देशसमाचारसामान्य ज्ञान/ जानकारीस्वास्थ्य

भयंकर बीमारी एएलएस के बारे में फास्ट फैक्ट्स

Health news

अमेरिकी स्वास्थ्य और मानव सेवा विभा (U.S. Department of Health & Human Services)  से संबद्ध नेशनल एएलएस रजिस्ट्री (National ALS Registry) उन लोगों से जानकारी इकट्ठा करने में मदद करती है जो इस भयानक बीमारी (Amyotrophic lateral sclerosis) के साथ जी रहे हैं। दुनिया भर के शोधकर्ता इस बीमारी के कारणों के बारे में वैज्ञानिकों को अधिक जानने में मदद करने के लिए रजिस्ट्री डेटा तक पहुंच सकते हैं। हर किसी की कहानी अलग है, और हर किसी की पहेली जरूरी है।

रजिस्ट्री ने पाया है जब मरीज (motor neuron disease) जुड़ते हैं, तो यह शोधकर्ताओं को अधिक जानकारी देने में मदद करता है। इससे एएलएस के कारणों की बेहतर समझ हो सकती है, और सभी समुदायों में एएलएस वाले लोगों के लिए बेहतर भविष्य की पेशकश करने में मदद मिल सकती है

एएलएस के बारे में फास्ट फैक्ट्स

यूएसए के गैर लाभकारी स्वास्थ्य संगठन एएलएस एसोसिएशन (ALS Association) पर उपलब्ध जानकारी के मुताबिक –

एमियोट्रोफिक लेटरल स्क्लेरोसिस (ALS), जिसे आमतौर पर Lou Gehrig की बीमारी के रूप में जाना जाता है, एक प्रगतिशील न्यूरोडीजेनेरेटिव बीमारी है जो मस्तिष्क और रीढ़ की हड्डी में तंत्रिका कोशिकाओं और मार्गों पर हमला करती है। जब ये कोशिकाएं मर जाती हैं, तो स्वैच्छिक मांसपेशी नियंत्रण और संचालनन उनके साथ मर जाते हैं। रोग के बाद के चरणों में रोगी पूरी तरह से पंगु हो जाता है, फिर भी ज्यादातर मामलों में, रोगी क दिमाग तेज और सतर्क रहता है।

हर दिन, औसतन 15 लोगों में एएलएस का नव-निदान किया जाता है यानी प्रति वर्ष 5,600 से अधिक लोग। अनुमानतः वर्तमान में ALS से 30,000 से अधिक अमेरिकी नागरिक प्रभावित हो सकते हैं। वार्षिक रूप से, ALS प्रति 100,000 लोगों में दो मौतों के लिए जिम्मेदार है।

निदान के समय से एएलएस वाले व्यक्ति का औसत जीवन प्रत्याशा (average life expectancy of a person with ALS) दो से पांच साल है।

Does ALS progression be stopped?

हालिया बेहतर और उन्नत अनुसंधान और बेहतर चिकित्सा देखभाल के चलते रोगी अधिक लंबा जीवन जी रहे हैं। प्रभावित लोगों में से आधे निदान के बाद कम से कम तीन साल या उससे अधिक रहते हैं। लगभग 20 प्रतिशत पांच साल या उससे अधिक जीवित रहते हैं, और दस प्रतिशत तक दस वर्ष से अधिक जीवित रहेंगे।

एएलएस बिना किसी नस्लीय, जातीय या सामाजिक आर्थिक सीमाओं के साथ दुनिया भर में होता है। एएलएस किसी पर भी आक्रमण कर सकता है। प्रत्येक अमरीकी इस भयानक बीमारी की चपेट मे है।

May is ALS Awareness Month

( नोट – यह समाचार किसी भी हालत में चिकित्सकीय परामर्श नहीं है। यह समाचारों में उपलब्ध सामग्री के अध्ययन के आधार पर जागरूकता के उद्देश्य से तैयार की गई अव्यावसायिक रिपोर्ट मात्र है। आप इस समाचार के आधार पर कोई निर्णय कतई नहीं ले सकते। स्वयं डॉक्टर न बनें किसी योग्य चिकित्सक से सलाह लें।)

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: