सरकार ने खुद कबूला कि पिछले दो महीने में काट दी गई है 12 लाख घरों की बिजली : आलोक अग्रवाल

बिजली के दो विज्ञापनों में दिए गए अलग-अलग आंकड़े पहले दावा किया 15 लाख कनेक्शन का, अब कह रहे हैं 3.05 कनेक्शन दिए गए

हस्तक्षेप डेस्क
Updated on : 2018-08-31 11:59:06

सरकार ने खुद कबूला कि पिछले दो महीने में काट दी गई है 12 लाख घरों की बिजली : आलोक अग्रवाल

बिजली के दो विज्ञापनों में दिए गए अलग-अलग आंकड़े

पहले दावा किया 15 लाख कनेक्शन का, अब कह रहे हैं 3.05 कनेक्शन दिए गए

भोपाल, 31 अगस्त। आम आदमी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष और राष्ट्रीय प्रवक्ता आलोक अग्रवाल ने प्रदेश की भाजपा सरकार के एक ही योजना के बारे में दिए गए दो विज्ञापनों में दिए गए दो अलग-अलग आंकड़ों पर सरकार की तीखी आलोचना की है। उन्होंने कहा है कि शिवराज सिंह सरकार ने दो विज्ञापन दिए। इनमें से 1 जून के विज्ञापन में कहा गया कि सौभाग्य योजना के तहत शेष 43 लाख घरों को अक्टूबर 2018 तक बिजली दी जाएगी और अभी तक 15 लाख कनेक्शन दिये हैं। इसके बाद सरकार की ओर से 31 अगस्त को जारी विज्ञापन में आज कहा गया है कि शेष 43 लाख घरों को अक्टूबर तक बिजली दी जाएगी, और अभी तक 3.05 लाख कनेक्शन दिए गए हैं।

इस विज्ञापनों पर सवाल उठाते हुए श्री अग्रवाल ने कहा है कि यह विज्ञापन साफ करते हैं कि शिवराज सिंह झूठे हैं और सरकार की उपलब्धियों की घोषणाएं करने में आंकड़ों की एकरूपता भी नहीं रख पा रहे हैं। इसके बावजूद अगर इन्हें सच मानें तो क्या यह समझा जाए कि पिछले तीन में में 12 लाख घरों की बिजली काट दी गई है। उन्होंने कहा कि आम आदमी पार्टी लगातार कहती रही है कि प्रदेश के 43 लाख घरों में बिजली नहीं है। यह तब है जबकि प्रदेश में बिजली की उपलब्धता मांग से ज्यादा है। असल में सरकार की नीयत ही नहीं है कि वह प्रदेश के सभी घरों में बिजली पहुंचाए। उन्होंने कहा कि शिवराज सिंह सरकार ने अपने झूठे आंकड़ों और दावों के जरिये जनता को भ्रमित किया है, इसके लिए उन्हें जनता से माफी मांगनी चाहिए।

उन्होंने ट्विटर पर सवालिया लहजे में लिखा है- मध्य प्रदेश में कुल 1 करोड़ घरों में से 43 लाख घरों में आज भी अंधेरा है। जो 15 साल में नहीं कर सके वह अब 2 महीने में करेंगे? आगे लिखा है- न कांग्रेस रोशनी दे सकी, न भाजपा। भ्रष्ट भाजपा, भ्रष्ट कांग्रेस। आओ बदलें मध्य प्रदेश।

गौरतलब है कि आम आदमी पार्टी अब तक बिजली के 2 लाख करोड़ रुपए से ज्यादा के घोटालों का पर्दाफाश कर चुकी है। इसके अलावा महंगी बिजली के खिलाफ लगातार सड़कों पर आंदोलन के जरिये बताया है कि इस बिजली की लूट में कांग्रेस और भाजपा की मिलीभगत है।

ज़रा हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें

rame>

संबंधित समाचार :