विदेश में शिक्षा का विचार बना रहे हैं तो नए शिक्षा हब के रूप में उभर रहे एस्टोनिया पर भी डालें एक नज़र

विदेश में शिक्षा का विचार बना रहे हैं तो नए शिक्षा हब के रूप में उभर रहे एस्टोनिया पर भी डालें एक नज़र...

विदेश में शिक्षा का विचार बना रहे हैं तो नए शिक्षा हब के रूप में उभर रहे एस्टोनिया पर भी डालें एक नज़र

नई दिल्ली, 27 अक्तूबर। भारतीय मेधा के पलायन की ख़बरें लगातार सुर्खियों में रहती हैं। एक तरफ जहां उदारीकरण के बाद भारत में बड़े पैमाने पर बहुराष्ट्रीय कंपनियां भारत में व्यापार कर रही हैं वहीं अब शिक्षा के क्षेत्र में भी विदेशी संस्थानों का प्रभुत्व बढ़ता जा रहा है। हाल फिलहाल में यूरोप के कई छोटे देशों में भारतीय छात्रों का शिक्षा के लिए पलायन बढ़ा है। पूर्व सोवियत संघ से कटकर बना एस्टोनिया नए शिक्षा हब के रूप में उभरा है।  

पहले शिक्षा के लिए भारतीय छात्रों के पसंदीदा मुल्क ब्रिटेन, यूएसए, जर्मनी और ऑस्ट्रेलिया थे, लेकिन छात्र वर्तमान में इन देशों के साथ वीज़ा मुद्दों और फीस की अत्यधिक लागत के साथ-साथ वहां रहने की लागत के कारण विकल्प तलाश रहे हैं।

इस प्रकार, एस्टोनिया विदेशों के अन्य प्रमुख देशों की तुलना में प्रतिस्पर्धी शिक्षण शुल्क संरचना और छात्रवृति विकल्पों के साथ अध्ययन के लिए नए पसंदीदा यूरोपीय राष्ट्र के रूप में उभर रहा है।

एस्टोनियाई विश्वविद्यालयों में अंग्रेजी में पाठ्यक्रमों में शामिल हैं : स्टार्ट-अप उद्यमिता, गेम डिज़ाइन और विकास, रचनात्मकता और व्यवसाय नवाचार, सॉफ्टवेयर विकास। एस्टोनियाई विश्वविद्यालयों में स्नातक व परास्नातक कार्यक्रम के लिए प्रति वर्ष लगभग 3000 से 6000 यूरो औसत खर्च आता है। आवेदन करने के लिए, छात्र के पिछले पाठ्यक्रम में 5.5 आईईएलटीएस स्कोर के साथ अंग्रेजी भाषा ज्ञान के सबूत के रूप में 50% अंक होना चाहिए।

How is Estonia related to Burundi, how to find jobs in Estonia, Tallinn university Estonia, job opportunities in India and abroad, management in Estonia, hospitality and management in Estonia, पर और अधिक जानकारी के लिए इस खबर को पढ़ें - Estonia, the new study destination for students from the two Telugu states!...

कृपया हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें

 

हस्तक्षेप से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें
facebook फेसबुक पर फॉलो करे.
और
facebook ट्विटर पर फॉलो करे.
"हस्तक्षेप"पाठकों-मित्रों के सहयोग से संचालित होता है। छोटी सी राशि से हस्तक्षेप के संचालन में योगदान दें।