कारपोरेट और धन्नासेठों की डूबन्त का 17 फीसदी ही है किसानों का कर्ज

नई दिल्ली। मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के महासचिव सीताराम येचुरी ने कहा है खेती पर कुल बुरा कर्जा 1 लाख 20 हजार करोड़ रूपये है, जो बैंको के NPA यानि कारपोरेट और धन्नासेठों की डूबन्त खाते में डली रकम का मात्र 17-18 प्रतिशत ही है।

कामरेड येचुरी ने इस संबंध में माइक्रो ब्लॉगिंग साइट ट्विटर पर सिलसिलेवार कई ट्वीट किए।

उन्होंने कहा कि किसानों के छोटी मात्रा में कर्ज माफी को लेकर इतना हो हल्ला क्यों है लेकिन जनता के धन से बड़े कॉरपोरेट्स को कर्जमाफी पर कोई शोर नहीं ?

हस्तक्षेप से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें
facebook फेसबुक पर फॉलो करे.
और
facebook ट्विटर पर फॉलो करे.
"हस्तक्षेप"पाठकों-मित्रों के सहयोग से संचालित होता है। छोटी सी राशि से हस्तक्षेप के संचालन में योगदान दें।
hastakshep
>