ओमान चांडी की बढ़ी मुश्किलें : सोलर घोटाला मामले में होगी जांच

न्यायमूर्ति (सेवानिवृत्त) जी. शिवराजन द्वारा सितंबर में पेश की गई सौर घोटाला आयोग की रिपोर्ट की सिफारिशों के आधार पर मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन ने कैबिनेट की साप्ताहिक बैठक के बाद इसकी घोषणा की।...

नई दिल्ली, 11 अक्टूबर। 70 लाख रुपये के सोलर घोटाला मामले में केरल के पूर्व मुख्यमंत्री ओमान चांडी और अन्य लोगों के खिलाफ आपराधिक जांच शुरू होगी। इस आशय का फैसला केरल सरकार ने किया है।

वर्ष 2013 में सामने आए इस मामले में चांडी के अलावा उनके कैबिनेट सहयोगियों थिरुवंचूर राधाकृष्णन, आर्यदन मोहम्मद और पूर्व कांग्रेस विधायक थंपनूर रवि और बेनी बेहानान की भी जांच होगी।

न्यायमूर्ति (सेवानिवृत्त) जी. शिवराजन द्वारा सितंबर में पेश की गई सौर घोटाला आयोग की रिपोर्ट की सिफारिशों के आधार पर मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन ने कैबिनेट की साप्ताहिक बैठक के बाद इसकी घोषणा की।

मुख्यमंत्री पिनाराई विजयन के अनुसार घोटाले में आपराधिक मामला दर्ज किया जाएगा और भ्रष्टाचार विरोधी कानून के तहत नई जांच की जाएगी।

हस्तक्षेप से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें
facebook फेसबुक पर फॉलो करे.
और
facebook ट्विटर पर फॉलो करे.
"हस्तक्षेप"पाठकों-मित्रों के सहयोग से संचालित होता है। छोटी सी राशि से हस्तक्षेप के संचालन में योगदान दें।