाख की सच्चाई बोलूँगा। पंचायतों में 10 लाख युवाओं को रोजगार दिया जा सकता है, 10 लाख युवाओं को हिंदुस्तान की पंचायतों में कांग्रेस पार्टी रोजगार देगी। ये काम किया जा सकता है, हमने आपसे कहा था 10 दिन के अंदर कर्जा माफ होगा और गहलोत जी ने, कमलनाथ जी ने, बघेल जी ने दो दिन के अंदर कर्जा माफ कर दिया, कार्यवाही शुरु कर दी, ऐतिहासिक काम किया।

नरेन्द्र मोदी जी जहाँ भी जाते हैं, झूठ बोलते हैं, उन्होंने कहा था कि किसानों को सही दाम दूँगा, दो करोड़ युवाओं को रोजगार दूँगा, 15 लाख रुपए खातों में डालूँगा, मैं आपसे यहाँ झूठ बोलने नहीं आया हूँ, मैं आपको सीधा बता रहा हूँ, 15 लाख रुपया नहीं दिया जा सकता, 3 लाख 60 हजार रुपए बैंक अकाउंट में जाएंगे, गारंटी मेरी है, पांच करोड़ बैंक अकाउंट में जाएंगे। मैं आपको ये नहीं बोलूंगा दो करोड़ युवाओं को, मैं आपको बोलूँगा, ‘न्याय’ योजना हिंदुस्तान की अर्थव्यवस्था को जंप स्टार्ट करेगी, 22 लाख युवाओं को रोजगार दिया जाएगा, एक साल में। 10 लाख युवाओं को पंचायत में दिया जाएगा, ये मैं आपसे बोल रहा हूँ।

राजस्थान की सरकार, हिंदुस्तान की सरकार, लाखों करोड़ रुपए आपकी शिक्षा में, आपके स्वास्थ्य में, अस्पताल बनाने में, पब्लिक सरकारी अस्पताल बनाने में, सरकारी कॉलेजेज, सरकारी युनिवर्सिटी बनाने में आपका पैसा खर्च करेगी और आप अपने बच्चों को कम से कम पैसे में कॉलेज में, युनिवर्सिटी में, सॉफ्टवेयर इंजीनियर, वकील, डॉक्टर, बना पाएंगे।

स्वास्थ्य के अधिकार की हम बात कर रहे है, मुफ्त में आपको दवाई दी जाएगी, मुफ्त में अस्पतालों में आपका इलाज होगा, डिस्ट्रिक्टस में, ब्लॉक्स में, अस्पताल बनाए जाएंगे, नवोदय विद्यालय खोले जाएंगे क्योंकि ये आपका पैसा है भाईयो और बहनों, ये अनिल अंबानी का नहीं है, मेहुल चौकसी का नहीं है और युवाओं की मदद करने के लिए हमने साफ बोला है, आज राजस्थान का युवा अगर बिजनेस चालू करना चाहता है, तो उसे अलग-अलग सरकारी डिपार्टमेंट्स से परमिशन लेनी पड़ती है, एक डिपार्टमेट से परमिशन लो, दूसरे से परमिशन लो, तीसरे, चौथे, पांचवे से परमिशन लो। पता लगता है, परमिशन ही लेते गए बिजनेस नहीं चालू हुआ। हमने कानून बदल दिया है, जैसे ही हमारी सरकार आएगी, युवाओं को किसी भी सरकारी डिपार्टमेंट से बिजनेस खोलने के लिए कोई परमिशन लेने की जरुरत नहीं, तीन साल के लिए कोई परमिशन लेने की जरुरत नहीं, आप अपना बिजनेस शुरु करो। तीन साल बाद जब आपके लिए 30-40 लोग काम करेंगे, आपके साथ 30-40 लोग काम करेंगे, आपका बिजनेस तैयार हो जाएगा, तब आप सरकारी डिपार्टमेंट के पास जाइए, कहिए भईया हमारा बिजनेस है अब हमें परमिशन दीजिए, तीन साल बाद आप परमिशन लेंगे।

किसानों से मैं आखिरी सवाल पूछना चाहता हूँ, हमने ऐतिहासिक निर्णय लिया, भाईयो और बहनों, अनिल अंबानी जेल में है, अंदर या बाहर? (जनता ने कहा, बाहर), बाहर। विजय माल्या अंदर या बाहर (जनता ने कहा, बाहर), मेहुल चौकसी, अंदर या बाहर, (जनता ने कहा, बाहर) इन लोगों ने लाखों करोड़ रुपए कर्जा लिया है। अनिल अंबानी पर 45 हजार करोड़ रुपए का कर्जा है, वापस नहीं दिया। मेहुल चौकसी का 35 हजार करोड़ रुपए कर्जा, सरकारी बैंक से पैसा लिया वापस नहीं दिया, ये सब लोग बाहर हैं, अब भाईयो और बहनों, अगर किसान 20 हजार रुपए कर्जा लेता है, वापस नहीं देता है तो वो बाहर होता है या अंदर? (जनता ने कहा, अंदर), जेल में होता है या  बाहर होता है, (जनता ने कहा, अंदर), जेल में होता है, तो किसानों के लिए एक नया कानून 2019 के चुनाव के एकदम बाद पारित किया जाएगा जिसमें राजस्थान का, हिंदुस्तान का कोई भी किसान कर्जा न लौटाने के लिए जेल में नहीं डाला जा सकेगा।

मोदी जी, पहले आप अनिल अंबानी को, मेहुल चौकसी, नीरव मोदी को अंदर कीजिए, फिर किसानों की बात कीजिए। अगर वो बाहर होंगे, तो किसान भी बाहर होंगे, हम नया कानून बनाएंगे हिंदुस्तान का एक भी किसान कर्जा न लौटाने के लिए जेल नहीं जाएगा।

यहाँ पर धौलपुर से करौली की रेलवे लाइन थी, कांग्रेस पार्टी उसको ब्रॉडगेज करना चाहती थी, नरेन्द्र मोदी जी चौकीदार ने आपसे भी चोरी की, ब्रॉडगेज नहीं करने दिया। यहाँ पर अभी मुझे बताया गया है कि चंबल के पानी को यहाँ लाने का एक प्लान बनाया जा रहा है। गहलोत जी उस प्लान को स्टडी करेंगे और अगर चंबल का पानी यहाँ लाया जा सकेगा तो कांग्रेस की सरकार उस पानी को यहाँ आपके लिए लाएगी।

आप सबको मैं फिर से धन्यवाद करना चाहता हूँ, आप दूर-दूर से आए, इतनी गर्मी में आए, इसके लिए आप सबको दिल से बहुत-बहुत धन्यवाद।

नमस्कार, जय हिंद।

About हस्तक्षेप

Check Also

Kapil Sibal

कपिल सिब्बल की मोदी को सलाह – तस्वीरें कम खिंचवाइए, अभिजीत बनर्जी को सुनिए और काम पर लग जाइए

नई दिल्ली, 15 अक्तूबर 2019. कांग्रेस के वरिष्ठ नेता, सर्वोच्च न्यायालय के वरिष्ठ अधिवक्ता और …

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: