हुई आलोचना तो आलोचकों को धोनी ने दिया ये जवाब

धोनी ने उन आलोचनाओं का जबाव देते हुए कहा कि खिलाड़ी की व्यक्तिगत प्राथमिकता की आलोचना नहीं की जानी चाहिए। ...

एजेंसी
हुई आलोचना तो आलोचकों को धोनी ने दिया ये जवाब

चेन्नई, 29 दिसम्बर। मुख्य चयनकर्ता एमएसके प्रसाद के रणजी ट्रॉफी खेलने की बात को नजरअंदाज करने के बाद भारत के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी की काफी आलोचना हुई थी और अब धोनी ने उन आलोचनाओं का जबाव देते हुए कहा कि खिलाड़ी की व्यक्तिगत प्राथमिकता की आलोचना नहीं की जानी चाहिए।

 

धोनी के घरेलू टूर्नामेंट न खेलने पर कई लोगों ने आपत्ति जताई थी और कहा था कि अगर वह फिट हैं तो उन्हें घरेलू क्रिकेट खेलना चाहिए।

 

वेबसाइट ईएसपीएनक्रिकइंफो ने धोनी के हवाले से लिखा है,

"खिलाड़ियों को सुरक्षित करना बेहद जरूरी है। हमें अपने घरेलू सत्र को खिलाड़ियों के लिए थोड़ा कम प्रतिद्वंद्वी बनाना होगा। यह जरूरी है कि टी-20 क्रिकेट और व्यक्तिगत प्राथमिकता के प्रति ज्यादा आलोचनात्कम रवैया न अपनाया जाए। व्यक्तिगत प्राथमिकता की आलोचना नहीं की जानी चाहिए।"

 

धोनी ने यह बात भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के पूर्व अध्यक्ष एन. श्रीनिवासन की किताब के लांच के मौके पर कही।

 

धोनी के अलावा शिखर धवन ने भी घरेलू क्रिकेट में कदम नहीं रखा। अंबाती रायडू ने प्रथम श्रेणी क्रिकेट से संन्यास ले लिया है ताकि वह आने वाले विश्व कप पर ध्यान दे सकें।

क्या यह ख़बर/ लेख आपको पसंद आया ? कृपया कमेंट बॉक्स में कमेंट भी करें और शेयर भी करें ताकि ज्यादा लोगों तक बात पहुंचे

कृपया हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें

Mahendra Singh Dhoni, महेंद्र सिंह धोनी, टी-20 क्रिकेट, प्रथम श्रेणी क्रिकेट, क्रिकेट, क्रिकेट समाचार, T-20 cricket, first-class cricket, cricket, cricket news, Dhoni news,

हस्तक्षेप से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें
facebook फेसबुक पर फॉलो करे.
और
facebook ट्विटर पर फॉलो करे.
"हस्तक्षेप"पाठकों-मित्रों के सहयोग से संचालित होता है। छोटी सी राशि से हस्तक्षेप के संचालन में योगदान दें।