देवरिया महिला संरक्षण गृह मामला : एडवा ने मांगा रीता बहुगुणा जोशी का इस्तीफा

देवरिया महिला संरक्षण गृह मामला : एडवा ने मांगा रीता बहुगुणा जोशी का इस्तीफा

लखनऊ, 08 अगस्त। अखिल भारतीय जनवादी महिला समिति (एडवा) और भारतीय महिला फेडरेशन ने देवरिया महिला संरक्षण गृह मामले में महिला एवं बाल कल्याण मंत्री रीता बहुगुणा जोशी से इस मामले की नैतिक जिम्मेदारी लेते हुये इस्तीफे की मांग की है।

एडवा की प्रदेश सचिव मधु गर्ग ने घटना की जांच केन्द्रीय जांच ब्यूरो द्वारा कराने की मांग की है। उन्होंने आरोप लगाया है कि बिना राजनैतिक संरक्षण के गोरखधन्धा चलना असम्भव है।

सुश्री गर्ग ने कहा कि जब देवरिया के जिला प्रोबेशन अधिकारी ने गत 31 जुलाई को संरक्षण गृह के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करा दी थी तो फिर उसके खिलाफ कार्रवाई क्यों नहीं की गयी। उन्होंने कहा कि संरक्षण गृह के कर्ताधर्ता प्रशासन को लगातार गुमराह करते रहे कि उनके पास उच्च न्यायालय का स्थगन आदेश है।

भारतीय महिला फेडरेशन की नेत्री आशा मिश्रा ने जिम्मेदार पुलिस अधिकारियों और जिलाधिकारियों को तत्काल बर्खास्त किये जाने की मांग की ही है। उन्होंने संरक्षण गृहों में रहने वाले बालकों, किशोरियों और महिलाओं को पारिवारिक माहौल उपलब्ध कराये जाने की मांग की है।

हस्तक्षेप से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें
facebook फेसबुक पर फॉलो करे.
और
facebook ट्विटर पर फॉलो करे.
"हस्तक्षेप"पाठकों-मित्रों के सहयोग से संचालित होता है। छोटी सी राशि से हस्तक्षेप के संचालन में योगदान दें।