पाटीदारों को मिट्टी में क्यों मिला देना चाहती है भाजपा ? जानें रहस्य

केंद्र सरकार इन दिनों चौतरफा घिरी हुयी है..तमाम समस्याओं के बावजूद भाजपा के जीत के दावे किये जा रहे हैं.....

डीबी लाइव

गुजरात चुनाव को लेकर पाटीदार अनामत आन्दोलन समिति के प्रमुख हार्दिक पटेल ने कांग्रेस को समर्थन देने की घोषणा कर दी है..

प्रेस को संबोधित करते हुए हार्दिक ने भाजपा पर कई तरह के आरोप भी लगाये और खरीद-फरोख्त से अपने साथियों को बचने की सलाह भी दी.

अपनी मांगों को लेकर कांग्रेस के द्वारा किये गए वादे से हार्दिक संतुष्ट हैं और अब कांग्रेस की सरकार बनाने में उनका संगठन मदद करेगा.. लेकिन यहाँ एक सवाल उभरकर आता है कि पिछले 2 वर्षों से हार्दिक का संगठन आरक्षण की मांग को लेकर आन्दोलन कर रहा है.. गुजरात में भाजपा की सरकार है..और पाटीदार भाजपा के समर्थक माने जाते रहे हैं..फिर भी हार्दिक और गुजरात की भाजपा सरकार के बीच कोई सुलह क्यों नहीं हो पाई?

हार्दिक के बारे में यह भी कहा जा रहा है कि उनकी उम्र कम है और अभी राजनीतिक रूप से वे परिपक्व नहीं हैं इसलिए पाटीदारों का जो बुजुर्ग वर्ग है वो उनके साथ नहीं है और उनका समर्थन भाजपा को मिलेगा..अगर इस बात में सच्चाई है तब तो भाजपा के लिए कोई मुश्किल नहीं है..

चुनावी जोड़-तोड़ में भाजपा आगे है. वहीँ दूसरी पार्टियाँ जैसे-आम आदमी पार्टी ने अपने 11 प्रत्याशियों को उन जगहों से टिकट दिया है जहाँ कांग्रेस मजबूत रही है..शंकर सिंह वाघेला भी कांग्रेस को ही नुक्सान पहुंचाएंगे..एनसीपी और नीतीश गुट JDU भी अलग से चुनाव लड़ रहे हैं. निर्दलीय तो हैं ही. ऐसे में कांग्रेस क्या एक मजबूत विपक्ष के रूप में दिखाई देती है?  

केंद्र सरकार इन दिनों चौतरफा घिरी हुयी है..संसद का शीतकालीन सत्र टालने को लेकर कांग्रेस ने सवाल उठाये हैं. पद्मावती के विरोध पर मोदी जी चुप्पी साधे हुए हैं, GST से हुए नुक्सान से व्यापारी तो नाराज़ चल ही रहे हैं. किसानों ने भी दिल्ली में आन्दोलन किया है..और इसी बीच गुजरात में चुवाव होने वाले हैं..लेकिन तमाम समस्याओं के बावजूद भाजपा के जीत के दावे किये जा रहे हैं..क्योंकि कहा ये जा रहा है कि कांग्रेस अभी भी मोदी और उनकी टीम के सामने छोटी दिख रही है..?

तो अब हार्दिक पटेल के कांग्रेस को समर्थन के बाद गुजरात का चुनावी समर और भी रोचक हो गया है..देखना दिलचस्प होगा कि दांव-पेंच की लड़ाई में भाजपा अपनी सत्ता बरकरार रख पाती है, या कांग्रेस बाज़ी मार लेगी..क्योंकि जैसे-जैसे चुनाव का समय नज़दीक आ रहा है दोनों प्रमुख दल उतने ही आक्रामक होते नज़र आ रहे हैं…. आइए इन सवालों के जवाब सुनते हैं देशबन्धु ऑनलाइन के एडिटर अमलेन्दु उपाध्याय से और जानने की कोशिश करते हैं आखिर भाजपा पाटीदारों को मिट्टी में मिलाना क्यों चाहती है। देखते हैं डीबी लाइव पर यह चर्चा कुल 17 मिनट 37 सेकंड में।

DB LIVE APP :https://play.google.com/store/apps/de...

DB LIVE TV : http://dblive.tv/

SUBSCRIBE TO OUR CHANNEL: https://www.youtube.com/channel/UCBbp...

DESHBANDHU :http://www.deshbandhu.co.in/

FACEBOOK : https://www.facebook.com/DBlivenews/

TWITTER : https://twitter.com/dblive15

 

हस्तक्षेप से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें
facebook फेसबुक पर फॉलो करे.
और
facebook ट्विटर पर फॉलो करे.
"हस्तक्षेप"पाठकों-मित्रों के सहयोग से संचालित होता है। छोटी सी राशि से हस्तक्षेप के संचालन में योगदान दें।