सामने आई भाजपा की सिर फुटौव्वल, अमित शाह का साफ कहना मोदी कुर्सी नहीं छोड़ेंगे

'रिपब्लिक टीवी' के समिट 'सर्जिग इंडिया' में उन्होंने कहा, "नेतृत्व में बदलाव का प्रश्न ही नहीं उठता। मोदीजी के नेतृत्व में ही राजग 2019 का चुनाव लड़ेगी।"...

सामने आई भाजपा की सिर फुटौव्वल, अमित शाह का साफ कहना मोदी कुर्सी नहीं छोड़ेंगे

2019 के चुनावों के लिए भाजपा नेतृत्व में बदलाव नहीं : अमित शाह

 

मुंबई, 19 दिसंबर। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के अध्यक्ष अमित शाह ने आज नेतृत्व में बदलाव की बात को स्पष्ट रूप से खारिज कर दिया और कहा कि सत्तारूढ़ राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में ही 2019 का चुनाव लड़ेगी।

 

'रिपब्लिक टीवी' के समिट 'सर्जिग इंडिया' में उन्होंने कहा, "नेतृत्व में बदलाव का प्रश्न ही नहीं उठता। मोदीजी के नेतृत्व में ही राजग 2019 का चुनाव लड़ेगी।"

 

उन्होंने रिपब्लिक टीवी के प्रमुख अर्नब गोस्वामी के यह सवाल पूछने पर सवालिया लहजे में पलटवार करते हुए कहा, "2014 में छह राज्यों में भाजपा की सरकार थी और अब 16 राज्यों में है। तो आप बताएं कि कौन जीतेगा?"

 

भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि राज्य और केंद्र में चुनाव अलग-अलग मुद्दें पर लड़े जाते हैं और 2019 के आम चुनाव भारत पर लड़े जाएंगे।

 

महाराष्ट्र के प्रमुख किसान नेता व वसंतराव नाईक शेटी स्वावलंबन मिशन (वीएनएसएसएम) के अध्यक्ष किशोर तिवारी द्वारा राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के प्रमुख मोहन भागवत और महासचिव भैयाजी सुरेश जोशी को पत्र लिखने के बाद शाह का यह बयान महत्वपूर्ण माना जा रहा है।

 

तिवारी ने पत्र में लिखा था कि अगर भाजपा 2019 का चुनाव जीतना चाहती है तो 'अहंकारी' मोदी को हटाकर 'विनम्र' नितिन गडकरी को उनकी जगह ले आए।

क्या यह ख़बर/ लेख आपको पसंद आया ? कृपया कमेंट बॉक्स में कमेंट भी करें और शेयर भी करें ताकि ज्यादा लोगों तक बात पहुंचे

कृपया हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें

 

Amit Shah, Republic TV, Arnab Goswami, Rashtriya Swayamsevak Sangh, Amit Shah, Surging India, रिपब्लिक टीवी, अर्नब गोस्वामी, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ, अमित शाह, सर्जिग इंडिया, hindi news, arnab goswami, republic tv,

हस्तक्षेप से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें
facebook फेसबुक पर फॉलो करे.
और
facebook ट्विटर पर फॉलो करे.
"हस्तक्षेप"पाठकों-मित्रों के सहयोग से संचालित होता है। छोटी सी राशि से हस्तक्षेप के संचालन में योगदान दें।