विज्ञापन पर मोदी सरकार 4,800 करोड़ खर्च करती है और केरल के बाढ़ पीड़ितों के लिए सिर्फ 320 करोड़

विज्ञापन पर मोदी सरकार 4,800 करोड़ खर्च करती है और केरल के बाढ़ पीड़ितों के लिए सिर्फ 320 करोड़...

विज्ञापन पर मोदी सरकार 4,800 करोड़ खर्च करती है और केरल के बाढ़ पीड़ितों के लिए सिर्फ 320 करोड़

Modi Govt. spends Rs 4,800 Crore on advertisements, But has only Rs 320 Crore for Kerala flood victims

नई दिल्ली, 18 अगस्त। भारत की कम्युनिस्ट पार्टी (मार्क्सवादी) और कांग्रेस ने बाढ़ पीड़ित केरल की समयोचित सहायता नहीं करने के लिए केंद्र सरकार की तीकी आलोचना की है।

माकपा महासचिव सीताराम येचुरी ने एक खबर का लिंक (जिसमें कहा गया है कि विज्ञापन पर मोदी सरकार 4,800 करोड़ खर्च करती है और केरल के बाढ़ पीड़ितों के लिए सिर्फ 320 करोड़) शेयर करते हुए कहा कि निश्चित रूप से, केरल के लोगों की मदद करने के लिए केंद्र सरकार के लिए धन कोई बाधा नहीं है।

उन्होंने कहा कि कम से कम अब मोदी को नुकसान के पैमाने का एहसास होना चाहिए और इसे राष्ट्रीय आपदा के रूप में घोषित करना चाहिए।

उधर कांग्रेस ने भी कहा कि

“केंद्र सरकार युद्ध स्तर पर केरल के लोगों की मदद क्यों नहीं कर रही?

एक-एक पल की देरी भीषण बाढ़ से जूझ रहे लोगों के जीवन पर खतरा बढ़ा रही है!”

हस्तक्षेप से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें
facebook फेसबुक पर फॉलो करे.
और
facebook ट्विटर पर फॉलो करे.
"हस्तक्षेप"पाठकों-मित्रों के सहयोग से संचालित होता है। छोटी सी राशि से हस्तक्षेप के संचालन में योगदान दें।