18वें एशियाई खेल : रविवार को भारत को मिले तीन रजत

18th Asian Games: Three Silver to India on Sunday

हस्तक्षेप डेस्क
Updated on : 2018-08-26 23:02:58

18वें एशियाई खेल : भारत को मिले तीन रजत

18th Asian Games: Three Silver to India on Sunday

नई दिल्ली, 26 अगस्त। जकार्ता, में चल रहे 18वें एशियाई खेलों के आठवें दिन रविवार को एथलेटिक्स में भारत ने अच्छे प्रदर्शन करते हुए कुल तीन रजत पदक जीते। दुती चंद ने 100 मीटर, मोहम्मद अनस ने पुरुषों की 400 मीटर और हिमा दास ने महिलाओं की 400 मीटर में रजत पदक हासिल किया। पुरुषों की 10 हजार मीटर रेस में भारत के गोविंदन दुर्भाग्यशाली रहे। उन्होंने रेस समाप्ति के बाद कांस्य पदक जीत लिया था लेकिन बाद में आयोजकों ने उन्हें अयोग्य करार दिया। इस तरह भारत के हाथ से कांस्य निकल गया। लम्बी कूद में श्रीशंकर ने निराश किया। वह फाइनल में छठे स्थान पर रहे।

22 साल की दुती ने फाइनल में 11.32 सेकेंड के समय लेकर दूसरा स्थान हासिल किया। बहरीन की इडिडोंग ओडियोंग ने 11.30 सेकेंड के समय के साथ स्वर्ण पदक जीता। चीन की वेंगली योई ने 11.33 सेकेंड के साथ कांसा अपने नाम किया।

ओड़िशा की रहने वाली दुती ने इससे पहले पिछले साल एशियाई चैम्पियनशिप में 100 मीटर और चार गुणा 100 मीटर रिले में कांस्य पदक अपने नाम किया था। हालांकि 200 मीटर में वह चौथे स्थान पर रही थी।

उन्होंने 2016 के दक्षिण एशियाई खेलों में 200 मीटर और चार गुणा 100 मीटर रिले में रजत पदक जबकि 100 मीटर में कांस्य पदक जीता था।

दुती के अलावा पुरुषों के 400 मीटर दौड़ में अनस ने 45.69 सेकेंड समय निकाला और अपने देश के लिए रजत पदक जीता। 23 साल के अनस ने पिछले साल एशियाई चैम्पियनशिप में 400 मीटर और पुरुषों की चार गुणा 400 मीटर रिले में स्वर्ण पदक जीता था।

केरल के रहने वाले अनस ने 2016 के दक्षिण एशियाई खेलों में चार गुणा 400 मीटर रिले में भी स्वर्ण पदक अपने नाम किया था। हालांकि राष्ट्रमंडल खेलों में वह चौथे नंबर पर रहे थे।

अनस के अलावा भारत के एक और पुरुष धावक राजीव 45.84 सेकेंड के साथ चौथे नंबर पर रहे।

कतर के अब्दालेह हसन ने 44.89 सेकेंड के साथ इस स्पर्धा का स्वर्ण पदक जीता। बहरीन के अली खामिस ने 45.70 सेकेंड के साथ कांस्य जीता।

इसके बाद, महिलाओं की 400 मीटर दौड़के फाइनल में हिमा ने 50.79 सेकेंड के समय के साथ दूसरा स्थान हासिल किया और रजत पदक अपने नाम किया। 18 साल की हिमा ने 50.79 सेकेंड का समय निकालकर अपना ही राष्ट्रीय रिकॉर्ड तोड़ा जो उन्होंने कल सेमीफाइनल में बनाया था।

असम की रहने वाली हिमा ने इस वर्ष आईएएएफ अंडर-20 विश्व चैम्पियनशिप में स्वर्ण पदक जीता था, लेकिन यहां वह अपने पदक का रंग बदलने में कामयाब नहीं हो पाई। हिमा एक समय बहरीन की सल्वा नासिर के काफी करीब थीं, लेकिन आखिर में वह पीछे रह गईं।

नासिर ने 50.09 सेकेंड के साथ स्वर्ण जीता। यह नया एशियाई रिकॉर्ड है। कजाकिस्तान की एलिना मिखिना को कांस्य पदक मिला। मिखिना ने 52.63 सेकेंड समय निकाला।

इस स्पर्धा में शामिल भारत की एक अन्य एथलीट निर्मला को चौथा स्थान मिला। निर्मला ने 52.96 सेकेंड समय लिया।

पुरुषों की 10,000 मीटर स्पर्धा में गोविंदन ने कांस्य पदक जीता था, लेकिन एक लैप के दौरान ट्रैक से बाहर जाने के कारण उनसे यह पदक छीन लिया गया।

तमिलनाडु के निवासी गोविंदन 29 मिनट और 44.91 सेकेंड के साथ अपना पहला एशियाई पदक जीत लिया था। स्पर्धा में पदक जीतने वालों की सूची में उनका नाम भी आ गया था, लेकिन बाद में आयोजकों ने गोविंदन की गलती पकड़ ली और उन्हें अयोग्य करार दिया गया।

गोविंदन अब इस स्पर्धा में हिस्सा लेने वाले खिलाड़ियों की सूची में सबसे नीचे चले गए हैं और उनके नाम के आगे अयोग्य लिख दिया गया है। अगर गोविंदन अयोग्य करार नहीं दिए जाते तो भारत 20 साल बाद इस स्पर्धा में पदक जीतने में कामयाब हो जाता।

हालांकि भारतीय एथलेटिक्स महासंघ (एएफआई) ने ट्विटर पर कहा है कि उसने आयोजकों के इस फैसले के खिलाफ आधिकारिक रूप से विरोध दर्ज कराया है।

रेस में चौथे स्थान पर रहे चीन के चांग होंगझाओ को कांस्य पदक मिला। झाओ ने 30.07.49 सेकेंड में रेस पूरी की थी।

बहरीन के हसन चानी ने 28 मिनट और 35.54 सेकेंड का समय लेकर इस स्पर्धा का स्वर्ण पदक अपने नाम किया है। चानी के हमवतन अब्राहम चेरोबन ने 29 मिनट और 00.29 सेकेंड में स्पर्धा पूरी कर रजत पदक अपने नाम किया।

पुरुषों की लम्बी कूद में श्रीशंकर निराशाजनक प्रदर्शन कर छठे स्थान पर रहे। श्रीशंकर ने पहले प्रयास में 7.76, दूसरे में 7.95, तीसरे में 7.71 और 7.87 मीटर की छलांग लगाई। आखिरी प्रयास उनका फाउल रहा।

19 साल के श्रीशंकर ने इससे पहले इस वर्ष हुई विश्व चैम्पियनशिप में भी छठा स्थान हासिल किया था।

चीन के वांग जियानेन ने 8.24 मीटर के एशियाई रिकॉर्ड के साथ स्वर्ण पदक जीता। वहीं, चीन के ही झांग याओगुआंग ने 8.15 मीटर की छलांग लगाई और सीजन बेस्ट के साथ रजत पदक अपने नाम किया।

इंडोनेशिया के साप्वातुरहमान ने 8.09 मीटर के साथ कांस्य पदक हासिल किया।

संबंधित समाचार :