और राजनाथ सिंह हो गए संघी आर्मी की ट्रॉलिंग के शिकार

राजनाथ सिंह ने गृहमंत्री होने का सुबूत देते हुए कश्मीरी जनता की तारीफ में सच लिख दिया जिस प्रकार से कश्मीर के लोगों ने अमरनाथ जत्थे पर हुए हमले का विरोध किया है वह कश्मीरियत वाली तहजीब को दर्शाता है...

नई दिल्ली। आज गृह मंत्री राजनाथ सिंह हुए संघी आर्मी की ट्रॉलिंग के शिकार हो गए।

दरअसल गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने आज अपने भारत का गृहमंत्री होने का सुबूत देते हुए ट्विटर पर कश्मीरी जनता की तारीफ में सच लिख दिया कि जिस प्रकार से कश्मीर के लोगों ने अमरनाथ जत्थे पर हुए हमले का विरोध किया है वह कश्मीर की कश्मीरियत वाली तहजीब को दर्शाता है। अमरनाथ यात्रियों पर हुए अटैक का विरोध कश्मीर कर रहे हैं इसका मतलब है कि कश्मीरियत ज़िंदा है।

गृहमंत्री ने कश्मीरियत की तारीफ कि और फिर संघी ट्रॉलिंग गैंग ने उनको भद्दी ज़ुबान में अपनी संस्कृति के परिचय करा दिया।

मजे की बात यह है कि इन संघी ट्रोल्स में भाजपा के थिंक टैंक बलबीर पुंज भी कूद पड़े और लगे हाथ उन्होंने भी गृहमंत्री को नफरत का पाठ पढ़ाने की कोशिश की।

त्रिजटा (@trijata7) ने लिखा -

यार आप ठाकुर ही हो ?? संघ की शाखाओं में गए कभी ? ये घिघियाहट

ये आत्मसमर्पण

ये ठीठपना तो नही सिखाता संघ

शर्म करिये कृपया शर्म करिये

Situ sharma (@situgagansharma) ने लिखा -

देश का सबसे घटिया गृहमंत्री! इनसे किसीं कड़े कार्यवाई की उम्मीद से अच्छा लोग इस्लाम स्वीकार कर लें, या बिगुल फूँक दे इनके बस का कुछ नही

ढक्कन बाले दद्दा,, (@schaturvedi2016) नाम के यूसर ने दूसरे को नसीहत भी दी कि ट्रेंड का ध्यान रखो उसके बाद Cheat_Minister (@girishjaiswal19) नाम के यूसर ने OK  दद्दा कहते हुए #NotInMyGame हैशटैग का प्रयोग किया।




हस्तक्षेप से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें
facebook फेसबुक पर फॉलो करे.
और
facebook ट्विटर पर फॉलो करे.
"हस्तक्षेप"पाठकों-मित्रों के सहयोग से संचालित होता है। छोटी सी राशि से हस्तक्षेप के संचालन में योगदान दें।