झारखंड : पल-पल बदलते समीकरणों के बीच काफी ऊहापोह में फंसा रहा राज्यसभा चुनाव

मायावती ने बचाई कांग्रेस की जान.... ...

अतिथि लेखक

विशद् कुमार

रांची :

झारखंड में राज्यसभा की दो सीटों पर हुए चुनाव में देर रात तक गहमागहमी का माहौल बना रहा है. पल-पल में समीकरण बदलते रहे. मतगणना के बाद कांग्रेस प्रत्याशी  धीरज साहू, प्रदीप बलमुचू बाहर आये. एक चैनल के पत्रकार से बात करते हुए  श्री साहू ने अपनी हार को स्वीकार करते भाजपा प्रत्याशी समीर उरांव व  प्रदीप सोंथालिया को बधाई भी दे दी. 

इसके बाद भाजपा कार्यकर्ता समीर उरांव व  प्रदीप सोंथालिया की जीत का नारा लगाने लगे. वहीं दूसरी तरफ कांग्रेस  कार्यकर्ताओं में मायूसी छा गयी. इसी बीच भाजपा नेता राधा कृष्ण किशोर ने  धीरज साहू से बातचीत की. इसके बाद धीरज साहू फिर से मतगणना स्थल पर  गये. थोड़ी देर में लौट कर उन्होंने बताया कि वे जीत गये हैं. इसके बाद  कांग्रेस कार्यकर्ता नारेबाजी करने लगे. भाजपा कार्यकर्ताअों में मायूसी छा  गयी. भाजपा व कांग्रेस कार्यकर्ताओं के सुर बदल गये.  

भाजपा कार्यकर्ता समीर उरांव व कांग्रेस कार्यकर्ता धीरज  साहू की जीत के नारे लगाने लगे. इसके बाद भाजपा की ओर से आपत्ति जतायी गयी.  इसके बाद भाजपा व कांग्रेस के कार्यकर्ता आमने-सामने हो गये. निर्वाचन  आयोग की अाधिकारिक घोषणा के इंतजार में कांग्रेस व भाजपा के नेता देर रात तक विधानसभा में जमे रहे. 

देर रात तक जमे रहे भाजपा-कांग्रेस के कार्यकर्ता  

भाजपा की ओर से की गयी आपत्ति के बाद निर्वाची पदाधिकारी की ओर से परिणाम की आधिकारिक घोषणा रोक दी गयी. दोनों पक्षों की ओर से जीत का दावा किया जा रहा था. भाजपा की ओर से मत पत्र को रद्द करने को लेकर नारेबाजी की जा रही थी. वहीं कांग्रेस की ओर से कहा जा रहा था कि भाजपा जानबूझ कर मतगणना को लटकाना चाहती है. 

इस दौरान भाजपा व कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने जम कर नारेबाजी की. इनके बीच टकराव की भी स्थित उत्पन्न हो गयी. इधर, पोलिंग बूथ के आसपास काफी संख्या में पुलिस बल तैनात कर  दिया गया. कांग्रेस की ओर से डॉ अजय कुमार, सुखदेव भगत, आलमगीर आलम,  आलोक दुबे समेत कई कार्यकर्ता व भाजपा की ओर से विधायक अनंत ओझा, प्रदीप वर्मा, गणेश मिश्रा, सुबोध सिंह गुड्डू, अमित कुमार समेत कई कार्यकर्ता मौजूद थे.

मायावती के निर्देश के बाद माने शिवपूजन

बसपा विधायक कुशवाहा शिवपूजन मेहता एक बजे तक वोट देने नहीं पहुंचे थे़   तब उनकी खोज होने लगी. तब प्रभारी आरपीएन सिंह ने लखनऊ में बसपा के केंद्रीय नेताओं से संपर्क साधा. इसके बाद बसपा विधायक कांग्रेस के कुछ नेताओं के साथ विधानसभा पहुंचे. 

उन्हें सीधे प्रतिपक्ष के नेता हेमंत सोरेन के कक्ष में लाया गया.  यहां विधायक श्री मेहता की बसपा नेता सतीश चंद्र मिश्रा से बात करायी गयी. बसपा नेता सतीश चंद्र मिश्रा ने पार्टी अध्यक्ष मायावती का संदेश बताया.  विधायक से कहा गया कि पार्टी ने यूपीए प्रत्याशी धीरज साहू को वोट देने का तय किया है. मायावती के निर्देश के बाद वह वोट देने के लिए तैयार हुए.  

निर्मला के आने में हो रही थी देरी, हुई परेशानी

कांग्रेस विधायक निर्मला देवी साढ़े बजे तक विधानसभा नहीं पहुंची थी. प्रभारी आरपीएन सिंह, प्रदेश अध्यक्ष डॉ अजय, पूर्व प्रदेश अध्यक्ष सुखदेव भगत और प्रत्याशी धीरज साहू परेशान थे. निर्मला देवी के आने में देरी पर प्रभारी श्री सिंह नाराज थे.  

उन्होंने प्रदेश अध्यक्ष से कहा : पत्र तैयार रखो, चार बजे के बाद पार्टी से हटाओ़  केंद्रीय नेतृत्व से भी इस बाबत बात कर ली गयी थी.  इस बीच पूर्व केंद्रीय मंत्री सुबोधकांत सहाय के साथ विधायक निर्मला देवी, उनके पति व पूर्व मंत्री योगेंद्र साव और बेटी विधानसभा पहुंचे़   फिर प्रतिपक्ष के नेता हेमंत सोरेन के कक्ष में थोड़ी देर बैठने के बाद निर्मला वोट देने के लिए निकली. 

किसने किसको वोट दिया

समीर को इन्होंने वोट दिये 

1. सरयू राय, 2. चंद्रप्रकाश चौधरी, 3. मेनका सरदार, 4. विमला प्रधान, 5. हरेकृष्ण सिंह, 6.  ताला मरांडी, 7. गंगोत्री कुजूर, 8. रामकुमार पाहन, 9. लक्ष्मण टुडू, 10.  शिवशंकर उरांव, 11. रघुवर दास, 12. दिनेश उरांव, 13. सीपी सिंह, 14. राधाकृष्ण किशोर, 15. अशोक कुमार, 16. रामचंद्र चंद्रवंशी, 17. नारायण दास, 18. योगश्वर महतो बाटुल, 19. फूलचंद मंडल, 20. डॉ जीतू चरण राम, 21. नागेंद्र महतो, 22. जयप्रकाश भोक्ता, 23. जयप्रकाश वर्मा, 24. साधु चरण महतो, 25. सत्येंद्र नाथ तिवारी, 26. आलोक चौरसिया, 27. गणेश गंझू़ 

सोंथालिया को जिन्होंने वोट दिये (पहली प्राथमिकता)

1. अमर बाउरी 2़   लुइस मरांडी 3़   अनंत ओझा 4़  रणधीर सिंह, 5़   जानकी यादव 6़  विरंची नारायण 7़  नीरा यादव 8़  राजकिशोर महतो 9़  रामचंद्र सहिस 10़  विकास मुंडा 11़  भानु प्रताप शाही, 12. गीता कोड़ा, 13. एनोस एक्का, 14.  नीलकंठ सिंह मुंडा, 15. राज पलिवार, 16. अमित मंडल, 17.   मनीष जायसवाल, 18. केदार हाजरा, 19. निर्भय शाहबादी, 20. राज सिन्हा, 21. संजीव सिंह, 22. ढुल्लू महतो, 23. नवीन जायसवाल़

दूसरी प्राथमिकता : सोंथालिया को तीन वोट मिले़ 

विपक्ष के उम्मीदवार धीरज साहू को वोट मिले

झामुमो के 18 विधायक

कांग्रेस के 07 विधायक

झाविमो के 01 विधायक

कुल : 26  

माले विधायक राजकुमार यादव, शिवपूजन का वोट रद्द़

 यूट्यूब चैनल सब्सक्राइब करें

हस्तक्षेप से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें
facebook फेसबुक पर फॉलो करे.
और
facebook ट्विटर पर फॉलो करे.
"हस्तक्षेप"पाठकों-मित्रों के सहयोग से संचालित होता है। छोटी सी राशि से हस्तक्षेप के संचालन में योगदान दें।