पाटीदार नेता नरेंद्र पटेल का भाजपा पर आरोप, 'पार्टी में शामिल होने के लिए मिला एक करोड़ का ऑफर'

गुजरात : सियासत में भूचाल, हार्दिक के करीबी नरेंद्र पटेल ने भाजपा पर लगाया एक करोड़ का ऑफर देने का आरोप...

हाइलाइट्स

नरेंद्र पटेल ने ये भी बताया कि उन्हें एक करोड़ रुपये की पहली किस्त 10 लाख रुपये दी जा चुकी है, जिस वक़्त नरेंद्र मीडिया के सामने इसका खुलासा कर रहे थे उस वक्त वो 10 लाख रुपये कैश लेकर आए थे।

गुजरात : सियासत में भूचाल, हार्दिक के करीबी नरेंद्र पटेल ने भाजपा पर लगाया एक करोड़ का ऑफर देने का आरोप

नई दिल्ली। गुजरात की राजनीति में भूचाल आया हुआ है। भाजपा और कांग्रेस दोनों ने पूरा जोर लगा दिया है और इसके लिए हर तरह के हथकंडे अपनाए जाने लगे हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सारा राज-काज छोड़कर गुजरात में गली-गलीघूम रहे हैं तो कांग्रेस ने वहां विकास को पागल कर दिया है। निजी समाचार चैनल एनडीटीवी की खबर के मुताबिक एक नए घटनाक्रम में देर रात पाटीदार अनामत आंदोलन समिति के संयोजक नरेंद्र पटेल ने भाजपा पर गंभीर आरोप लगाए हैं। नरेंद्र पटेल ने कहा कि हाल ही में भाजपा में शामिल हुए वरुण पटेल ने उन्हें भाजपा में शामिल होने के लिए एक करोड़ रुपये की पेशकश की थी। मुझे पहले 10 लाख रुपये दिए जा चुके हैं। एक करोड़ क्या रिजर्व बैंक भी मुझे खरीद नहीं सकता।

खबर के मुताबिक नरेंद्र पटेल ने ये भी बताया कि उन्हें एक करोड़ रुपये की पहली किस्त 10 लाख रुपये दी जा चुकी है, जिस वक़्त नरेंद्र मीडिया के सामने इसका खुलासा कर रहे थे उस वक्त वो 10 लाख रुपये कैश लेकर आए थे।

बता दें भाजपा के नेता वरुण पटेल हाल ही में पार्टी अध्यक्ष अमित शाह की मौजूदगी में पार्टी में शामिल हुए हैं। उनके साथ रेशमा पटेल में भाजपा में शामिल हुई हैं। ये दोनों पाटीदार आंदोलन से लंबे समय से जुड़े थे। वहीं नरेंद्र पटेल पाटीदार आंदोलन के प्रमुख हार्दिक पटेल के करीबी हैं और वे मेहसाणा से आंदोलन समिति के संयोजक हैं।

कौन हैं नरेंद्र पटेल?

- पाटीदार आंदोलन के प्रमुख हार्दिक पटेल के क़रीबी

- पाटीदार आंदोलन के मेहसाणा के संयोजक

- गुजरात के बड़े ओबीसी नेताओं में से एक

खबर के मुताबिक गुजरात भाजपा के प्रवक्ता भरत पांड्या ने कहा कि ये झूठा आरोप लगाया गया है। कांग्रेस के कहने पर नरेंद्र पटेल ने यह ड्रामा किया है। पहले भाजपा में आने की बात कही और फिर यू-टर्न ले लिया।

हस्तक्षेप से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें
facebook फेसबुक पर फॉलो करे.
और
facebook ट्विटर पर फॉलो करे.
"हस्तक्षेप"पाठकों-मित्रों के सहयोग से संचालित होता है। छोटी सी राशि से हस्तक्षेप के संचालन में योगदान दें।