योगी आदित्‍यनाथ का दावा : खत्‍म करेंगे अपराधियों का व्‍यवसायीकरण और तबादलों का उद्योगीकरण -

मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने विधानसभा सत्र के आखिरी दिन जहां विपक्ष पर जमकर प्रहार किया, वहीं अपनी सरकार के कामकाज की चर्चा करते हुए अपराधियों और कानून व्‍यवस्‍था बिगाड़ने वालों को कड़ी चेतावनी भी ...

विधानसभा सदन में बोले मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ

लखनऊ, 19 मई: मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने विधानसभा सत्र के आखिरी दिन जहां विपक्ष पर जमकर प्रहार किया, वहीं अपनी सरकार के कामकाज की चर्चा करते हुए अपराधियों और कानून व्‍यवस्‍था बिगाड़ने वालों को कड़ी चेतावनी भी दी।

योगी ने कहा कि उत्‍तर प्रदेश में जातीयकरण, अपराधियों का व्यवसायीकरण और तबादलों का उद्योगीकरण खत्म होगा।

मुख्यमंत्री ने शुरुआत सदन में विपक्ष के आचरण पर अंगुलियां उठाते हुए की। उन्होंने कहा कि बीते 4 दिन में कई सुझाव मिले हैं। मैंने जीवन में पहली बार सदन में सदस्यों को सीटी बजाते देखा। सीटी दो ही लोग बजाते हैं- एक तो ट्रैफिक पुलिस और दूसरे वो जिसके लिए हमने एंटी रोमियो स्क्वॉड बनाया। यह सरकार भाजपा और सहयोगी दलों की है, किसी मजहब या जाति विशेष की नहीं है। जिन लोगों ने 5 साल और 10 साल तक यूपी में शासन किया, वह हमसे दो महीने में 100 साल का हिसाब मांग रहे हैं। उन्होंने कहा कि हम तय कर चुके हैं कि प्रदेश में न अपराध की जगह होगी, न ही अपराधियों के संरक्षण की। अगर किसी ने गरीब, व्यापारी या किसी का भी उत्पीड़न क‍िया तो उसे अपने भविष्य के बारे में सोचना होगा।

विपक्ष पर हमलावर योगी ने तंज कसा। उन्होंने कहा उसी तरह कुछ लोग तो सदन में भी कर सकते हैं। लोग इसी को स्वतंत्रता मानते हैं। इसी मानसिकता को बदलने की जरूरत है।' सरकार ने सर्वांगीण विकास और सुशासन की बात कही है। बीते दो महीने में सरकार ने कुछ काम करने की कोशिश की है। दो महीने का कार्यकाल ज्यादा नहीं है, लेकिन ये सपा और बसपा के कार्यकाल पर भारी पड़ता दिखाई देता है।

मुख्‍यमंत्री ने कहा कि हमारे प्रदेश से कई नदियां बहती हैं। फिर भी हमारा किसान आत्महत्या करता है, इसलिए भाजपा सरकार ने सबसे किसानों के लिए फसली ऋण माफ करने का फैसला लिया। इसे टैक्स से हम नहीं वसूलेंगे। ये हम अपने खर्चों को सीमित कर पूरा करेंगे। हम किसानों से फसलों का क्रय खुद करेंगे। अब तक 3 हजार करोड़ का भुगतान कर चुके हैं। चीनी मिलें औने-पौने दामों में बेच दी गईं। गन्ना किसानों का अब तक 21 लाख 570 करोड़ का भुगतान करवा चुके हैं, जो पिछले साल की तुलना में दोगुना है। ये 15 जून तक चलेगा।

योगी ने कहा कि पहली बार आलू किसानों के लिए योजना लाए हैं। सरकार ने तय किया कि अगर आलू का दाम उसे नहीं मिल पाया तो हम खरीदेंगे। 1 लाख मीट्रिक टन खरीद का लक्ष्य रखा है।

 योगी ने सपा नेता और के प्रतिपक्ष के नेता रामगोविंद चौधरी से कहा कि आप लखनऊ में रहते हैं, लेकिन अब आप जिलों में जाएंगे तो 24 घंटे बिजली मिलेगी। जब पहले मैं हवाईजहाज से यात्रा करता था तो जहां से अंधेरा शुरू होता था, पता चल जाता था कि यूपी आ गया है। अब सेशन शुरू होने से पहले मैंने हेलिकॉप्टर से रात में यात्रा की तो गांव में बिजली जलती मिली। प्रदेश में जो भी विकास के काम होंगे, उसकी ई-टेंडरिंग होगी। अभी कोर्ट ने खनन पर रोक लगाई थी, जिससे विकास कार्य प्रभावित हो रहा था। हमने प्रस्ताव मांगा है। प्रदेश को जितना राजस्‍व मिलता था, उतना खनन मंत्री अकेले कमा लेता था। अब राजस्‍व बढ़ेगा। महापुरुषों को जातीय दायरे में बांट दिया गया था। हमने छुट्टियां रद्द कीं। अब स्कूलों में उन महापुरुषों के बारे में जानकारी दी जाएगी। इन छुट्टियों के रद्द होने की वजह से 50 हजार करोड़ का राजस्‍व हम देने जा रहे हैं। हम गड्ढा मुक्त सड़क 15 जून तक देंगे। हमें गड्ढा युक्त सरकार विरासत में मिली थी।

दिव्यांगों की पेंशन 300 से बढ़ाकर 900 की है। 9 लाख दिव्यांगों को फायदा मिलेगा। 2014 में केंद्र सरकार 150 एम्बुलेंस प्रदेश को देना चाहती थी, लेकिन पिछली सरकार ने लेने से मना कर दिया। अब हमने उसे लिया है। हमने एंटी रोमियो स्क्वॉड का गठन किया। हमने 1 लाख 74 हजार 434 मामले पकड़े। इन्हें जेल भेजने की जगह इनके पेरेंट्स को सौंपा गया। हमने 6 लाख 48 हजार 990 जगह पर चेकिंग की। 1 हजार 61 लोगों के खिलाफ कार्रवाई की।

मुख्‍यमंत्री ने कहा कि फरवरी 2017 में एनजीटी ने अवैध बूचड़खानों को लेकर निर्देश जारी किया था, लेकिन कुछ नहीं हुआ। हमने कहा कि जो कानून का पालन करेगा, वही काम करेगा। बूचड़खाने नियम का पालन करेंगे। मथुरा की जवाहरबाग की घटना से देशभर में यूपी की बदनामी हुई। इसके लिए एंटी भू-माफिया स्क्वॉड का गठन किया गया है। हमारे यहां कृषि यूनिवर्सिटी है, लेकिन कोई टेक्नोलॉजी देने में सक्षम नहीं थे। हमने तय किया है कि जितने भी प्रदेश में कृषि विज्ञान केंद्र संचालित हो रहे हैं, कृषि यूनिवर्सिटी उन्हें फाइनेंशियल पावर दे। हमने 20 कृषि विज्ञान केंद्र खोलने का निर्देश दिया है। गंगा और यमुना नदी खत्म होगी तो हमारी संस्कृति मरेगी। 2019 में अर्धकुंभ का आयोजन प्रयाग में होगा। हम अभी से तैयारी कर रहे हैं। हम चाहते हैं कि तब तक गंगा की अविरल धारा वहां पर बहे।

31 दिसंबर तक 30 जिलों को खुले में शौच से मुक्त करेंगे। 1685 गांव खुले में शौच से मुक्त कर चुके हैं। ये सिर्फ जनसहयोग से होगा। गरीब के बच्चों को होमगार्ड की यूनिफॉर्म पहना दी गई। दया आती है। हमने कॉन्वेंट स्कूल की तर्ज पर ड्रेस तय किया है। जूता भी देंगे, बैग भी देंगे और आने वाले समय में बदले कोर्स के साथ बच्चा पढ़ेगा।

मुख्यमंत्री ने कहा आबकारी विभाग में सपा सरकार पहली सरकार है, जो जाने से पहले ही दो साल बाद का ठेका भी दी गई। हमने तय किया है कि अब स्टेट हाइवे पर भी शराब की दुकानें नहीं खुलेंगी। किसी भी धर्मस्थल, स्कूल के आसपास दुकाने नहीं खुलेंगी, लेकिन राजस्‍व के लिए योजना है।

सदन में नेता प्रतिपक्ष रामगोविंद चौधरी ने सरकार के कामकाज पर सवाल उठाए और कानून व्‍यवस्‍था के पहलू पर सरकार को फेल बताया। आखिरी में शाम करीब छह बजे विधानसभा अध्‍यक्ष हृदयनारायण दीक्षित ने सदन को अनिश्‍चितकालीन समय के लिए स्‍थगित किए जाने की घोषणा कर दी।

हस्तक्षेप से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें
facebook फेसबुक पर फॉलो करे.
और
facebook ट्विटर पर फॉलो करे.
"हस्तक्षेप"पाठकों-मित्रों के सहयोग से संचालित होता है। छोटी सी राशि से हस्तक्षेप के संचालन में योगदान दें।