जियोफोन के सामने फिलहाल तो कहीं नहीं टिकता एयरटेल-कॉर्बन मोबाइल

रिलायंस जियोफोन के जवाब में आज एयरटेल ने कॉर्बन मोबाइल निर्माता के साथ मिल कर एक स्मार्टफोन बाजार में उतारा है। इसे जियोफोन के जवाब के रूप में एयरटेल का दांव बताया जा रहा है।...

एजेंसी

नई दिल्ली। रिलायंस जियोफोन के जवाब में आज एयरटेल ने कॉर्बन मोबाइल निर्माता के साथ मिल कर एक स्मार्टफोन बाजार में उतारा है। इसे जियोफोन के जवाब के रूप में एयरटेल का दांव बताया जा रहा है।

आईये रिलायंस जियो के एक अनौपचारिक नोट के मुताबिक जानते हैं दोनों फोनों में क्या है खास -

जियोफोन की कीमत 1500 रू है वही एयरटेल-कॉर्बन फोन 2899 रू में पड़ेगा। जहां जियोफोन की इफेक्टिव यानि प्रभावी कीमत 1399 रू है वही जियोफोन ग्राहक को मुफ्त में यानि शून्य प्रभावी कीमत पर मिलेगा। मोबाइल को प्रभावी कीमत पर हासिल करने के लिए ग्राहक को एयरटेल-कॉर्बन फोन में 6000 रू का रिचार्ज डलवाना पड़ेगा। वहीं जियोफोन में 4500 रू के रिचार्ज डलवा कर आप फोन के पूरी कीमत यानि 1500 रू वापस पा सकते हैं। 3 साल बाद एयरटेल-कॉर्बन मोबाइल ग्राहक की जेब में 7399 रू का छेद करेगा जबकि जियोपोन 4500 रू का।

मंथली टैरिफ प्लान के मामले में भी जियोफोन बाजी मार ले जाता है। जियोफोन का मंथली प्लान 153 रू का है। एयरटेल-कॉर्बन फोन में ग्राहक को 169 रू का मंथली प्लान लेना पड़ेगा। डेटा यूसेज के मसले में भी बड़ा फर्क दिखता है वैसे तो दोनो ही कंपनियां ग्राहकों को आधा जीबी डेटा प्रतिदिन देने का वायदा करते है पर आधा जीबी के बाद जहां जियो पर केवल स्पीड कम हो जाती है वहीं एयरटेल-कॉर्बन के ग्राहकों को इसके लिए पैसे देने पड़ेगें जिसकी कीमत लगभग 4 हजार रू प्रति जीबी बैठती है। वहीं जियो के ग्रहाकों को अनलिमिटेड डेटा यूज करने की पूरी छूट है। यह एक बड़ा फर्क है क्योंकि रोजमर्रा की जिंदगी में डेटा यूसेज का ख्याल रखना मुशकिल होता है और इससे ग्राहक को बडी रकम चुकानी पड़ सकती है।

जिस ग्राहक को टारगेट करके एयरटेल-कॉर्बन ने मोबाइल बाजार में उतारा है वह SMS सुविधा के मसले पर उससे दूर होती नजर आती है। ग्राहक को लोकल SMS के लिए 1 रू और STD SMS के लिए 1.5 रू प्रति SMS देना होगा। जियोफोन पर SMS बिलकुल फ्री हैं। अगर ग्राहक एयरटेल-कॉर्बन स्मार्टफोन पर 10 SMS रोजना करता है तो उसे 300रू अतिरिक्त चुकाने होंगे।

रोमिंग के मसले पर भी एयरटेल-कॉर्बन मोबाइल जियोफोन से मात खा जाता है। रोमिंग पर एयरटेल-कॉर्बन मोबाइल ग्राहकों को 80 पैसे लोकल क़ॉल पर और 1.15 रू STD कॉल पर चुकाने होंगे। एयरटेल-कॉर्बन ग्राहकों को SMS फर भी रोमिंग चार्ज चुकाना होगा। 25 पैसे लोकल और 38 पैसे STD SMS पर अतिरक्त चुकाने होंगे। जियोफोन रोमिंग फ्री सर्विसेज उपलब्ध कराता है। जो किसी भी ग्राहक की सफर में जेब कटने से बचाता है।

अब बात कटेंट और एप्लीकेशनस् की...

एयरटेल-कॉर्बन मोबाइल ग्राहकों को कोई अतिरक्त प्रीमियम कंटेंट उपलब्ध नही होगा। जो कंटेंट है भी उसकी कीमत ग्राहक से वसूली जाएगी। जो कुछ सौ से हजारों के बीच हो सकती है। जबकि जियो अपने 16 प्रीमियम एप्लीकेशन के सात वर्ल्ड क्लास कंटेट प्रोवाइड कराता है वो भी एकदम मुफ्त। इसके अलावा जियोफोन को आप किसी भी टीवी के साथ कनेक्ट कर टीवी कार्यक्रमों का लुत्फ उठा सकते हैं। जो एयरटेल-कॉर्बन में तो कतई संभव नही।

 डिवाइस - एयरटेल-कॉर्बन मोबाइल की बैटरी 1400 mah की है। जियोफोन की 2000 mah की बैटरी ज्यादा दमदार है। एयरटेल-कॉर्बन फोन 4 घंटे के टॉकटाइम की गारंटी देता है जबकि जियोफोन 5 गुना ज्यादा 20 घंटे की। स्टैंडबाइ टाइम में भी जियोफोन एयरटेल-कॉर्बन फोन से 1.5 गुना ज्यादा स्टैंडबाइ टाइम देता है। एक्सपेंडेबल मैमोरी के मामले में भी जियोफोन कोसों आगे है। जियोफोन की मैंमोरी आप 128 जीबी तक बढ़ा सकते हैं जबकि एयरटेल-कॉर्बन मोबाइल की मैमोरी को सिर्फ 32 जीबी तक ही बढ़ाया जा सकता है। एयरटेल-कॉर्बन मोबाइल डिजिटल पेमेंट के लिए NFC को भी सर्पोर्ट नही करता।

कुल मिला कर यह मुकाबला एकतरफा लगता है। जियोफोन के सामने एयरटेल-कॉर्बन मोबाइल कहीं नही ठहरता। एयरटेल को अगर जियो को टक्कर देनी है तो उसे और मेहनत करनी होगी।

हस्तक्षेप से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें
facebook फेसबुक पर फॉलो करे.
और
facebook ट्विटर पर फॉलो करे.
"हस्तक्षेप"पाठकों-मित्रों के सहयोग से संचालित होता है। छोटी सी राशि से हस्तक्षेप के संचालन में योगदान दें।