लखनऊ : थाना सरोजिनीनगर के पास सामाजिक कार्यकर्ता के साथ मारपीट

लखनऊ : थाना सरोजिनीनगर के पास सामाजिक कार्यकर्ता के साथ मारपीट...

लखनऊ : थाना सरोजिनीनगर के पास सामाजिक कार्यकर्ता के साथ मारपीट

लखनऊ! ह्यूमन राईटस मानिटरिंग फोरम के सचिव अमित ने फोरम के साथ जुड़कर लखनऊ शहर में जागरूकता अभियान चलाने वाले सुरेश भारती और मजदूरों पर सरोजिनीनगर सैनिक स्कूल के लोगों द्वारा लाठियों और डंडों से मारने की घटना की निंदा करते हुए कहा कि सामाजिक कार्यकर्ताओं के साथ मारपीट की घटना और पुलिस द्वारा आरोपियों को बचाना बेहद शर्मनाक है। उन्होंने कहा कि इस तरह की घटनाओं से आम जन का विश्वास पुलिस से उठता जा रहा हैं!

सामाजिक कार्यकर्ता और फोरम के सदस्य सुरेश ने कहा कि कल सुबह 8 बजे वह सरोजिनीनगर लेबर मंडी पहुचकर मजदूरों को उनके अधिकारों के बारे में जागरुक कर रहे थे तभी सरोजिनीनगर सैनिक स्कूल के के 6-7 लोग हाथ में लाठी और डंडे लेकर गालियाँ देते हुए दौड़कर आये और मजदूरों सहित उनको माँ बहन की गन्दी-गन्दी गालिया देते हुए लाठियों और डंडों से मारने लगे, जिसकी शिकायत उन्होंने मजदूरों के साथ थाना सरोजिनीनगर में किया और आरोपियों की विडियो भी दिखाया कि पिछले एक सप्ताह से मजदूर जब सुबह-सुबह लेबर अड्डे पर पहुचते हैं तभी सैनिक स्कूल के लोग लाठी डंडा लेकर आते हैं और गालियां देते हुए दौड़ा-दौड़कर मारते पीटते हैं और मजदूरों को लेबर अड्डे पर खड़े नहीं होने देते।

उन्होंने कहा कि शिकायात के बावजूद पुलिस कार्यवाही करने के बजाय उन्हीं पर दबाव बनाने लगीं और सरोजिनीनगर थाने से हाइडिल चौकी का चक्कर लगवाती रही, लेकिन आरोपियों के खिलाफ कोई कार्यवाही नहीं किया। उन्होंने ये भी कहा कि यदि आरोपियों के खिलाफ मुकदमा और दो दिन में गिरफ्तारी नहीं हुई तो फोरम आरोपियों के साथ-साथ आरोपियों को बचाने वाले पुलिसकर्मियों के खिलाफ कार्यवाही के लिए आवाज उठाएगा।

हस्तक्षेप से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें
facebook फेसबुक पर फॉलो करे.
और
facebook ट्विटर पर फॉलो करे.
"हस्तक्षेप"पाठकों-मित्रों के सहयोग से संचालित होता है। छोटी सी राशि से हस्तक्षेप के संचालन में योगदान दें।