जियो ने लगाए एयरटेल पर राष्ट्रीय सुरक्षा से खिलवाड़ के आरोप ! दूरसंचार विभाग से की शिकायत

एयरटेल ने एप्पल वॉच सीरीज़-3 के ग्राहकों का डेटा विदेश भेजा - आरोप -युनिफाइड लाइसेंस के अनुसार कोई भी टेलीकॉम कंपनी अपने सर्वर देश के बाहर नही लगा सकती।...

एयरटेल ने एप्पल वॉच सीरीज़-3 के ग्राहकों का डेटा विदेश भेजा - आरोप

नई दिल्ली, 13 मई 2018, जियो ने एयरटेल पर एप्पल वॉच सीरीज़-3 (GPS/Cellular) के ग्राहकों के डेटा में सेंध लगाने और राष्ट्र की सुरक्षा से खिलवाड़ का आरोप लगाते हुए दूरसंचार विभाग को खत लिखा है। 11 मई को लिखे इस पत्र में जियो ने आरोप लगाया है कि एयरटेल ने एप्पल वॉच सीरीज़-3 के लिए जरूरी सर्वर विदेश में लगाए हैं। जो लाइसेंस की शर्तों का खुला उल्लंघन है। युनिफाइड लाइसेंस के अनुसार कोई भी टेलीकॉम कंपनी अपने सर्वर देश के बाहर नही लगा सकती।

जियो और एयरटेल दोनों ने ही 11 मई को एप्पल वॉच सीरिज़-3 की बिक्री शुरू की थी। और उसी दिन जियो ने एयरटेल की शिकायत दूरसंचार विभाग से कर दी। जियो का कहना है कि एप्पल वॉच की खास तकनीक की वजह से एक विशेष सर्वर लगाने की जरुरत पड़ती है। सर्वर में नेटवर्क, मोबाइल डिवाइस और ग्राहक की महत्वपूर्ण जानकारियां सेव होती हैं। ऐसे में एयरटेल द्वारा सर्वर विदेश में लगाना लाइसेंस की शर्तों का उल्लंघन तो है ही, इससे एयरटेल के ग्राहकों का डेटा भी खतरे में पड़ सकता है।

जियो ने यह भी आरोप लगाया कि एयरटेल ने अपने कॉमर्शियल हितों के लिए देश की सुरक्षा को भी खतरे में डाल दिया है। एप्पल वॉच सीरीज-3 की सर्विस शुरू करने से पहले एयलटेल ने जरूरी सुरक्षा क्लियरेंस नहीं लिए हैं। देश में किसी भी दूरसंचार सर्विस को शुरू करने से पहले सुरक्षा क्लियरेंस दूरसंचार विभाग और सुरक्षा एजेंसियों से लेना होता है, पर एयरटेल ने इसमें कोताही बरत कर देश की सुरक्षा से खिलवाड़ किया है।

जियो ने दूरसंचार विभाग से एयरटेल के खिलाफ सख्त कदम उठाने की गुजारिश की है। जियो ने कहा है कि एयरटेल को एप्पल वॉच सीरीज़-3 की सर्विस देने से तब तक रोका जाए जब तर वह जरूरी सुरक्षा क्लियरेंस प्राप्त ना कर ले।

हस्तक्षेप से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें
facebook फेसबुक पर फॉलो करे.
और
facebook ट्विटर पर फॉलो करे.
"हस्तक्षेप"पाठकों-मित्रों के सहयोग से संचालित होता है। छोटी सी राशि से हस्तक्षेप के संचालन में योगदान दें।