येचुरी ने प्रणबदा के भाषण में महात्मा गांधी की हत्या का जिक्र नहीं होने पर उठाए सवाल

येचुरी ने प्रणबदा के भाषण में महात्मा गांधी की हत्या का जिक्र नहीं होने पर उठाए सवाल...

येचुरी ने प्रणबदा के भाषण में महात्मा गांधी की हत्या का जिक्र नहीं होने पर उठाए सवाल

नई दिल्ली, 8 जून। मार्क्‍सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) के महासचिव सीताराम येचुरी ने कहा है कि उन्हें यह बात बहुत खली कि पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने आरएसएस मुख्यालय में गुरुवार को दिए अपने भाषण में महात्मा गांधी की हत्या का कोई जिक्र नहीं किया। उन्होंने मीडिया से कहा कि मुखर्जी ने बहुलवाद और बहु-आस्था पर जो कुछ बोला, वे सब बातें लोग भूल जाएंगे, लोगों की स्मृति में बस यही रहेगा कि वह आरएसएस मुख्यालय गए थे।

येचुरी ने कहा,

"प्रणब दा की बेटी ने बिल्कुल सही कहा है। दृश्य याद रहेंगे, भाषण भुला दिए जाएंगे।"

माकपा के नेता ने यह भी कहा कि आजादी के आंदोलन में आरएसएस की कोई भूमिका नहीं थी।

एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि यदि उन्हें निमंत्रण आया होता तो वह आरएसएस मुख्यालय जाना कभी स्वीकार नहीं करते।

यह भी पढ़ें 

जीवन के आखिरी पड़ाव में संघ शरणागत हुए प्रणब मुखर्जी, हेडगेवार को बताया “भारत मां के सपूत”

बूढ़े पिता प्रणब मुखर्जी के नागपुर प्रणाम पर बेटी शर्मिष्ठा ने उठाए सवाल

संघ के घर में प्रणब मुखर्जी ने संघ प्रमुख सहित स्वयंसेवकों को पढ़ाया राष्‍ट्र, राष्‍ट्रवाद, देशभक्‍ति, गाँधी और नेहरू का पाठ

प्रणब दा ! क्या आरएसएस अपनी भारत विरोधी हिन्दू राष्ट्रवादी विचारधारा को त्याग सकता है?

Related - 

Sonia Gandhi was upset when pranab Mukherjee praises Modi

Why congress object to pranab Mukherjee meet rss

हस्तक्षेप से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें
facebook फेसबुक पर फॉलो करे.
और
facebook ट्विटर पर फॉलो करे.
"हस्तक्षेप"पाठकों-मित्रों के सहयोग से संचालित होता है। छोटी सी राशि से हस्तक्षेप के संचालन में योगदान दें।