#BoxingDayTest #AUSvsIND मेलबर्न टेस्ट : मयंक के नेतृत्व में भारत की सधी हुई शुरुआत

बॉक्सिंग डे टेस्ट मैच के पहले सत्र का खेल खत्म होने तक पदार्पण कर रहे सलामी बल्लेबाज मयंक अग्रवाल 34 रन बनाकर खेल रहे हैं। उनके साथ चेतेश्वर पुजारा (10) क्रिज पर मौजूद हैं।...

एजेंसी

#BoxingDayTest #AUSvsIND मेलबर्न टेस्ट : मयंक के नेतृत्व में भारत की सधी हुई शुरुआत

मेलबर्न, 26 दिसम्बर। भारत ने यहां मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड (एमसीजी) में जारी तीसरे टेस्ट मैच के पहले दिन बुधवार को आस्ट्रेलिया के खिलाफ सधी हुई शुरुआत करते हुए भोजनकाल तक 28 ओवरों में एक विकेट के नुकसान पर 57 रन बना लिए हैं।

 

बॉक्सिंग डे टेस्ट मैच के पहले सत्र का खेल खत्म होने तक पदार्पण कर रहे सलामी बल्लेबाज मयंक अग्रवाल 34 रन बनाकर खेल रहे हैं। उनके साथ चेतेश्वर पुजारा (10) क्रिज पर मौजूद हैं।

 

भारतीय कप्तान विराट कोहली ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया। इस मैच में भारत ने नई सलामी जोड़ी को पारी की शुरुआत करने भेजा। घरेलू क्रिकेट में लगातार अच्छा कर रहे मयंक ने अपने खेल के अनुरूप बल्लेबाजी की और स्ट्राइक रोटेट करते रहे। वहीं पहली बार ओपनिंग करने उतरे हनुमा विहारी ने खाता खोलने के लिए 22 गेंदें लीं।

 

दोनों ने पहले विकेट के लिए 18.5 ओवरों में 40 रन जोड़े। पैट कमिंस ने विहारी की धीमी पारी का अंत किया। विहारी ने 66 गेंदों का सामना करते हुए आठ रन बनाए। बेशक विहारी ने धीमी पारी खेली लेकिन उन्होंने एक छोर संभाले रखते हुए वही किया जिसकी टीम को जरूरत थी। उम्मीद के विपरित विकेट से तेज गेंदबाजों को ज्यादा मदद नहीं मिल रही और विकेट काफी स्लो खेल रही है। इस लिहाज से विहारी का पारी अच्छी रही।

 

दूसरे छोर से मयंक आत्मविश्वास के साथ आस्ट्रेलियाई गेंदबाजों का सामना किया। आस्ट्रेलिया ने विकेट के व्यवहार को देखकर ऑफ स्पिनर नाथन लॉयन को जल्दी लगाया, लेकिन मंयक ने उनका सामना भी आसानी से किया और पहले सत्र का खेल खत्म होने तक वह विकेट पर खड़े हुए हैं।

 

मयंक ने अभी तक 68 गेंदों का सामना किया है और तीन चौके मारे हैं। दूसरे सत्र में मयंक की नजरें अपने पहले अंतर्राष्ट्रीय अर्धशतक पर होंगी। वहीं पुजारा ने अभी 34 गेंदें खेलीं हैं।

 

मेजबान टीम ने अपने पांचों गेंदबाजों का इस्तेमाल कर लिया है जिसमें से सिर्फ कमिंस की विकेट निकाल पाए हैं।

ख़बरें और भी हैं –

तो मोदी को बचाने के लिए जनवरी में अमित शाह सूली पर चढ़ेंगे !

अपंजीकृत संगठन राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की सर्वोच्च न्यायालय को धमकी

आज करूणा और फिलीस्तीन मुक्ति का दिन है… आज समूची मानवता सूली पर लटकी हुई है

देशविरोधी है अमेरिका और भारत के बीच होने वाली कॉमकोसा सन्धि

सोशल मीडिया से घबराई सरकार कसेगी नकेल, सरकार लाई सोशल मीडिया केंद्रित आईटी नियमों का मसौदा

रवीश कुमार ने किया सवाल - किसानों की क़र्ज़ माफ़ी पर हंगामा, बैंकों को एक लाख करोड़ पर चुप्पी क्यों

क्या यह ख़बर/ लेख आपको पसंद आया ? कृपया कमेंट बॉक्स में कमेंट भी करें और शेयर भी करें ताकि ज्यादा लोगों तक बात पहुंचे

कृपया हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें

 

 

हस्तक्षेप से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें
facebook फेसबुक पर फॉलो करे.
और
facebook ट्विटर पर फॉलो करे.
"हस्तक्षेप"पाठकों-मित्रों के सहयोग से संचालित होता है। छोटी सी राशि से हस्तक्षेप के संचालन में योगदान दें।