घोर संकट में अर्थव्यवस्था : पटेल के बाद अब प्रधानमंत्री की आर्थिक सलाहकार परिषद से सुरजीत भल्ला का इस्तीफा

Economy in a severe crisis: after Patel, Surjeet Bhalla's resignation from Prime Minister's Economic Advisory Council ...

एजेंसी
घोर संकट में अर्थव्यवस्था : पटेल के बाद अब प्रधानमंत्री की आर्थिक सलाहकार परिषद से सुरजीत भल्ला का इस्तीफा

Economy in a severe crisis: after Patel, Surjeet Bhalla's resignation from Prime Minister's Economic Advisory Council 

नई दिल्ली, 11 दिसम्बर। अर्थशास्त्री सुरजीत भल्ला ने प्रधानमंत्री की आर्थिक सलाहकार परिषद (ईएसी-पीएम) से इस्तीफा दे दिया है।

भल्ला प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार की नोटबंदी और अन्य आर्थिक मुद्दों के मुखर समर्थक रहे हैं।

The second high profile official of the Modi Government who resigned in the last two days

भल्ला परिषद में अंशकालिक सदस्य थे। भल्ला पिछले दो दिनों में इस्तीफा देने वाले मोदी सरकार के दूसरे हाई प्रोफाइल अधिकारी हैं।

प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि भल्ला के इस्तीफे पर खुलासा तब हुआ, जब पीएमओ ने घोषणा की कि प्रधानमंत्री मोदी ने उनका इस्तीफा स्वीकार कर लिया है, जो एक दिसंबर को दिया गया था। 'अपने अनुरोध में उन्होंने कहा है कि वह किसी अन्य संस्था से जुड़ेंगे।'

भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) के गवर्नर उर्जित पटेल के इस्तीफे के एक दिन बाद भल्ला के इस्तीफे की घोषणा हुई है, जो पिछले 40 सालों में पहली घटना है।

भल्ला ने ट्वीट किया कि उन्होंने एक समाचार चैनल के साथ बतौर कंसल्टैंट काम करने और वर्ष 1952 से भारतीय चुनाव पर एक किताब पर काम करने के लिए एक दिसंबर को ही अपने पद से इस्तीफा दे दिया था। उन्होंने राजस्थान, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ के विधानसभा चुनावों में भाजपा की जीत की भविष्यवाणी की थी।

बता दें कि उर्जित पटेल समेत कई वरिष्ठ अर्थशास्त्रियों ने व्यक्तिगत कारणों का हवाला देते हुए वर्तमान सरकार से किनारा किया है। जून में अरविंद सुब्रह्मण्यम ने व्यक्तिगत कारणों का हवाला देते हुए मुख्य आर्थिक सलाहकार पद से इस्तीफा दे दिया था। पिछले साल अगस्त में अरविंद पनगढ़िया ने अपने शिक्षण करियर में लौटने के लिए नीति अयोग के उपाध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया था।

क्या यह ख़बर/ लेख आपको पसंद आया ? कृपया कमेंट बॉक्स में कमेंट भी करें और शेयर भी करें ताकि ज्यादा लोगों तक बात पहुंचे

कृपया हमारा यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें

 

हस्तक्षेप से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें
facebook फेसबुक पर फॉलो करे.
और
facebook ट्विटर पर फॉलो करे.
"हस्तक्षेप"पाठकों-मित्रों के सहयोग से संचालित होता है। छोटी सी राशि से हस्तक्षेप के संचालन में योगदान दें।