वरिष्ठ समाजवादी नेता भाई वैद्य नहीं रहेl

उन्होंने एक महीने पहले पेट में दर्द की शिकायत की थी और उन्हें अग्नाशयी कैंसर होने का पता चला था। वे पांच दिन पहले तक विभिन्न कार्यक्रमों और विरोध प्रदर्शनों में भाग ले रहे थे. ...

गोपाल राठी

हमारे मार्गदर्शक, संरक्षक और वरिष्ठ समाजवादी नेता भाई वैद्य का आज रात्रि 8 बजे पुणे स्थित पुणे अस्पताल में निधन हो गया, वे 90 वर्ष के थेl भाई वैद्य के पुत्र और आरोग्य सेना के अध्यक्ष डॉ. अभिजीत वैद्य ने भाई वैद्य की बीमारी के बारे में कहा,

"उन्होंने एक महीने पहले पेट में दर्द की शिकायत की थी और उन्हें अग्नाशयी कैंसर होने का पता चला था। वे पांच दिन पहले तक विभिन्न कार्यक्रमों और विरोध प्रदर्शनों में भाग ले रहे थे. जब उनका स्वास्थ्य ज्यादा खराब हो गया तो सोमवार को हम उन्हें अस्पताल ले गए।

एस एम् जोशी, मधु लिमये जैसे दिग्गज समाजवादियों के सहयोगी रहे भाई वैद्य पुणे महानगरपालिका के मेयर और महाराष्ट्र के गृहमंत्री रहेl समाजवादी जनपरिषद एवं बाद में सोशलिस्ट पार्टी के संस्थापक के रूप में वे समाजवादी आन्दोलन के पुनर्जीवन के लिए प्रयास करते रहेl राष्ट्रसेवा दल और समाजवादी शिक्षक सभा के कार्यों में भी वे निरंतर सक्रिय रहेl

समाजवादी जनपरिषद के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष के रूप, में भाई वैद्य 1995 में पिपरिया आये थे तब उनसे पहली मुलाक़ात हुई थीl हम भाई को राज्य परिवहन की बस में बिठाकर पलिया पिपरिया गाँव में संगठन की मीटिंग में ले गए थे और वहां से बस ना मिलने पर ट्रक में बैठकर रात में वापिस पिपरिया आये थेl बाद में संगठन के दुसरे साथियों को यह बात मालूम हुई तो उन्होंने भाई की उम्र देखते हुए उन्हें इस तरह यात्रा करने के बारे में एतराज जताते हुए नाराजी ज़ाहिर की थीl लेकिन हमारे पास इसके अलावा कोई अन्य साधन नहीं थाl कोई नाराज़ हो लेकिन भाई यहाँ आकर और हम सभी साथियों से मिलकर बहुत खुश हुए थे और हम उनसे मिलकरl उनसे मिलकर हमे लगा जैसे हम अपने हमउम्र दोस्त से मिले हैl उनसे बहुत चर्चा हुई समाजवाद के बारे में और समाजवादियों के बारे मेंl भाई के महाराष्ट्र के गृह मंत्री रहे लेकिन हमारी जिज्ञासा यह थी कि संघी और हिन्दू महासभाई वर्चस्व वाले पुणे महानगर में आप मेयर कैसे बन गए ? बाद में भाई से तीन चार बार और मुलाक़ात हुईl उनका जाना हमारी धारा - विचारधारा की अपूरणीय क्षति हैl

उनका पार्थिव शरीर अस्पताल से घर ले आया गया है.l पार्थिव शरीर कल (3 अप्रैल 2018) सुबह 7 बजे से 3 बजे तक राष्ट्र सेवा दल पुणे के मुख्यालय में अंतिम दर्शन के लिए रखा जाएगा. उसके बाद दाह संस्कार होगा.l

पिपारिया के सभी साथियों की और से भाई को क्रांतिकारी अभिवादनl

विनम्र श्रद्धांजलिl

यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें

गोपाल राठी की एफबी टाइमलाइन से

हस्तक्षेप से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें
facebook फेसबुक पर फॉलो करे.
और
facebook ट्विटर पर फॉलो करे.
"हस्तक्षेप"पाठकों-मित्रों के सहयोग से संचालित होता है। छोटी सी राशि से हस्तक्षेप के संचालन में योगदान दें।
hastakshep
>