छात्रों में पर्यावरण संबंधी जागरूकता को बढ़ाने के लिए साथ आए आईसीएफआरई, नवोदय विद्यालय और केन्द्रीय विद्यालय

छात्रों में पर्यावरण संबंधी जागरूकता को बढ़ाने के लिए आईसीएफआरई और नवोदय विद्यालय समिति तथा केन्द्रीय विद्यालय संगठन के बीच समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर...

छात्रों में पर्यावरण संबंधी जागरूकता को बढ़ाने के लिए साथ आए आईसीएफआरई, नवोदय विद्यालय और केन्द्रीय विद्यालय

छात्रों में पर्यावरण संबंधी जागरूकता को बढ़ाने के लिए आईसीएफआरई और नवोदय विद्यालय समिति तथा केन्द्रीय विद्यालय संगठन के बीच समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर

नई दिल्ली, 15 अक्तूबर। भारतीय वानिकी अनुसंधान एवं शिक्षा परिषद् (आईसीएफआरई), देहरादून ने आज नई दिल्ली में नवोदय विद्यालय समिति (एनबीएस) और केन्द्रीय विद्यालय संगठन (केवीएस) के साथ एक समझौता ज्ञापन कर हस्ताक्षर किए। आईसीएफआरई पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय के अंतर्गत एक स्वायत्तशासी परिषद् है।

एक सरकारी प्रवक्ता ने बताया कि समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर वन और पर्यावरण के बारे में एनबीएस और केवीएस के छात्रों के बीच जागरूकता बढ़ाने के उद्देश्य के साथ प्रकृति कार्यक्रम की शुरूआत के लिए किए गए ताकि संतुलित वातावरण बनाए रखने और कौशल हासिल करने के प्रति छात्रों की दिलचस्पी बढ़ाई जा सके। इसका एक अन्य उद्देश्य स्कूली बच्चों को व्यवहारिक कौशल सीखने के लिए एक मंच प्रदान करना है ताकि वे अपने संसाधनों का न्यायसंगत इस्तेमाल कर सकें और वन और पर्यावरण के संरक्षण के लिए जन आंदोलन बनाने के लिए युवाओँ का एक कैडर तैयार कर सकें।

इस सहयोग के जरिए एनबीएस और केवीएस के छात्रों / अध्यापकों को पर्यावरण, वन, पर्यावरण संबंधी सेवाओं और वानिकी अनुसंधान के सामयिक क्षेत्रों के बारे में व्याख्यानों तथा आईसीएफआरई संस्थान के वैज्ञानिकों द्वारा संवाद सत्रों के जरिए जानकारी प्रदान की जाएगी।

10 वर्ष के लिए है समझौता

समझौता ज्ञापन पर 10 वर्ष की अवधि के लिए हस्ताक्षर किए गए हैं और उम्मीद है कि इससे पर्यावरण के राष्ट्रीय और वैश्विक मुद्दों के बारे में देश के युवा को संवेदनशील बनाया जा सकेगा और वे अधिक जिम्मेदार नागरिक बन सकेंगे।

समझौता ज्ञापन पर मंत्रालय की ओर से सचिव श्री सी.के.मिश्रा, वन महानिदेशक और मंत्रालय में विशेष सचिव श्री सिद्धांत दास और आईसीएफआरई, देहरादून के महानिदेशक डॉ. एस.सी. गैरोला, एनवीएस आयुक्त श्री बी.के.सिन्हा और केवीएस आयुक्त श्री संतोष कुमार मॉल ने अन्य वरिष्ठ अधिकारियों की उपस्थिति में हस्ताक्षर किए।

कृपया हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें

हस्तक्षेप से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें
facebook फेसबुक पर फॉलो करे.
और
facebook ट्विटर पर फॉलो करे.
"हस्तक्षेप"पाठकों-मित्रों के सहयोग से संचालित होता है। छोटी सी राशि से हस्तक्षेप के संचालन में योगदान दें।