एफटीआईआई का अध्यक्ष बनकर कुछ साबित नहीं करना चाहता - अनुपम खेर

अनुपम खेर एफटीआईआई का अध्यक्ष चुने जाने के बाद पहली बार आये मीडिया के सामने, कहा मैं अध्यक्ष बनकर कुछ साबित नहीं करना चाहता...

एजेंसी
हाइलाइट्स

500 से अधिक फिल्मों में काम करने वाले वरिष्ठ अभिनेता अनुपम खेर को पुणे में स्थित फिल्म एंड टेलीविजन इंस्टिट्यूट ऑफ इण्डिया के अध्यक्ष के तौर पर चुना गया है। अध्यक्ष के तौर पर खेर पहली बार मीडिया के सामने आये और उन्होंने कहा, "मैं चेयरमैंन बनकर कुछ साबित नहीं करना चाहता हूँ और ना ही मेरे ऊपर किसी तरह का दबाव है।

अनुपम खेर एफटीआईआई का अध्यक्ष चुने जाने के बाद पहली बार आये मीडिया के सामने, कहा मैं अध्यक्ष बनकर कुछ साबित नहीं करना चाहता

न्यूज़ हेल्पलाइन,

मुंबई, 12 अक्टूबर, 2017

500 से अधिक फिल्मों में काम करने वाले वरिष्ठ अभिनेता अनुपम खेर को पुणे में स्थित फिल्म एंड टेलीविजन इंस्टिट्यूट ऑफ इण्डिया के अध्यक्ष के तौर पर चुना गया है। अध्यक्ष के तौर पर खेर पहली बार मीडिया के सामने आये और उन्होंने कहा, "मैं चेयरमैंन बनकर कुछ साबित नहीं करना चाहता हूँ और ना ही मेरे ऊपर किसी तरह का दबाव है।

 वर्ष 2015 में गजेंद्र चौहान को एफटीआईआई के अध्यक्ष तौर पर चुना गया था, जिसके बाद से ही वे लगातार चर्चा में बने रहे थे। उनके 2 वर्षो के कार्यकाल में एफटीआईआई के विद्यार्थियों द्वारा 139 से अधिक बार आंदोलन किया गया उनका मानना था कि राजनितिक तौर पर गजेंद्र चौहान को अध्यक्ष चुना गया है। मार्च 2017 में गजेंद्र चौहान का कार्यकाल ख़तम हो गया और लगभग चार महीनो के बाद अभिनेता अनुपम खेर को उस पद के लिए चुना गया है। जब अभिनेता से पूछा गया कि क्या आपके ऊपर किसी प्रकार का दबाव है तो उन्होंने कहा, " फिलहाल तो मैं सिर्फ खुश हूँ और किसी प्रकार का दबाव नहीं महशुश कर रहा हूँ। हाँ एक जिम्मेदारी जरूर है और मैं पूरी तरह से निभाने प्रयास करूँगा। मैं एफटीआईआई को नई शुरुआत के साथ आगे बढ़ाने की कोशिश करूँगा।

 किसी प्लान के बारे में बात करते हुए अभिनेता ने कहा, " फिलहाल मैं किसी भी प्रकार का प्लान नहीं बना रहा हूँ, पर मैं इस स्थान से बहुत कुछ प्राप्त कर सकूंगा। नए विद्यार्थियों के साथ बहुत कुछ सीखने को मिलेगा।

एफटीआईआई का अध्यक्ष चुने जाने पर उन्होंने कहा, "यह मेरा सौभाग्य है कि मुझे इस पद के लिए चुना गया पर साथ ही , मेरे लिए यह बहुत बड़ी जिम्मेदारी होगी "

 "यह सौभाग्य मुझे तब मिला है जब मैं व्यस्तता से दूर हूँ, मैं देश-विदेश की कई फिल्मों में काम कर चुका हूँ। पिछले 45 वर्षो के अनुभव के बाद मुझे लगता है मैं इस पद पर अपनी जिम्मेदारी निभाने में सफल रहूँगा। मैं प्रयास करूँगा कि एफटीआईआई के विद्यार्थियों के साथ और टीचर्स के साथ मिलकर काम करू।

अनुपम खेर को आखिरी बार हाल में ही रिलीज हुई फिल्म 'जुड़वाँ' 2 में देखा गया था। और खेर द्वारा निर्मित फिल्म रांची डायरीज 13 अक्टूबर 2017 को सिनेमा घरो में रिलीज होगी।

हस्तक्षेप मित्रों के सहयोग से संचालित होता है। आप भी मदद करके इस अभियान में सहयोगी बन सकते हैं।

हस्तक्षेप से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें
facebook फेसबुक पर फॉलो करे.
और
facebook ट्विटर पर फॉलो करे.
"हस्तक्षेप"पाठकों-मित्रों के सहयोग से संचालित होता है। छोटी सी राशि से हस्तक्षेप के संचालन में योगदान दें।
hastakshep
>