भूतो के वास्तविक सिद्धांत और आध्यात्मिक शक्ति की कहानी हैं “आई नो यू” - जयवीर पंघाल

निर्देशक जयवीर पंघाल का कहना है कि उनकी डेब्यू हॉरर फिल्म 'आई नो यू' असल में भूतो की दुनिया और उनके वास्तविक सिद्धांत पर लिखी गई है। ...

एजेंसी
भूतो के वास्तविक सिद्धांत और आध्यात्मिक शक्ति की कहानी हैं “आई नो यू” - जयवीर पंघाल
I Know You - Jaiveer.jpg

निर्देशक जयवीर पंघाल का कहना है कि उनकी डेब्यू हॉरर फिल्म 'आई नो यू' असल में भूतो की दुनिया और उनके वास्तविक सिद्धांत पर लिखी गई है।  

ट्रेलर रिलीज़ होने के बाद, एक साक्षात्कार के दौरान, 'आई नो यू' के निर्देशक जयवीर ने कहा, "इस फिल्म को हमने बहुत कम समय में और काफी प्लानिंग के साथ शूट किया हैं! मेट्स एंटरटेनमेंट टीम ने इस फिल्म को संभव बनाने के लिए वास्तव में बहुत मेहनत की है। फ़िल्म में दो गाने हैं, जिसे नकाश अजीज और राजा हसन ने गाये हैं, और संगीत निर्देशन दीन मोहम्मद का हैं, और हम बहुत जल्द ही इसका म्यूजिक रिलीज करेगे!”

“फिल्म पर अभी पोस्टप्रोडक्शन का काम चल रहा हैं, और हम इसे गर्मियों में रिलीज़ करेगे! आलोक सिंह ने बहुत ही शानदार एडिटिंग की हैं, और फिल्म में रहस्य और भय की उठाने वाली अटूट लहर दर्शकों को मनोरंजन और रोमांच में डुबो देगी।  ”

फिल्म में छह दोस्त हैं, और उनके इर्दगिर्द एक रहस्य का तानाबाना हैं. वैसे तो सभी अपनी लाइफ में बीजी हैं, लेकिन यह रहस्य उन्हें खीच कर एक जगह ले आता हैं. और जब सभी दोस्त इस रहस्य को सुलझाने की कोशिश करते हैं तो अपने ही प्लान का शिकार हो जाते हैं. जैसे ही सच सामने आता हैं तो स्थिति नियंत्रण से बाहर हो जाती है। यह फिल्म हमारी पुरानी किताबो के लिखे असली भुतिया सिद्धांतो की कहानी बताती है।

टेलीविज़न जगत के जानेमाने कलाकार इस फिल्म में काम कर रहे हैं, जैसे अखिलेश वर्मा, मुजाहिद खान, रियाना सुक्ला, सागरिका त्रिपाठी, निकिता सोनी, अगस्त आनंद, गुरुदेव अनीजा और निशांत भारद्वाज।

मेट्स एंटरटेनमेंट और मोर्ना एंटरटेनमेंट द्वारा निर्मित “आई नो यू” को जयवीर पंघाल में लिखा और निर्देशित किया हैं. फिल्म को बहुत यथार्थवादी ढंग से बनाया गया हैं. फिल्म के डाइलोग और पृष्ठभूमि को वास्तविकता  के काफी करीब रखा गया है।  

टीज़र देखने के लिये यहाँ क्लिक करें - 

 टीज़र लिंक  - https://www.youtube.com/watch?v=MZLAS2p6eMc

हस्तक्षेप से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें
facebook फेसबुक पर फॉलो करे.
और
facebook ट्विटर पर फॉलो करे.
"हस्तक्षेप"पाठकों-मित्रों के सहयोग से संचालित होता है। छोटी सी राशि से हस्तक्षेप के संचालन में योगदान दें।