खुले में शौच करने वाली महिलाओं का वीडियो बनाने का विरोध करने पर हत्या : राष्ट्रव्यापी विरोध

खुले में शौच करने वाली महिलाओं का वीडियो बनाने का विरोध करने पर भाकपा (माले) कार्यकर्ता की हत्या की निंदा, 19-20 को राष्ट्रव्यापी विरोध...

खुले में शौच करने वाली महिलाओं का वीडियो बनाने का विरोध करने पर भाकपा (माले) कार्यकर्ता की हत्या की निंदा, 19-20 को राष्ट्रव्यापी विरोध

लखनऊ, 18 जून। भारत की कम्युनिस्ट पार्टी (माले) की राज्य इकाई ने राजस्थान के प्रतापगढ़ जिले में स्वच्छता अभियान लागू करने की आड़ में खुले में शौच करने वाली महिलाओं का नगरपालिका कर्मियों द्वारा वीडियो बनाने का विरोध करने वाले पार्टी कार्यकर्ता जफर हुसैन की कर्मियों द्वारा पीट-पीट कर की गई हत्या की कड़ी निंदा की है।

पार्टी ने जघन्य हत्याकांड के खिलाफ और दोषियों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर 19-20 जून को राष्ट्रव्यापी विरोध प्रदर्शन का आह्वान किया है।

यह जानकारी देते हुए पार्टी राज्य स्थायी समिति सदस्य अरुण कुमार ने आज यहां बताया कि दिवंगत जफर हुसैन भाकपा (माले) की प्रतापगढ़ जिला कमेटी और अखिल भारतीय निर्माण मजदूर फेडरेशन की राष्ट्रीय कार्यकारिणी के सदस्य थे। कुछ दिन पहले ही कामरेड जफर ने खुले में शौच जाने वाली महिलाओं को सार्वजनिक रूप से अपमानित करने और उनके साथ जबर्दस्ती करने के अभियान के खिलाफ नगरपालिका को एक ज्ञापन दिया था। उन्हें 16 जून को पालिका कमिश्नर के उकसावे पर उस समय पीट-पीट कर मार डाला गया, जब वे वीडियो बनाने का विरोध कर रहे थे।

हस्तक्षेप से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें
facebook फेसबुक पर फॉलो करे.
और
facebook ट्विटर पर फॉलो करे.
"हस्तक्षेप"पाठकों-मित्रों के सहयोग से संचालित होता है। छोटी सी राशि से हस्तक्षेप के संचालन में योगदान दें।
क्या मौजूदा किसान आंदोलन राजनीति से प्रेरित है ?