महादेवा में रासुका के तहत की गई कार्रवाई राजनीतिक, रिहाई मंच जिलाधिकारी बाराबंकी से करेगा मुलाकात

महादेवा में रासुका के तहत की गई कार्रवाई राजनीतिक, रिहाई मंच जिलाधिकारी बाराबंकी से करेगा मुलाकात...

लखनऊ/बाराबंकी 9 जून 2018। महादेवा, बाराबंकी में मुस्लिम समुदाय के चार व्यक्तियों पर लगाए गए रासुका को हटाए जाने को लेकर एक प्रतिनिधिमंडल 11 जून 2018 को जिलाधिकारी बाराबंकी से मुलाकात करेगा। सूबे में वंचित समाज पर थोपे जा रहे रासुका के खिलाफ चलाए जा रहे अभियान के तहत यह मुलाकात तय की गई है।

रिहाई मंच द्वारा जारी विज्ञप्ति में कहा गया है कि इस मुलाकात के लिए बारांबकी के वरिष्ठ अधिवक्ता रणधीर सिंह सुमन ने जिलाधिकारी से वक्त लिया है। प्रतिनिधि मंडल में रिहाई मंच अध्यक्ष मुहम्मद शुऐब, पूर्व आईजी एसआर दारापुरी, अरुन्धती धुरु, एडवोकेट रणधीर सिंह सुमन, सृजनयोगी आदियोग, अनिल यादव, राबिन वर्मा, राजीव यादव के अलावां पीड़ित परिवार के सदस्य भी शामिल रहेंगे। रासुका के तहत निरुद्ध किए गए चार नौजवान रिजवान उर्फ चुप्पी, जुबैर, अतीक, मुमताज की रिहाई और रासुका जैसे कानूनों के राजनीतिक इस्तेमाल को रोकने को लेकर जिलाधिकारी से प्रतिनिधि मंडल मुलाकात करेगा।

गौरतलब है कि पिछली 14 मार्च को महादेवा में गुलाल फेंकने के बाद कहा सुनी हुई और जो बाद में दो समुदायों के बीच मारपीट में बदल गई। इसके बाद मुस्लिम समुदाय के 12 लोगों की गिरफ्तारी हुई और 20 मार्च को उनमें से चार को राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (रासुका) के तहत निरुद्ध कर दिया गया।

हस्तक्षेप से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें
facebook फेसबुक पर फॉलो करे.
और
facebook ट्विटर पर फॉलो करे.
"हस्तक्षेप"पाठकों-मित्रों के सहयोग से संचालित होता है। छोटी सी राशि से हस्तक्षेप के संचालन में योगदान दें।