छत्तीसगढ़ बंद पर माकपा की बधाई, कहा – मोदी-रमन के खिलाफ दिखा जनता का गुस्सा

छत्तीसगढ़ में बंद की इस सफलता से स्पष्ट है कि मोदी और रमन सरकार की नीतियों के खिलाफ आम जनता में कितना जबर्दस्त गुस्सा है.

हस्तक्षेप डेस्क
Updated on : 2018-09-10 18:42:33

छत्तीसगढ़ बंद पर माकपा की बधाई, कहा – मोदी-रमन के खिलाफ दिखा जनता का गुस्सा

रायपुर, 09 सितंबर। मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी ने वामपंथी पार्टियों व अन्य विपक्षी दलों के भारत बंद के आह्वान को छत्तीसगढ़ में मिले जबर्दस्त जन समर्थन पर आम जनता को बधाई दी है तथा कहा है कि छत्तीसगढ़ में बंद की इस सफलता से स्पष्ट है कि मोदी और रमन सरकार की नीतियों के खिलाफ आम जनता में कितना जबर्दस्त गुस्सा है.

आज यहां जारी एक वक्तव्य में माकपा राज्य सचिवमंडल ने कहा है कि पेट्रोल और डीजल की कीमतों की आड़ में आम जनता की जेब में डकैती डालने वाली इस सरकार के खिलाफ इस बंद के जरिये आम जनता ने अपना अविश्वास प्रकट कर दिया है. इस बंद में पेट्रोल-डीजल की कीमतों के साथ ही महंगाई, राफेल सौदे में भ्रष्टाचार, किसानों की कर्ज़मुक्ति व न्यूनतम समर्थन मूल्य, मजदूरों के लिए न्यूनतम 18000 रूपये मजदूरी, बेरोजगारी, दलित-आदिवासी व अल्पसंख्यकों पर हमले व उनकी रक्षा के संवैधानिक प्रावधानों को कुचलने जैसे मुद्दे भी जोड़े गए थे.

माकपा राज्य सचिव संजय पराते ने कहा कि बंद के दिन भी तेल की कीमतों को बढ़ाना आम जनता की जायज चिंताओं के प्रति इस सरकार के हिकारत भरे रवैये को ही प्रदर्शित करता है. इस बंद के जरिये आम जनता ने मोदी-रमन सरकार की जनविरोधी नीतियों को पूरी तरह ठुकरा दिया है. माकपा ने कहा है कि यह बंद भाजपा सरकार की जनविरोधी नीतियों के खिलाफ संघर्ष का एक पड़ाव भर है. आने वाले दिनों में जनपक्षधर वैकल्पिक नीतियों को सामने रखकर और बड़े जनसंघर्ष छेड़े जाएंगे.

ज़रा हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें

rame>

संबंधित समाचार :