भाजपा समर्थित सांसद रहा विजय माल्या सुब्रमण्यम स्वामी की जनता पार्टी का कार्यकारी अध्यक्ष भी रहा

भगोड़े कारोबारी विजय माल्या के वित्त मंत्री अरुण जेटली से रिश्तों पर खुसासे से देश की राजनीति में भूचाल आया हुआ है। लेकिन माल्या के केवल जेटली से ही मधुर रिश्ते नहीं रहे हैं, बल्कि वह भाजपा के कई बड़े...

भाजपा समर्थित सांसद रहा विजय माल्या सुब्रमण्यम स्वामी की जनता पार्टी का कार्यकारी अध्यक्ष भी रहा

नई दिल्ली, 13 सितंबर। भगोड़े कारोबारी विजय माल्या के वित्त मंत्री अरुण जेटली से रिश्तों पर खुसासे से देश की राजनीति में भूचाल आया हुआ है। लेकिन माल्या के केवल जेटली से ही मधुर रिश्ते नहीं रहे हैं, बल्कि वह भाजपा के कई बड़े नेताओं का करीबी है।

18 दिसंबर 1955 को कलकाता में जन्मे विजय माल्या का पूरा नाम विजय विट्ठल माल्या है।

विजय माल्या पर देश के बैंको से करीब 9000 करोड़ रुपये धोखाधड़ी से चुराने का आरोप है। आजकल भारत सरकार ने विजय माल्या को भगोड़ा घोषित किया है।

विजय माल्या भाजपा समर्थित निर्दलीय सांसद था, जिसने 2 मई 2016 को राज्यसभा की सदस्यता से त्यागपत्र दे दिया।

विजय माल्या पहले अकिल भारत जनता दल का सदस्य था, जो बाद में 2003 में सुब्रमण्यम स्वामी की जनता पार्टी में शामिल हो गया और 2010 तक  सुब्रमण्यम स्वामी की जनता पार्टी का कार्यकारी राष्ट्रीय अध्यक्ष रहा।

वह 2002 में निर्दलीय सांसद के तौर पर कर्नाटक से राज्यसभा में निर्वाचित हुआ। पुनः 2010 में विजय माल्या भारतीय जनता पार्टी के सहयोग से राज्यसभा चुनाव में विजयी रहा।

2 मई 2016 को माल्या ने राज्यसभा की सदस्यता से त्यागपत्र दे दिया। इसके एक सप्ताह पूर्व ही राज्यसभा के नैतिकता पैनल Rajya Sabha ethics panel ने सिफारिश की थी कि माल्या की राज्यसभा सदस्यता समाप्त कर दी जाए। और समिति की 3 मई 2016 को प्रस्तावित बैठक जिसमें माल्या की सदस्ता समाप्त किए जाने की घोषणा किए जाने की उम्मीद थी, से एक दिन पहले माल्या ने राज्यसभा से त्यागपत्र दे दिया।

अब सवाल उठ रहे हैं कि जब राज्यसभा के नैतिकता पैनल ने विजय माल्या की सदस्यता रद्द किए जाने की सिफारिश की थी तो सरकार ने उसे देश छोड़कर विदेश भागने का अवसर क्यों दिया ?

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को माल्या के ‘अत्यंत गंभीर आरोपों’ की स्वतंत्र जांच के आदेश तुरंत देने चाहिए और जेटली को जांच जारी रहने के दौरान अपना पद छोड़ देना चाहिए।

ज़रा हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें

Topics - BJP-backed MP, Vijay Mallya Subramaniam Swamy, Janata Party, Arun Jaitley, Vijay Mallya's life introduction, vijay mallya kon si jagah se rajya sabha sansad chune gaye the, विजय माल्या राज्यसभा सदस्य कब से कब तक है, vijay mallya ko rajya sabha ka ticket kisne diya,

(इनपुट विकिपीडिया से भी)

 

हस्तक्षेप से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें
facebook फेसबुक पर फॉलो करे.
और
facebook ट्विटर पर फॉलो करे.
"हस्तक्षेप"पाठकों-मित्रों के सहयोग से संचालित होता है। छोटी सी राशि से हस्तक्षेप के संचालन में योगदान दें।