सोनिया को जानने वाले मिशेल को हिरासत में बिरयानी खिला रही मोदी सरकार की ईडी

मिशेल 3,600 करोड़ रुपये के अगस्ता वेस्टलैंड वीवीआईपी हेलीकॉप्टर सौदा मामले में कथित बिचौलिया है।...

एजेंसी
सोनिया को जानने वाले मिशेल को हिरासत में बिरयानी खिला रही मोदी सरकार की ईडी  

नई दिल्ली, 5 जनवरी। दिल्ली की एक अदालत ने शनिवार को ब्रिटिश नागरिक क्रिश्चियन जेम्स मिशेल को 26 जनवरी तक के लिए न्यायिक हिरासत में भेज दिया। मिशेल 3,600 करोड़ रुपये के अगस्ता वेस्टलैंड वीवीआईपी हेलीकॉप्टर सौदा मामले में कथित बिचौलिया है।

मिशेल को दोपहर बाद करीब दो बजे विशेष न्यायाधीश अरविंद कुमार के समक्ष पेश किया गया, जिन्होंने उसे न्यायिक हिरासत में भेज दिया।

मिशेल 22 दिसंबर से प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की हिरासत में था।

 

ईडी ने धन शोधन मामले में जांच के संबंध में उसकी न्यायिक हिरासत मांगी थी।

 

अदालत में ईडी के वकील डी.पी. सिंह ने कहा कि इटली की अदालत में सुनवाई के दौरान दाखिल की गई ऑडिट रिपोर्ट तथ्यात्मक रूप से गलत प्रतीत होती है और इसलिए यह देखने की जरूरत है कि कहीं इटली की अदालत ने अपना फैसला इसी ऑडिट रिपोर्ट के आधार पर तो नहीं दिया।

 

सिंह ने अदालत को सूचित किया कि मिशेल की भूमिका की जांच फलदायक साबित हुई है।

 

उन्होंने कहा,

 

"हमने यह जांच की है कि कैसे हवाला नकदी विभिन्न बैंक खातों में पहुंचाई गई।"

उन्होंने कहा कि एजेंसी ने अपराध के वक्त मिशेल द्वारा खरीदी गई संपत्ति की भी पहचान की है।

 

सिंह ने कहा,

"पूछताछ के दौरान, मिशेल ने कई सवालों के विरोधाभासी जवाब दिए और वह विरोधाभासों के बारे में बताने में सक्षम नहीं था।"

 

ईडी के वकील ने यह भी कहा कि मिशेल ने अगस्ता वेस्टलैंड सौदे से 2.42 करोड़ यूरो और 16,096,245 पाउंड प्राप्त किए थे।

 

सिंह ने कहा,

"पूछताछ के दौरान पाया गया कि उसने अन्य रक्षा सौदे से भी रकम हासिल की थी।"

 

मिशेल को चार दिसंबर को संयुक्त अरब अमीरात से प्रत्यर्पित कर भारत लाया गया था। वह 19 दिसंबर तक केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) की हिरासत में रहा।

उधर कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में कहा गया है कि क्रिश्चियन मिशेल ने नया खुलासा किया है। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) की पूछताछ में अब उसने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के एक नेता का नाम लिया है। उसने कहा है कि भाजपा नेता ने ही कंपनी (अगस्ता वेस्टलैंड) का नाम ब्लैकलिस्ट की सूची से हटाने के लिए सिफारिश की थी। हालांकि, उस भाजपा के नेता का नाम सामने नहीं आया है।

इन रिपोर्ट्स पर वरिष्ठ पत्रकार संजय कुमार सिंह ने टिप्पणी की, “'राजदार' तो भाजपा के शिकार पर निकल गया, ऐसे ही बोलता रहा तो छूट जाएगा। लग रहा है समझदार हो गया।”

कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में कहा गया है कि मिशेल के लिए जेल में मिठाई और बिरयानी खिलाई गई।

क्या यह ख़बर/ लेख आपको पसंद आया ? कृपया कमेंट बॉक्स में कमेंट भी करें और शेयर भी करें ताकि ज्यादा लोगों तक बात पहुंचे

कृपया हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें

 

Christian James Mitchell, VVIP Chopper case, Christian Michel,

हस्तक्षेप से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें
facebook फेसबुक पर फॉलो करे.
और
facebook ट्विटर पर फॉलो करे.
"हस्तक्षेप"पाठकों-मित्रों के सहयोग से संचालित होता है। छोटी सी राशि से हस्तक्षेप के संचालन में योगदान दें।