सुधीर चौधरी ने दिखाई मोदी भक्ति, ट्टविर पर मनीष तिवारी से लट्ठम-लट्ठा

हाइलाइट्स

बता दें, सुधीर चौधरी सोशल मीडिया में अक्सर ट्रोल होते रहते हैं और लोग उन्हें तिहाड़ी पत्रकार कहते हैं। हाल ही में ब्रॉडकास्टर्स की स्वनियमन संस्था ने उन के कार्यक्रम अफजल प्रेमी गैंग में शायर गौहर रज़ा की मानहानि करने के कारण दण्ड भी लगाया था।

सुभाष चंद्रा के स्वामित्व वाले जी न्यूज के एंकर सुधीर चौधरी और पूर्व सूचना एवं प्रसारण मंत्री व कांग्रेस नेता मनीष तिवारी ट्विटर पर भिड़ गए।

दरअसल, सबसे पहले सुधीर चौधरी ने एक बार फिर अपनी मोदी भक्ति का परिचय देते हुए मनीष तिवारी का वह बयान शेयर किया जिसमें उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से जुड़ी एक बात पर कथित तौर पर अपमानजनक टिप्पणी की थी। सुधीर ने उस ट्वीट के साथ लिखा असभ्य भाषा का इस्तेमाल कर रहे ये व्यक्ति संप्रग के शासन में सूचना एंव प्रसारण मंत्री थे। इन्होंने जी न्यूज का लाइसेंस कैंसल करवाने की तब तक पूरी कोशिश की जब तक कि सुप्रीम कोर्ट बीच में नहीं आया।

इस पर मनीष तिवारी ने सुधीर चौधरी की नस पर दबाव देते हुए लिख दिया यह झूठ है। इस व्यक्ति को दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था। इनके मालिक किसी जानकार की सिफारिश के बाद मुझसे मिलने आए थे। वे सच्चाई जानते थे।

इस पर सुधीर चौधरी ने जवाब दिया कि यूपीए की सरकार और एक भ्रष्ट बिजनेसमैन (तब के सांसद) के हाथ कोयला घोटाले में लिप्त थे। कांग्रेस अपने आप को बचाने के लिए ऐसी बातें करने लगी।

सुधीर चौधरी ने आगे लिखा कि मनीष तिवारी भी उसमें शामिल थे। सुधीर ने कहा कि वह वक्त लोकतंत्र के काले दिनों में से एक था जब कांग्रेस कोयला घोटला में शामिल लोगों को बचाने के लिए जी न्यूज पर दवाब बना रही थी।

सुधीर चौधरी ने मनीष तिवारी को ‘हरीश चंद्र’ कहकर तंज भी मारा।

सुधीर चौधरी ने आगे लिखा कि कांग्रेस की पूरी सरकार उनके साथी को बचाने के लिए अपनी शक्ति का इस्तेमाल कर रही थी।

अंत में सुधीर चौधरी ने लिखा मनीष तिवारी क्या आप यह बता सकते हैं कि आपका मालिक कौन है? क्या आप देश के सामने उसका नाम बोल सकते हैं?

बाद में मनीष तिवारी ने कुछ फैक्ट्स के साथ ताबड़तोड़ ट्वीट किए तोसुधीर चौधरी गायब हो गए।

बता दें, सुधीर चौधरी सोशल मीडिया में अक्सर ट्रोल होते रहते हैं और लोग उन्हें तिहाड़ी पत्रकार कहते हैं। हाल ही में ब्रॉडकास्टर्स की स्वनियमन संस्था ने उन के कार्यक्रमअफजल प्रेमी गैंग में शायर गौहर रज़ा की मानहानि करने के कारण दण्ड भी लगाया था।

हस्तक्षेप से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें
facebook फेसबुक पर फॉलो करे.
और
facebook ट्विटर पर फॉलो करे.
"हस्तक्षेप"पाठकों-मित्रों के सहयोग से संचालित होता है। छोटी सी राशि से हस्तक्षेप के संचालन में योगदान दें।