8 दिसंबर, 2017 को हो गई थी 'सल्लू की शादी'

कश्यप को आखरी बार अरशिन मेहता, ज़ीनत अमान और किरण कुमार के साथ कॉमेडी-ड्रामा सल्लु की शादी में देखा गया, जो 8 दिसंबर, 2017 को रिलीज़ हुई थी ...

एजेंसी

फिल्म के दौरान मैंने सलमान के हीरोइज़्म को हमेशा दिमाग में रखा - कश्यप

'सल्लू की शादी' के प्रमुख अभिनेता कश्यप बारभाया का कहना है कि वह सलमान के सबसे बड़े प्रशंसक हैं और फिल्म में सलमान के प्रशंसक के रूप में उन्होंने सलमान के हीरोइज़्म को हमेशा दिमाग में रखा।

'सल्लू की शादी' के बारे में बात करते हुए और फिल्म की तैयारी के बारे में बताते हुए कश्यप ने अपने इंटरव्यू के दौरान बताया, "सबसे पहले तो मैं बता दूँ कि मै सलमान खान का बहोत बड़ा प्रशंसक हूं। एक अभिनेता के रूप में उन्हें स्क्रीन पर देखने की बात ही कुछ और है, पर मैंने कभी भी फिल्म में उन्हें कॉपी करने की कोशिश नहीं की। फिल्म में मेरा किरदार उनके फैन का था और इस किरदार को निभाते हुए मैंने हमेशा सलमान के हीरोइज़्म को दिमाग में रखा।

जब उनसे पूछा गया कि क्या वह हमेशा से एक अभिनेता बनना चाहते थे और कैसे उन्होंने फिल्मों में एंट्री की, तो कश्यप बारभाया ने कहा,

"मेरे पिता बॉलीवुड में एक फैशन फोटोग्राफर हैं। बचपन से मैं उनके साथ सेट पर जाया करता था, शूटिंग, फोरोग्राफी इन्ही सब चीज़ों के बीच मेरा बचपन गुज़रा है।

कश्यप बारभाया

“मै कभी भी पढ़ाकू नहीं था और हमेशा ही गैर पाठयक्रम गतिविधियों में मेरी अधिक रुचि थी, इसलिए विज्ञान और गणित की बजाय मेरा झुकाव रचनात्मकता कार्यविधिओं की तरफ रहा। 12 वीं की समाप्ति के बाद, मैंने फिल्म बनाने और MAX से VFX में अपना ग्रेजुएशन किया। उस समय के दौरान मैंने 2 शार्ट फिल्मों का निर्देशन किया और उन में अभिनय भी किया। उसके बाद मैंने खुद को एक अभिनेता के रूप में तैयार करना शुरू कर दिया। मैंने रोशन तनेजा के साथ अभिनय सीखा, मार्शल आर्ट्स और नृत्य की भी ट्रेनिंग ली । "

जब उन्हें नेपोटिस्म और फिल्म इंडस्ट्री से जुडी चुनौतियों के बारे में पूछा गया तो कश्यप बारभाया ने कहा,

"मुझे लगता है कि इस इंडस्ट्री में प्रतिस्पर्धा इतनी मुश्किल है कि आपको डांस और मार्शल आर्ट्स जैसी चीजों के बारे में ज्ञान होना ज़रूरी है। बॉलीवुड में बहुत संघर्ष है, वहां कट्टर प्रतिस्पर्धा चल रही है। मुझे लगता है कि एक हद तक नेपोटिस्म काम करता है, लेकिन यदि एक अभिनेता के रूप आप में 'वो' बात हैं तो आप की कामयाबी निश्चित है क्योंकि अच्छे टैलेंट को दर्शक ज़रूर स्वीकार करेंगे।"

कश्यप की पहली फिल्म 'लव यू फैमिली' को जून में रिलीज़ किया गया था, कश्यप बारभाया ने कहा कि तकनीकी तौर पर 'सल्लु की शादी' उनकी पहली फिल्म थी। "मैं फिल्म निर्माण के प्रति भावुक हूं और 'सल्लु की शादी' तकनीकी तौर पर मेरी पहली फिल्म थी। कुछ कारणों से मेरी दूसरी फिल्म 'लव यू फैमिली' पहले रिलीज़ हुई थी।"

कश्यप ने कहा कि वह एक अभिनेता बनने की प्रक्रिया का आनंद ले रहे हैं और उनकी फिल्मों के रिलीज के लिए अपने आपको काफी लकी मानते हैं।

कश्यप बारभाया

"कई बार लोगों को एक फिल्म में काम करने का मौका मिल भी जाए, तो दूसरी फिल्म को पाने में काफी दिक्कत होती है। जहां तक नेपोटिस्म का सवाल है, अगर उन्हें एक बड़ी फिल्म मिलती है तो वे ख्याति प्राप्त करते हैं लेकिन केवल उनके काम और प्रतिभा ही इस स्थान को आगे परिभाषित करते है।

कश्यप बारभाया

मैं वास्तव में एक अभिनेता बनने की प्रक्रिया और संघर्ष का आनंद ले रहा हूं। और सबसे महत्वपूर्ण बात ये है कि मैं अपने आप को काफी भाग्यशाली समझता हूँ कि मेरी फिल्में ना ही सिर्फ बनी, पर बन कर रिलीज़ भी हुई। मैं इसे एक उपलब्धि के रूप में सोचता हूं क्योंकि कई बार ऐसा होता है कि फिल्म तैयार हो जाती है, लेकिन किसी कारणवश जनता को देखने के लिए इसे कभी भी रिलीज़ नहीं किया जाता।"

अपने भविष्य की योजनाओं के बारे में बात करते हुए कश्यप ने बताया,

"मैं अनुपम खेर के साथ फिल्म की शूटिंग शुरू करने के लिए रांची जा रहा हूं। फिल्म के बारे में मैं बहुत कुछ नहीं बता सकता, लेकिन यह एक महत्वपूर्ण भूमिका है।

कश्यप बारभाया ने कहा,

“मैं एक और प्रोजेक्ट के लिए बातचीत कर रहा हूं, और बहोत जल्द इस के बारे में आप को बताऊंगा पर अभी जल्दबाज़ी में कुछ कहना ठीक नहीं होगा।"

कश्यप को आखरी बार अरशिन मेहता, ज़ीनत अमान और किरण कुमार के साथ कॉमेडी-ड्रामा सल्लू की शादी में देखा गया, जो 8 दिसंबर, 2017 को रिलीज़ हुई थी ।

 

हस्तक्षेप से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें
facebook फेसबुक पर फॉलो करे.
और
facebook ट्विटर पर फॉलो करे.
"हस्तक्षेप"पाठकों-मित्रों के सहयोग से संचालित होता है। छोटी सी राशि से हस्तक्षेप के संचालन में योगदान दें।