कांग्रेस का आरोप, भाजपा पर्रिकर को 'ही-मैन, सुपरमैन' के रूप में दिखा रही

कांग्रेस का आरोप, भाजपा पर्रिकर को 'ही-मैन, सुपरमैन' के रूप में दिखा रही...

एजेंसी
कांग्रेस का आरोप, भाजपा पर्रिकर को 'ही-मैन, सुपरमैन' के रूप में दिखा रही

पणजी, 19 दिसम्बर। कांग्रेस ने कहा है कि गोवा के अस्वस्थ मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) द्वारा 'ही-मैन या सुपरमैन' के रूप में प्रस्तुत किया जा रहा है और इसके लिए उनका फोटो शूट कराया जा रहा है।

कांग्रेस ने पूर्व रक्षा मंत्री पर्रिकर की 57वें गोवा मुक्ति दिवस परेड में हिस्सा नहीं लेने के लिए आलोचना भी की।

 

कांग्रेस के प्रवक्ता उरफान मुल्ला ने बुधवार को संवाददाताओं से कहा,

"भाजपा सिर्फ फोटो सेशंस कराने में जुटी हुई है, वे गोवा के मुख्यमंत्री को हीमैन या सुपरमैन की तरह प्रस्तुत कर रहे हैं। पर्रिकर के पास अपने चिकित्सक के साथ निर्माणाधीन पुल का निरीक्षण करने के लिए समय और फिटनेस है लेकिन वह गोवा मुक्ति दिवस पर तिरंगा फहराने के लिए मौजूद नहीं रह सकते। यह वास्तव में बेहद दुखद स्थिति है।"

 

कांग्रेस ने सोमवार को मनोहर पर्रिकर (63) को राज्य मुक्ति दिवस के मौके पर राष्ट्रीय ध्वज फहराने की चुनौती दी थी।

 

कांग्रेस ने रविवार को करीब दो महीने के बाद पहली बार पर्रिकर को सार्वजनिक तौर पर दिखाई देने के एक दिन बाद यह चुनौती दी। इस सार्वजनिक उपस्थिति में पर्रिकर पणजी के करीब एक निर्माणाधीन पुल का निरीक्षण किया। इस दौरान उनके साथ चिकित्सकों का एक दल भी मौजूद था।

 

पर्रिकर की रविवार को सार्वजनिक मौजूदगी ऐसे समय में हुई जब बांबे उच्च न्यायालय की पणजी पीठ एक याचिका पर अपना आदेश देने वाली है जिसमें अस्वस्थ मुख्यमंत्री की स्वास्थ्य स्थिति की जानकारी मांगी गई है।

 

पर्रिकर पैंक्रियाटिक कैंसर की बीमारी से जूझ रहे हैं। वह बीते नौ महीनों से गोवा, मुंबई, न्यूयॉर्क व दिल्ली के अस्पतालों से अपना इलाज करा रहे हैं। विपक्ष पर्रिकर के लंबे समय से अस्वस्थ होने को लेकर उनके इस्तीफे की मांग कर रहा है।

क्या यह ख़बर/ लेख आपको पसंद आया ? कृपया कमेंट बॉक्स में कमेंट भी करें और शेयर भी करें ताकि ज्यादा लोगों तक बात पहुंचे

कृपया हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें

 

हस्तक्षेप से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें
facebook फेसबुक पर फॉलो करे.
और
facebook ट्विटर पर फॉलो करे.
"हस्तक्षेप"पाठकों-मित्रों के सहयोग से संचालित होता है। छोटी सी राशि से हस्तक्षेप के संचालन में योगदान दें।