Home / हस्तक्षेप / आपकी नज़र / जम्हूरियत के सबसे बड़े पैरोकारों ने आज एक बार फ़िर से जम्हूरियत का क़त्ल कर दिया
मोहम्मद मोरसी का क़ुसूर सिर्फ़ इतना था कि उन्होंने दुनिया के सबसे बड़े दहशतगर्दों (अमेरिका) के हाथ की कठपुतली बनना गवारा नहीं किया

जम्हूरियत के सबसे बड़े पैरोकारों ने आज एक बार फ़िर से जम्हूरियत का क़त्ल कर दिया

Egypt’s ex-President Mohamed Morsi dies after court appearance

Mohamed Morsi Former President of Egypt
Mohamed Morsi Former President of Egypt

जम्हूरियत के सबसे बड़े पैरोकारों ने आज एक बार फ़िर से जम्हूरियत का क़त्ल कर दिया.. लोकतांत्रिक तरीक़े से चुने गए Egypt के पहले और वाहिद सद्र मोरसी (Mohamed Morsi Former President of Egypt) इस दुनिया में नहीं रहे..

कोर्ट में पेशी के दौरान दिल का दौरा पड़ने से 67 साल की उम्र में मोहम्मद मोरसी ने इस दुनिया को अलविदा कह दिया..

2013 से वो जेल की सलाखों के पीछे कै़द थे..

मोरसी का क़ुसूर सिर्फ़ इतना था कि उन्होंने दुनिया के सबसे बड़े दहशतगर्दों (अमेरिका) के हाथ की कठपुतली बनना गवारा नहीं किया..

मोरसी साहब आप एक शहीद हैं और दुनिया आपको एक बहादुर जाँबाज़ दिलेर हक़ और सच की आवाज़ के तौर हमेशा याद रखेगी..

बुशरा खानम फहाद

(लेखिका टीवी पत्रकार हैं। ज़ी सलाम न्यूज़ चैनल में सीनियर एंकर हैं।)

About हस्तक्षेप

Check Also

एक आइडिया आप की ज़िंदगी कैसे बदल देगा, अपनी तरकीब को भी आजमा लें 

आइडिया अर्थात् विचार हमारे सोचने की प्रक्रिया से संबंधित होती है. सोचने की प्रक्रिया और जीवन के अनुभव हमारी स्मृति का निर्माण करते हैं, जो मानव साफ्टवेयर की भांति कार्य करती है.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: