नोटबंदी : 22 महीने बाद चौराहा चुना आपने, मोदी जी?

“मैंने देश से सिर्फ 50 दिन मांगे हैं.. उसके बाद अगर मेरी कोई गलती निकल जाए,गलत इरादे निकल जाए,कोई कमी रह जाए तो जिस चौराहे पर खड़ा करेंगे खड़ा होकर, देश जो सजा देगा उसे भुगतने के लिए तैयार हूं।”...

नोटबंदी : 22 महीने बाद चौराहा चुना आपने, मोदी जी?

नई दिल्ली, 30 अगस्त। भारतीय रिज़र्व बैंक (आरबीआई) की तरफ से बुधवार को जारी रपट का यदि सही अर्थ निकाला जाए तो नोटबंदी 70 साल में सबसे बड़ा घोटाला है।

रपट के अनुसार, विमुद्रित मुद्रा में से 10,700 करोड़ रुपये वापस बैंकिंग प्रणाली में नहीं लौटे हैं।

अब आरबीआई की इसी रपट को आधार बनाते हुए विपक्ष पीएम मोदी पर हमलावर है। कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने आरबीआई की रपट की खबर का चित्र शेयर करते हुए ट्वीट किया

“मैंने देश से सिर्फ 50 दिन मांगे हैं.. उसके बाद अगर मेरी कोई गलती निकल जाए,गलत इरादे निकल जाए,कोई कमी रह जाए तो जिस चौराहे पर खड़ा करेंगे खड़ा होकर, देश जो सजा देगा उसे भुगतने के लिए तैयार हूं।”

- नोटबंदी पर श्री नरेन्द्र मोदी

22 महीने बाद चौराहा चुना आपने, मोदी जी?”

बता दें अब भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने घोषणा कर दी है कि आठ नवंबर, 2016 को नोटबंदी के जरिए चलन से बाहर किए गए 15.42 लाख करोड़ रुपये में से 99 प्रतिशत से अधिक शीर्ष बैंक के पास वापस आ गए हैं।



हस्तक्षेप से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें
facebook फेसबुक पर फॉलो करे.
और
facebook ट्विटर पर फॉलो करे.
"हस्तक्षेप"पाठकों-मित्रों के सहयोग से संचालित होता है। छोटी सी राशि से हस्तक्षेप के संचालन में योगदान दें।