पैंथर्स सुप्रीमो की मुख्यमंत्री चन्द्रबाबू नायडू से एक सोच रखनी वाली राजनीतिक पार्टियों की बैठक बुलाने की अपील

नेशनल पैंथर्स पार्टी के मुख्य संरक्षक, सुप्रीम कोर्ट के वरिष्ठ अधिवक्ता एवं प्रसिद्ध मानवाधिकार कार्यकर्ता प्रो.भीमसिंह ने आज आंध्र पदेश के मुख्यमंत्री श्री चंद्रबाबू नायडू से उनके अमरावती में नए बने सचिवालय कार्यालय में बैठक करके उन्हें फूलों का गुलदस्ता भेंट किया।

प्रो.भीमसिंह ने तेलुगू देशम पार्टी के प्रमुख और आंध्र पदेश के मुख्यमंत्री श्री चंद्रबाबू नायडू पर जोर दिया कि वे एक सोच रखनी वाली धर्मनिरपेक्ष राजनीतिक पार्टियों, विशेषकर क्षेत्रीय पार्टियों की बैठक बुलाएं, जिससे राष्ट्रीय एवं धर्मनिरपेक्ष एकता को मजबूती प्रदान करने के संयुक्त एजेंडे पर मिलकर काम किया जा सके तथा दुनिया में शांति और खुशहाली के लिए अंतर्राष्ट्रीय समझ स्थापित की जा सके। उन्होंने श्री चंद्रबाबू नायडू को विश्वास दिलाया कि पैंथर्स पार्टी कन्याकुमारी से कश्मीर तक पूरे देश की एकता और पूरे देश का एक राष्ट्रीय ध्वज और एक संविधान के मिशन में पूर्ण दृढ़ संकल्प के साथ उनका साथ देगी, जिससे सभी भारतीय नागरिकों को भारतीय संविधान में दिये गये मौलिक अधिकार मिल सकें, जिनसे जम्मू-कश्मीर में रहने वाले भारतीय नागरिक 1950 से आज तक वंचित हैं।

टीडीपी सुप्रीमो श्री चंद्रबाबू नायडू ने उन्हें आश्वासन दिया कि वे इस सम्बंध में हरेक पहलू पर विचार करेंगे।

इससे पहले सुबह में प्रो.भीमसिंह ने ऑल इंडिया लॉयर्स यूनियन की गंजूर, आंध्र प्रदेश में आयोजित एक सम्मेलन को सम्बोधित किया।

ऑल इंडिया लॉयर्स यूनियन ने प्रशासनिक न्याय और सुप्रीम कोर्ट की वर्तमान स्थिति पर एक सम्मेलन का आयोजन किया था। सम्मेलन को संबोधित करने वाले अन्य लोगों में आंध्र प्रदेश पूर्व न्यायाधीश के.जी. शंकर, ऑल इंडिया लॉयर्स यूनियन के महासचिव श्री एस.एस. नरासरीवसासा राव, प्रो. रंगया, डी.एम. वारा प्रसाद, ऑल इंडिया लॉयर्स यूनियन के अध्यक्ष राजेन्द्र प्रसाद एवं के.एस. लक्षमणाराव शामिल थे।

हस्तक्षेप से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें
facebook फेसबुक पर फॉलो करे.
और
facebook ट्विटर पर फॉलो करे.
"हस्तक्षेप"पाठकों-मित्रों के सहयोग से संचालित होता है। छोटी सी राशि से हस्तक्षेप के संचालन में योगदान दें।