पद्मावती पर बवाल : भंसाली के दफ्तर के बाहर पुलिस तैनात... स्मृति ईरानी ने लिया यू-टर्न

पद्मावती पर जारी विवाद के बीच निर्देशक संजय लीला भंसाली को धमकियां मिलने का सिलसिला जारी है, जिसके मद्देनज़र अब मुंबई पुलिस ने उन्हें सुरक्षा मुहैया कराई है। मुंबई में जुहू स्थित भंसाली के दफ्तर ......

डी बी लाइव

फिल्म पद्मावती पर जारी विवाद के बीच निर्देशक संजय लीला भंसाली को धमकियां मिलने का सिलसिला जारी है, जिसके मद्देनज़र अब मुंबई पुलिस ने उन्हें सुरक्षा मुहैया कराई है। मुंबई में जुहू स्थित भंसाली के दफ्तर के बाहर पुलिस की तैनाती कर दी गई है, ताकि किसी भी तरह की स्थिति से निपटा जा सके है।

बताया जा रहा है कि 15-16 पुलिसकर्मियों की टीम भंसाली के दफ्तर के बाहर लगाई गई हैं। ये टीम 24 घंटे भंसाली के दफ्तर के बाहर तैनात रहेगी।

पुलिस सूत्रों के मुताबिक, ये सुरक्षा पद्मावती के रिलीज होने तक जारी रहेगी।

आपको बता दें कि पद्मावती में इतिहास के साथ छेड़छाड़ का आरोप लगाते हुए कई संगठनों ने चेतावनी दी है। राजस्थान में शूटिंग के दौरान भी करणी सेना के कार्यकर्ताओं ने फिल्म के सेट पर तोड़-फोड़ के साथ भंसाली के साथ हाथापाई की थी। जिसके मद्देनजर मुंबई पुलिस ने भंसाली को सुरक्षा देने का फैसला किया है।

बता दें इस फिल्म का विरोध थमने का नाम नहीं ले रहा है। हिंदू संगठनों के अलावा कई मंत्री और भाजपा सांसद भी इसका विरोध कर चुके है।

पिछले दिनों उज्जैन से भाजपा सांसद चिन्तामणि मालवीय ने निर्देशक संजय लीला भंसाली को आड़े हाथ लेते हुए कहा था कि भंसाली जैसे लोग सिर्फ जूते की भाषा समझते है। जबकि केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह और उमा भारती ने भी फिल्म पर आपत्ति जताई थी।

वहीं इस बीच खबर ये भी है कि केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने भी फिल्म पर दिए अपने बयान पर यू-टर्न ले लिया है। पहले स्मृति ईरानी ने कहा था कि पद्मावती की रिलीज को लेकर कोई समस्या नहीं आएगी, लेकिन स्मृति ने कहा कि वो इस मुद्दे पर कुछ नहीं बोलना चाहतीं।

#Police_at_Sanjay_leela_bhansali_office_for_protection

हस्तक्षेप से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें
facebook फेसबुक पर फॉलो करे.
और
facebook ट्विटर पर फॉलो करे.
"हस्तक्षेप"पाठकों-मित्रों के सहयोग से संचालित होता है। छोटी सी राशि से हस्तक्षेप के संचालन में योगदान दें।
hastakshep
>