#BhimaKoregaonViolence : 60 घंटे बाद भी हिन्दुत्ववादी अपराधी बाहर, वागले ने फडनवीस से पूछा कौन बचा रहा है

निखिल वागले के इस ट्वीट पर हिन्दुत्ववादी झुण्ड टूट पड़ा और उन्हें ट्रोल किया जाने लगा। एक व्यक्ति ने लिखा–“निखिल तुम जैसे पत्रकार की खाल में छिपे वामपंथी+ कांग्रेसी टट्टू के ट्वीट पढ़कर हंसी आती है"...

#BhimaKoregaonViolence : 60 घंटे बाद भी हिन्दुत्ववादी अपराधी बाहर, वागले ने फडनवीस से पूछा कौन बचा रहा है

नई दिल्ली 04 जनवरी। सांप्रदायिक ताकतों के खिलाफ महाराष्ट्र में बुलन्द आवाज़ वरिष्ठ पत्रकार निखिल वागले ने भीमा कोरेगांव हिंसा के अपराधियों को सरकारी संरक्षण प्राप्त होने का आरोप लगाया है।

निखिल वागले ने आज सुबह- सुबह माइक्रो ब्लॉगिंग साइट ट्विटर पर लिखा -

60 घंटे से अधिक का समय बीत चुका है, लेकिन #BhimaKoregaonViolence के अपराधियों को गिरफ्तार नहीं किया गया है। अतिवादी हिंदुत्ववादी नेता संभाजी उर्फ मनोहर भिडे और मिलिंद एकबोटे पर दंगे और उत्पीड़न को उकसाने का आरोप है। वे स्वतंत्र क्यों घूम रहे हैं? प्रिय, देवेंद्र फडनवीस, उनकी रक्षा कौन कर रहा है?

निखिल वागले के इस ट्वीट पर हिन्दुत्ववादी झुण्ड टूट पड़ा और उन्हें ट्रोल किया जाने लगा। एक व्यक्ति ने लिखा –

“निखिल तुम जैसे पत्रकार की खाल में छिपे वामपंथी+ कांग्रेसी टट्टू के ट्वीट पढ़कर हंसी आती है| यह सार्वभौम है कि दंगे के गद्दार खालिद और मानसिक कुण्ठित दिव्यांग, जिग्नेश के हिन्दू विरोधी बयानों के कारण हुए|

    पत्रकार का मुखौटा पहने हो कभी तो सच लिखा करो......”

इसके बाद निखिल वागले ने एक और ट्वीट करके भक्तों से कहा,

"प्रिय भक्तों, पिछले 4 दिनों सेआपने मुझे जी भरके गालियां दीं। मेरे विरुद्ध पुलिस कार्रवाई की धमकी दी। आप जो चाहें करने के लिए स्वतंत्र हैं। अंततः यह आपकी सरकार है। लिकिन आप मुझे जेल में भी डाल देंगे तब भी मैं अपना काम करता रहूँगा।

Not to mention: without fear or favour"



 

हस्तक्षेप से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें
facebook फेसबुक पर फॉलो करे.
और
facebook ट्विटर पर फॉलो करे.
"हस्तक्षेप"पाठकों-मित्रों के सहयोग से संचालित होता है। छोटी सी राशि से हस्तक्षेप के संचालन में योगदान दें।