जलवायु परिवर्तन के खिलाफ लड़ाई में जी-20 की प्रतिबद्धता का गुटेरेस ने स्वागत किया

संयुक्त राष्ट्र के महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने 2018 जी -20 सम्मेलन के समापन पर शनिवार को जारी घोषणापत्र का स्वागत किया ...

एजेंसी
जलवायु परिवर्तन के खिलाफ लड़ाई में जी-20 की प्रतिबद्धता का गुटेरेस ने स्वागत किया

संयुक्त राष्ट्र, 3 दिसम्बर। संयुक्त राष्ट्र के महासचिव एंटोनियो गुटेरेस ने 2018 जी -20 सम्मेलन के समापन पर शनिवार को जारी घोषणापत्र का स्वागत किया जिसमें जलवायु परिवर्तन के खिलाफ लड़ाई में प्रतिबद्धता की पुष्टि की गई है।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ की रिपोर्ट के अनुसार, गुटेरेस ने रविवार को जारी एक बयान के तीन प्रमुख बिंदुओं का जिक्र किया।

महासचिव ने कहा, "घोषणापत्र में मजबूत वैश्वीकरण के लिए संयुक्त राष्ट्र के ब्लूप्रिंट सतत विकास के एजेंडा 2030 के समर्थन की पुष्टि की गई है। इसी के साथ मजबूत, टिकाऊ, संतुलित और समावेशी विकास को प्राप्त करने के लिए सभी नीतिगत उपकरणों का प्रयोग करने की शपथ ली गई है।

उन्होंने कहा,

"जलवायु परिवर्तन के खिलाफ लड़ाई में उच्चाकांक्षा बढ़ाने की जरूरत पर बल देते हुए जी -20 नेताओं ने अपने स्तर पर निर्धारित योगदान की प्रतिबद्धताओं को लागू करने के लिए 2015 के पेरिस समझौते के हस्ताक्षरकर्ता देशों का मजबूत समर्थन व्यक्त किया है।"

संयुक्त राष्ट्र के प्रमुख ने कहा कि घोषणा में जी -20 नेताओं ने व्यापार के लिए बहुपक्षीय ²ष्टिकोण और विश्व व्यापार संगठन के सुधार के महत्व को भी रेखांकित किया।

महासचिव ने अपनी बात समाप्त करते हुए कहा कि जी -20 में पर्यावरणीय रूप से हानिकारक गैसों के उत्सर्जक देश शामिल हैं और उन देशों द्वारा जारी यह घोषणापत्र जलवायु परिवर्तन की वैश्विक चुनौती के समाधान के लिए आशा प्रदान करता है।

क्या यह ख़बर/ लेख आपको पसंद आया ? कृपया कमेंट बॉक्स में कमेंट भी करें और शेयर भी करें ताकि ज्यादा लोगों तक बात पहुंचे

कृपया हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें

हस्तक्षेप से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें
facebook फेसबुक पर फॉलो करे.
और
facebook ट्विटर पर फॉलो करे.
"हस्तक्षेप"पाठकों-मित्रों के सहयोग से संचालित होता है। छोटी सी राशि से हस्तक्षेप के संचालन में योगदान दें।